मनोज कुमार को दिया जायेगा दादा साहब फाल्के अवार्ड

मनोज कुमार को फिल्म इंडस्ट्री में दिए गए अति विशिष्ट योगदान के लिए दादा साहब फाल्के अवार्ड से नवाज़ा जायेगा। उनके द्वारा की गयी वैसे तो कई फ़िल्में बहुत प्रसिद्ध हैं मगर पूरब और पश्चिम, क्रांति और उपकार इनमें से मुख्य है।

78 वर्षीय मनोज कुमार उन 47 व्यक्तियों में से एक हैं जिन्हे यह सम्मान दिया जायेगा। इस प्रुस्कार के अंतर्गत उन्हें 10 लाख रूपये, ट्रॉफी और शाल प्रदान की जाएगी। मनोज कुमार ने अपने जीवन में कई फ़िल्में की है जिनमें से मुख्य हैं हरियाली और रास्ता “, “वह कौन थी?”, “हिमालय की गोद में “, “दो बदन “, “उपकार “, “पत्थर के सनम “, “पूरब और पश्चिम “, “शहीद”, “रोटी कपडा और मकान “, “क्रांति”

मनोज कुमार का जन्म हरिकृष्ण गिर गोस्वामी के यहाँ अब्बोत्ताबाद जो की अब पाकिस्तान में है हुआ था। उनकी पहली फिल्म कांच की गुड़िया थी जो की एक लव स्टोरी थी लेकिन इसके बाद मनोज कुमार द्वारा की गयी अधिकतर फ़िल्में देशभक्ति की ही थी।

मनोज कुमार को इससे पहले पद्मश्री भी मिल चुका है।