बुरी आदतों से छुटकारा पाने के उपाय

अपनी लाइफ में कोई परफेक्ट नहीं होता है। हम सभी में कुछ न कुछ बुरी आदतें होती हैं। लेकिन सवाल यह है कि क्या बुरी आदतों से छुटकारा पाना मुश्किल होता है? वास्तव में बुरी आदतों को जितना छोड़ने की कोशिश की जाए, यह उतना ही आपको जकड़ लेती हैं। कोई भी आदत ज्यादा दिनों तक बनी रहने से वो अच्छी नहीं मानी जाती है। एक समय के बाद व्यक्ति पर उसका बुरा असर दिखना शुरू हो जाता है। बुरी आदत का सबसे बड़ा नुकसान यह है कि इससे व्यक्ति के मान-सम्मान के साथ-साथ तन और मन को भी नुकसान होता है।

बुरी आदतों में मुंह से नाखून चबाना, किसी भी काम के लिए हमेशा देरी करना, या फालतू के कामों में पैसे खर्च करना आदि काम हो सकते हैं। हालांकि इससे फर्क नहीं पड़ता है कि आपकी बुरी आदत बड़ी है या छोटी। आखिर में आपको इससे शर्मिंदा ही होना पड़ता है। हम आपको कुछ ऐसे आसान तरीके बता रहे हैं, जिनके जरिए आपको बुरी आदतों से छुटकारा पाने में मदद मिल सकती है-

अपनी बुरी आदत का कारण जानें – सबसे पहले आपको यह समझना जरूरी है कि आपको जो बुरी आदत लगी है, उसकी जड़ क्या है? यानि सबसे पहले आपको उस जड़ को खत्म करना चाहिए। मसलन अगर आपको शराब की लत है, तो इससे बचने का बेहतर तरीका यह है कि आप बार में जाने से बचें। इसी तरह अगर आपको कूकीज खाने की लत है, तो उन्हें बाहर फेंक दें। अगर आपको ज्यादा टीवी देखने की आदत है, तो रिमोट को किसी दूसरे कमरे में छिपाकर रखें। बुरी आदतों से बचने के लिए ये आसान काम तो आप कर ही सकते हैं।

अच्छी चीजों का सहारा लें – हम आपको आपकी जिंदगी से बुरी चीजों को निकाल फेंकने की सलाह नहीं देते बल्कि आप आप उसका विकल्प चुन सकते हैं। मसलन अगर आपको तनाव में खाने की आदत है, तो आप उसकी बजाय गम या हर्बल टी ले सकते हैं, या फिर नाखून चबाने की बजाय टीवी देखें, या फिर अपने पास कुछ स्ट्रेस बॉल रखें।

विकल्प रखें – बुरी आदत से बचने का एक बेहतर तरीका यह है कि आपको जिस काम की बुरी आदत है उसके लिए एक विकल्प अपने पास रखें। उदाहरण के लिए अगर आपको सिगरेट पीने की आदत है, तो अपने हाथ में चुइंग गम रखें। इसके अलावा अगर आपको तनाव के कारण उल्टी-सीधी चीजें खाने की आदत है, तो अपने ड्रावर में हमेशा हेल्दी स्नैक्स रखें। आप हमेशा स्थिति को कंट्रोल नहीं कर सकते हैं लेकिन नुकसान देने वाली चीजों से बचने के लिए सक्रिय रूप से काम जरूर कर सकते हैं।

अपने आप को बताओ कि आप वाकई ऐसा नहीं करना चाहते हैं – आप अपने आपको हमेशा इस बात का एहसास कराएं कि बुरी आदत आपकी सच्ची साथी नहीं है और इससे आपको सिर्फ नुकसान ही होना है। आपका सच्चा इरादा अपने जीवन में विनाशकारी या नकारात्मक व्यवहार को सीमित करना है। इससे आपको बुरी आदतों से बचने में मदद मिल सकती है।

देर से सही लेकिन सफलता मिलेगी – बुरी आदतों से छुटकारा पाना इतना आसान काम नहीं है। लेकिन अगर आप इनसे छुटकारा पाना चाहते हैं, तो आपको बार-बार प्रयास करना चाहिए। एक अनुसंधान से पता चलता है कि व्यवहार के एक नए स्वरूप को पुनः स्थापित करने के लिए 18 से 254 दिन लगते हैं। इसलिए आप यह न सोचें कि आपको रातभर में परिणाम मिल जाएंगे। यदि आप पहले हफ्ते में इस पैटर्न को नहीं बदल पाते हैं, तो इसे एक महीने तक करके देखें, हो सकता है उसके बाद आपमें कुछ बदलाव देखने को मिले।

“ये अच्छी आदतें बदल सकती है आपका भविष्य”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।