मैदा कैसे बनता है और मैदा खाने के नुकसान

आज आपको बताते हैं कि मैदा कैसे बनता है। ब्रेड, छोले-भटूरे और समोसे-कचौरी जैसे स्वादिष्ट व्यंजन आपको भी बहुत पसंद होंगे लेकिन आपने अक्सर ये भी सुना होगा कि इन तेल-मसाले वाली चीज़ों को ज़्यादा नहीं खाना चाहिए क्योंकि ऑयली और स्पाइसी होने के अलावा ये मैदा से भी बनी होती हैं।

हो सकता है कि आप सोचते हों कि मैदा से बनने वाली चीज़ें इतनी ज़ायकेदार होती है तो फिर इन्हें खाने से मना क्यों किया जाता है? इस सवाल का जवाब जानने के लिए आपको ये जानना होगा कि मैदा क्या है और मैदा कैसे बनता है।

मैदा कैसे बनता है और मैदा खाने के नुकसान 1

मैदा कैसे बनता है?

शायद आपको जानकर हैरानी हो कि मैदा उसी गेहूं से बनता है जिसकी बनी रोटियां हम खाते हैं और जिसे बहुत अच्छा माना जाता है लेकिन गेहूँ से मैदा बनने की प्रक्रिया ही इन दोनों में अंतर करती है। गेहूं को अच्छे से साफ करके, सूखे गेहूं से मैदा बनाया जाता है।

गेहूं से मैदा बनाने के लिए मैदा मील होती हैं। मैदा बनाने के लिए सबसे पहले, मील में गेहूं की ऊपरी परत को हटाया जाता है। गेहूं में मौजूद प्रोटीन और पोषक तत्व इस ऊपरी परत के साथ ही अलग हो जाते हैं।

ऊपरी परत हट जाने के बाद गेहूं का बीच का सफ़ेद हिस्सा बचता है और ऊपरी परत हटाने की प्रक्रिया में गेहूं मोटे टुकड़ों में टूट जाते हैं। इन टुकड़ों में से भूसी को निकाल जाता है और बचा हुआ कण सूजी कहलाता है यानी गेहूं से मैदा बनने की प्रक्रिया में पहले सूजी बनती है।

मैदा कैसे बनता है और मैदा खाने के नुकसान 2

इसके बाद आखिरी चरण में गेहूं के इन कणों को अच्छी तरह पीसा जाता है जिससे सफेद पाउडर बनता है। यही सफेद पाउडर मैदा होता है जिससे हम कई व्यंजन बनाते हैं।

मैदा खाने के नुकसान – मैदा बनने की इस प्रक्रिया से, आपने अंदाज़ा लगा ही लिया होगा कि भले ही मैदा गेहूं से बनाया जाता है लेकिन इसमें गेहूं के सभी पोषक तत्व नष्ट हो चुके होते हैं और इसमें फाइबर भी नहीं होता है।

जिसके कारण इसे खाने पर ये अच्छी तरह पच नहीं पाती और आँतों के चिपक जाती है और अगर मैदा ज़्यादा खायी जाए तो पेट से जुड़ी कई परेशानियां होने लगती हैं।

इसलिए मैदा का बहुत ज़्यादा सेवन करने से बचिए और अच्छी सेहत और मैदा से बने व्यंजनों में से किसका चुनाव करना चाहिए, ये आप अच्छे से जानते हैं।

उम्मीद है जागरूक पर मैदा कैसे बनता है और मैदा खाने के नुकसान कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

दिमाग में नकारात्मक विचार क्यों आते हैं?

जागरूक यूट्यूब चैनल