मखाने के आश्चर्यजनक स्वास्थ्य लाभ

0

आइये जानते हैं मखाने के स्वास्थ्य लाभ। मखाने का उपयोग सदियों से होता आ रहा है। यह एक जलीय उत्पाद है जिसमें पौष्टिकता के गुण प्रचुर मात्रा में हैं। यह प्रोटीन, कैल्शियम, पोटेशियम, फास्फोरस, आयरन, केरोटीन, विटामिन बी-1, वसा, खनिज तत्व और सोडियम के साथ-साथ प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट़्स का भी अच्छा स्त्रोत है।

अपने इन्हीं गुणों के कारण यह शरीर को पूरी तरह से स्वस्थ और तंदुरुस्त रखता है। इसमें इतने औषधीय गुण है की यह पाचन-तंत्र से लेकर किडनी तक की समस्या को दूर करने में सक्षम है।

इसी कारण यह विश्वभर में बड़ी तादात में पाए जाते है जैसे- चीन, रसिया, भारत, जापान, कोरिया, श्री लंका में मखाने का उत्पादन अधिक होता है।

इसका उपयोग चीनी दवाओं के साथ आयुर्वेदिक दवाओं में भी बहुत होता है। भारत में मखाने का उपयोग व्रत व धार्मिक कार्यो में भी बहुत किया जाता है।

यह खाने में बहुत ही स्वादिष्ट, सुपाच्य और तुरंत ताकत देने के लिहाज से बहुत ही फायदेमंद है। लेकिन क्या आप जानते है यह कमल के बीज होते है इसके अलावा भी इसके कई नाम है जैसे एशियन लिली बीज, फूल मखाने, फोक्सनट आदि।

मखाने के आश्चर्यजनक स्वास्थ्य लाभ 1

मखाने की खेती तीन फिट पानी के अंदर की जाती है। जब यह अंकुरित होकर काँटेदार फल, बीज और फूल का आकार लेती है इन्हीं में मखाने का गटठा बीज होता है जिसे बाहर निकाल कर तेज धूप दिखाई जाती है।

सूखने के पश्चात इन्हें कढ़ाई में रेत डालकर भूना जाता है जिसमें से सफेद दाने फूटकर बाहर आते है जिसे तुरंत पैक कर दिया जाता है। जिससे इनका स्वाद, रंग, ताजगी बनी रहे। एक बीज गुच्छे के अन्दर से 15-20 मखाने के दाने मिलते है। इसके गुणों को देखते हुए व्यापक रूप में वैज्ञानिक मदद से इसकी खेती की जा रही है।

मखाने के सेवन से इतने रोगों से मुक्ति मिलती है कि आप सोच भी नहीं सकते। अपने प्रचुर पौष्टिक तत्वों के कारण यह बादाम और अखरोट से भी अधिक उत्तम माना गया है। इसके फायदों को पढ़कर आप मखाने के सेवन से खुद को रोक नहीं पाएँगे। तो आइए जाने मख़ानों के क्या-क्या स्वास्थ्य लाभ है।

मखाने के आश्चर्यजनक स्वास्थ्य लाभ 2

मखाने के सेवन से लाभ

1. इसके नियमित सेवन से अनिद्रा की समस्या दूर होती है। रात को दूध के साथ मखाना खाने से अनिद्रा की समस्या दूर हो जाती है।

2. यह एक एंटी एजिंग डाइट है क्योंकि इसमें प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट्स पाया जाता है। यह रक्त कोशिकाओं के ऊतकों में सुधार कर दुरुस्त करता है और त्वचा की रक्त सेल्स को खराब होने से रोकता है।

जिससे व्यक्ति लंबे समय तक जवां रह पाता है चेहरे पर जल्दी झुरियाँ नहीं आती यानी जल्द बुढ़ापे और चेहरे के रुखेपन की कोई चिंता नहीं।

एंटीऑक्सीडेंट्स के गुण होने के कारण यह संक्रामक वायरल को रोकने में सक्षम है जिससे शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होती है।

3. कैल्शियम से भरपूर होने के कारण यह हड्डियों को मजबूत बनाने के साथ-साथ शरीर में हो रहे किसी भी दर्द को ठीक करने की ताकत रखता है।

जोड़ों का दर्द, गठिया, घुटने का दर्द, अर्थराइटिस आदि कैसा भी दर्द हो इसके सेवन से सब गायब हो जाता है। मखाने को अदरक, हींग, काला नमक, लहसुन और हल्दी की चटनी में मिलाकर कुछ दिनों तक खाने से चाहे कितना भी पुराना या तेज दर्द हो बहुत ही तेजी से ठीक होता है।

4. मख़ानों का नियमित सेवन करने से शरीर को शीतलता मिलती है यानी शरीर में हो रही किसी भी तरह की जलन से राहत मिलती है। इससे शरीर के अंग सुन्न नहीं पड़ते। अगर मख़ानों को देशी घी में भूनकर खाया जाए तो दस्त जैसे रोगों से मुक्ति मिलती है।

5. प्राकृतिक गुणों के कारण यह किडनी और दिल की सेहत के लिए उत्तम है। मैग्नीशियम, ऑक्सीजन और अन्य पोषक तत्वों के कारण शरीर में रक्त का प्रवाह सही रखता है जिससे दिल संबंधी समस्या और किडनी की समस्या का खतरा कम हो जाता है।

इसमें शर्करा की मात्रा ना के बराबर होती है जो दिल और किडनी दोनों के लिए फायदेमंद है। किडनी शरीर का अभिन्न हिस्सा है जो खून को फिल्टर करने का काम करती है। मख़ानों का सेवन 25 ग्राम की मात्रा में नियमित करे। इससे आपका पूरा शरीर निरोग रहेगा।

6. यह ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता है जिससे चक्कर, घबराहट या कमजोरी जैसी समस्या भी नहीं होती। दूध के साथ मखाने खाने से तनाव दूर होता है और दिमाग शांत रहता है।

अगर आप दुबलेपन के शिकार है तो रोज सुबह दही में भिगोकर मखाने का सेवन करे, यह भूख में भी सुधार लाता है। इससे अंदरूनी कमी दूर होती है। शरीर चुस्त-दुरुस्त और ऊर्जावान रहता है।

7. मख़ानों के नियमित सेवन से पाचन-शक्ति को बल मिलता है। अगर आप पेट संबंधी किसी भी समस्या से पीड़ित है जैसे गैस, कब्ज या एसिडिटी तो रोज सुबह अजवाइन के साथ मख़ानों का सेवन करे, जल्द आराम मिलेगा।

मख़ानों में मौजूद प्रोटीन से शरीर की फिटनेस और मसल्स सही रहती है। साथ ही समय से पहले बालों को सफेद होने से भी रोकता है।

8. गर्भवती महिलाएँ और डिलीवरी के बाद होने वाली कमजोरी को दूर करने के लिए मखाना खाए। यह महिलाओं में बांझपन और मासिक धर्म के कष्ट को भी दूर करता है।

औरतों में कैल्शियम की बहुत कमी होती है और मखाने कैल्शियम का अच्छा स्त्रोत है इसलिए औरतों को तो विशेष तौर पर मख़ानों का सेवन करना चाहिए।

9. मधुमेह क रोगियों के लिए मखाने इंसुलिन का कार्य करता है। शर्करा की मात्रा को कंट्रोल करने में यह पूरी तरह से सक्षम है। इसके बीज में स्टार्च और प्रोटीन होने के कारण यह मधुमेह के रोगियों के लिए अच्छा आहार है।

भुने चने के साथ 6-7 मख़ानों का सेवन मधुमेह के रोगियों के लिए अति उत्तम है इससे रोगी को पौष्टिकता भी मिलेगी और शरीर भी निरोग रहेगा।

10. मख़ानों में फाइबर की मात्रा अधिक और वसा की मात्रा कम होने के कारण यह पेट को भरा-भरा रखता है जो वजन घटाने में मदद करता हैं।

इसके नियमित सेवन से मसूड़े मजबूत होते है और मुँह के दर्द को ठीक करने में भी कारगर है। यह पुरुषों को नपुंसकता से बचाता है और औरतों में प्रजनन क्षमता को बढ़ाता है।

मख़ानों के इतने स्वास्थ्य लाभ है की पूर्णरूप से बखान करना भी बहुत मुश्किल है। सेहत हमेशा दुरुस्त रहे उसके लिए मख़ानों का सेवन शुरू कर दे। सुपाच्य होने के कारण इसे बच्चों से लेकर बूढ़े तक कोई भी खा सकते है।

यह पूर्णरूप से प्राकृतिक होते है इसलिए इनसे किसी तरह का कोई नुकसान भी नहीं है। इसमें सैकड़ों औषधीय गुण मौजूद है इसलिए इसे दैनिक आहार का हिस्सा बनाइए और लंबी अवधि तक स्वस्थ रहिए।

अगर आपको किसी भी तरह की एलर्जी हो या पहले से किसी बीमारी का इलाज करवा रहे है तो मख़ानों के उचित लाभ के लिए अपने डॉक्टर से सलाह जरूर ले क्योंकि किसी भी परिस्थिति में डॉक्टर से अच्छा कोई मार्गदर्शक नहीं होता।

उम्मीद है जागरूक पर मखाने के स्वास्थ्य लाभ कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

दिनचर्या कैसी होनी चाहिए?

जागरूक यूट्यूब चैनल

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here