आइये जानते हैं मच्छर के काटने पर खुजली क्यों होती है। मच्छरों से बहुत सी बीमारियां फैलती है और गर्मी और बरसात के दिनों में मच्छरों की तादाद बहुत ज्यादा बढ़ जाती है। भले ही मच्छर का आकार बहुत छोटा होता है लेकिन इसके काटे जाने पर शरीर पर बहुत बड़े प्रभाव पड़ते हैं।

अगर आपने गौर किया हो तो मच्छर के काटने पर उस स्थान पर खुजली होने लगती है। क्या आप इस खुजली का कारण जानते हैं? अगर नहीं, तो चलिए आज आपको बताते हैं कि मच्छर के काटने पर खुजली क्यों होने लगती है।

मच्छर के काटने पर खुजली क्यों होती है? 1

मच्छर के काटने पर खुजली क्यों होती है?

ये जानकर शायद आपको हैरानी होगी कि नर मच्छर हमें कभी नहीं काटते हैं। ये काम तो सिर्फ मादा मच्छर ही करती हैं और ऐसा करने का कारण ये है कि मच्छरों को जीने के लिए गर्म खून की जरुरत पड़ती है।

गर्म खून वाले ज्यादातर जानवरों के शरीर पर बाल होते हैं इसलिए उनका खून पीना मच्छर के लिए आसान नहीं हो पाता है जबकि इंसान के शरीर पर बाल इतने घने नहीं होते हैं जिन्हें पार करके मच्छर का डंक त्वचा में ना पहुँच सके इसलिए मच्छर इंसानों के शरीर से खून पीते हैं।

मच्छर के काटने पर खुजली क्यों होती है? 2

आइये, अब जानते हैं मच्छर के काटने से होने वाली खुजली का कारण- मादा मच्छर जब खून पीने के लिए अपना डंक हमारे शरीर में चुभोती है तो त्वचा की ऊपरी हिस्से पर छेद हो जाता है। हमारे शरीर की ये खासियत होती है कि कहीं भी छेद होने पर खून का थक्का तुरंत जम जाता है।

खून का थक्का जमने पर मच्छर के लिए खून पीना संभव नहीं होगा इसलिए मच्छर अपने डंक से ऐसा विशेष रसायन छोड़ते हैं जो खून का थक्का बनने से रोकता है।

ये रसायन हमारी स्किन में पहुंचकर रिएक्शन करता है जिससे डंक मारे गए स्थान पर जलन और खुजली होती है और वो जगह सूजन के कारण लाल हो जाती है।

मच्छर के काटे जाने पर हमारा इम्यून सिस्टम भी मच्छर की लार को निष्क्रिय करने के लिए हिस्टामाइन रसायन स्रावित करता है। इन दोनों रसायनों के रिएक्शन से ही देर तक खुजली रहती है और स्किन पर आयी सूजन मच्छर द्वारा छोड़े गए केमिकल के प्रभाव को कम करने के लिए आवश्यक होती है।

उम्मीद है जागरूक पर मच्छर के काटने पर खुजली क्यों होती है कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

दिमाग में नकारात्मक विचार क्यों आते हैं?

जागरूक यूट्यूब चैनल