मृत शरीर पानी में क्यों तैरता है?

दोस्तों जिन्दा व्यक्ति को अगर तैरना नहीं आता और वो पानी में गिर जाये तो वह पानी में डूब जाता है लेकिन मृत शरीर पानी में डूबता नहीं है बल्कि ऊपर तैरता रहता है। इस बात से तो शायद आप भी भली भाँती वाकिफ होंगे।

लेकिन क्या आपने कभी सोचा है की आखिर ऐसा क्यों होता है की जिन्दा शरीर पानी में डूब जाता है लेकिन मृत शरीर डूबने की बजाय ऊपर तैरता रहता है। तो चलिए आज आपको इसी बात से अवगत कराते हैं और जानते हैं इसके पीछे की असली वजह के बारे में।

मृत शरीर पानी में क्यों तैरता है? 1

मृत शरीर पानी में क्यों तैरता है?

दरअसल जिस किसी भी वस्तु का घनत्व पानी से ज्यादा होता है वह वस्तु पानी में आसानी से डूब जाती है। इसी कारण जिन्दा शरीर पानी में डूब जाता है क्योंकि जिन्दा शरीर का घनत्व ज्यादा होता है जिस कारण हमारी बॉडी पानी में डूब जाती है।

डूबने के कारण हमारे शरीर के फेफड़ों में पानी भर जाता है जिस कारण हमारी मौत हो जाती है। शुरुआत में बॉडी पानी में डूब जाती है लेकिन जब वो मृत शरीर सड़ने लगता है तो उसमे से गैस निकलने लगती है और वो शरीर को पानी में ऊपर की तरफ ले आती है।

हमारे मरने के बाद हमारे शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली काम करना बंद कर देती है और ऐसे में बॉडी का अपघटन शुरू हो जाता है जिस कारण बैक्टीरिया कोशिकाओ और उत्तको को तोडना शुरू कर देते हैं।

मृत शरीर में मौजूद बैक्टीरिया धीरे धीरे नष्ट होने लगते हैं और विभिन्न गैसों जैसे मीथेन, अमोनिया, कार्बन डाइऑक्साइड, हाइड्रोजन आदि को शरीर से बाहर निकालने लगते हैं।

जैसे जैसे शरीर सड़ता है वैसे वैसे शरीर फूलता है लेकिन उसका वजन नहीं बढ़ता और ऐसे में जो गैस शरीर से बाहर निकलती हैं वो शरीर को पानी के ऊपर की तरफ लाती हैं और वो मृत शरीर पानी में डूबने की बजाय उस पर तैरने लगता है।

निष्कर्ष के तौर पर सरल भाषा में समझें तो मृत शरीर का घनत्व ज्यादा होने के कारण पहले तो वह पानी में डूबता है लेकिन जैसे जैसे शरीर सड़ता है वैसे वैसे घनत्व कम होने लगता है और वह हल्का हो जाता है साथ ही उसमे कई तरह की गैसें बनने लगती है जिस कारण तैरने लगता है।

तो दोस्तों अब आप जान चुके हैं की आखिर क्यों मृत शरीर पानी की सतह पर तैरता रहता है जबकि जिन्दा शरीर डूब जाता है।

उम्मीद है जागरूक पर मृत शरीर पानी में क्यों तैरता है कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

पीने के पानी का टीडीएस कितना होना चाहिए?

जागरूक यूट्यूब चैनल