मशरूम के फायदे और नुकसान

जनवरी 15, 2018

मशरूम औषधीय गुणों से भरपूर एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जिसमें एमिनो एसिड्स, खनिज लवण और विटामिन जैसे तत्व पाए जाते हैं। इसमें 22-35% प्रोटीन पाया जाता है जो पौधों से मिलने वाले प्रोटीन से कहीं ज़्यादा है। ऐसे में हमारी सेहत को बेहतर बनाने में ये काफी योगदान दे सकता है। मशरूम के शौकीनों में शाकाहारी और मांसाहारी दोनों ही तरह के लोग शामिल हैं। ऐसे में आज जानते हैं मशरूम के ढ़ेर सारे फायदों और चंद नुकसानों के बारे में-

मोटापा दूर करे – मोटापा कम करने की चाह रखने वालों को प्रोटीन डाइट लेने की सलाह दी जाती है और मशरूम में लीन प्रोटीन पाया जाता है जो वजन कम करने में मददगार होता है और मशरूम खाना वजन कम करने के विकल्पों में से एक बेहतर विकल्प माना जाता है।

इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाये – मशरूम एक नेचुरल एंटीबायोटिक है जो माइक्रोबियल और फंगल इन्फेक्शन्स को दूर करता है और इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स शरीर को नुकसान पहुँचाने वाले फ्री-रेडिकल्स से बचाव करते हैं। साथ ही शरीर की कोशिकाओं की मरम्मत करने में भी मशरूम सहयोगी होता है।

कैंसर से बचाव करे – मशरूम में बीटा ग्लाइसिन और लिनोलिक एसिड होते हैं और कई शोध बताते हैं कि मशरूम में मौजूद तत्व कैंसर से बचाव करते हैं। इसके सेवन से प्रोस्टेट कैंसर और ब्रेस्ट कैंसर से बचाव संभव है। मशरूम में पाए जाने वाले काइटिन, लायसिन और प्रोटीन शरीर में ट्यूमर नहीं बनने देते हैं।

मेटाबॉलिज्म को बेहतर बनाये – मशरूम में विटामिन-बी पाया जाता है जो भोजन को ग्लूकोस में बदलकर ऊर्जा उत्पन्न करता है और विटामिन-बी 2 और विटामिन-बी 3 मेटाबॉलिज़्म को बेहतर बनाते हैं।

Benefits-of-mushroom मशरूम के फायदे और नुकसान

दिल का स्वास्थ्य बेहतर बनाये – मशरूम में कुछ ऐसे एन्जाइम्स और रेशे पाए जाते हैं जो कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करते हैं और इसमें मौजूद पोषक तत्व दिल की सेहत का भी ख्याल रखते हैं।

कुपोषण से बचाये – मशरूम एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जिसे गर्भावस्था से लेकर वृद्धावस्था तक के सभी चरणों के लिए फायदेमन्द माना जाता है और कुपोषण से बचाव के लिए डॉक्टर भी इसका सेवन करने की सलाह देते हैं।

डायबिटीज में फायदेमंद – मशरूम में विटामिन, फाइबर और मिनरल्स होते हैं और इसमें वसा, कार्बोहाइड्रेट्स और शुगर नहीं होती है इसलिए इसे डायबिटीज के मरीजों के लिए सबसे अच्छा आहार माना जाता है। इसका सेवन करने से इन्सुलिन के निर्माण में भी मदद मिलती है और इसमें वो सभी आवश्यक चीज़ें मौजूद होती हैं जिसकी आवश्यकता डायबिटीज के मरीजों के आहार में जरुरी होती है।

पेट की परेशानियों से मुक्ति दिलाये – फाइबर रहित आहार लेने से अपच और कब्ज की समस्या हो जाती है लेकिन ताजे मशरूम का सेवन करने से ये परेशानी दूर हो जाती है क्योंकि इसमें फाइबर पाया जाता है, साथ ही इसमें कार्बोहाइड्रेट्स भी होते हैं।

एनीमिया दूर करे – मशरूम एनीमिया को दूर करने का बेहतरीन विकल्प है क्योंकि इसमें फोलिक एसिड प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जो मशरूम के अलावा, केवल मांसाहारी खाद्य पदार्थों में ही मिला करता है। मशरूम में लोहा और फोलिक एसिड की मौजूदगी हीमोग्लोबिन के सामान्य स्तर को बनाये रखते हैं जिससे एनीमिया को दूर किया जा सकता है।

सामान्य तौर पर मशरूम से सेहत को बहुत से फायदे मिलते हैं लेकिन अगर इसका चुनाव सही से ना किया जाए तो ये कई बीमारियों का कारण भी बन सकता है। मशरूम एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जो कवक है। इसका संतुलित सेवन जहाँ अच्छा स्वास्थ्य देगा वहीँ इसकी ज्यादा मात्रा एलर्जी की समस्या भी पैदा कर सकती है।

इतना ही नहीं, मशरूम की कुछ प्रजातियां जहरीली भी होती है, ऐसी जहरीली और कच्ची मशरूम खाने से एलर्जी, अस्थमा, ऐंठन, उल्टी, मतिभ्रम, बेहोश होना और जी मिचलाने जैसी कई तकलीफें हो सकती है इसलिए मशरूम खरीदते समय सावधानी रखना जरुरी है।

साथ ही ये भी जरुरी है कि ताजा मशरूम का ही सेवन किया जाए, क्योंकि पुराना और बासी मशरूम फूड पॉइज़निंग का कारण भी बन सकता है। इसके अलावा छोटे बच्चों और प्रेग्नेंट महिलाओं को इसका सेवन करने से बचना चाहिए।

तो दोस्तों, अब आप जान चुके हैं कि मशरूम खाने से पहले आपको किन जरुरी बातों का ख्याल रखना है। तो बस, इन छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखिये और मशरूम खाकर अपनी सेहत को फायदा पहुंचा लीजिये।

हमने यह लेख प्रैक्टिकल अनुभव व जानकारी के आधार पर आपसे साझा किया है। अपनी सूझ-बुझ का इस्तेमाल करे। आपको यह लेख कैसा लगा? अगर इस लेख से आपको कोई भी मदद मिलती है तो हमें बहुत खुशी होगी। अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे। हमारी शुभकामनाएँ आपके साथ है, हमेशा स्वस्थ रहे और खुश रहे।

“टमाटर का जूस पीने के फायदे जानकर आप हैरान रह जायेंगे”

अगर आप हिन्दी भाषा से प्रेम करते हैं और ये जानकारी आपको ज्ञानवर्धक लगी तो जरूर शेयर करें।
शेयर करें