क्या आपको भी ज्यादा काटते हैं मच्छर?

अक्टूबर 10, 2016

कई बार हमें ऐसा लगता है की बाकी लोगों को छोड़कर ज्यादातर हमें ही काटते हैं मच्छर? कुछ लोग कहते हैं की खून मीठा होने की वजह से ऐसा होता है लेकिन वास्तविकता में इसके पीछे कई कारण होते हैं। आइये आज उन्ही कारणों से आपको अवगत कराते हैं जो मच्छरों को हमें काटने के लिए आकर्षित करते हैं।

ब्लड ग्रुप “O” – दुनिया भर में 4 तरह के ब्लड ग्रुप पाए जाते हैं A, B, AB और O । एक रिसर्च के मुताबिक इनमे से ब्लड ग्रुप O मच्छर को अपनी ओर आकर्षित करता है और यही कारण होता है जब कई लोग बैठे हों तो उनमे से ब्लड ग्रुप O वाले व्यक्ति को ही ज्यादा मच्छर काटते हैं।

लंबी सांस – जो लोग लंबी लंबी सांस लेते हैं उन लोगों को भी मच्छर दूसरों के मुकाबले ज्यादा काटते हैं। एक रिसर्च के मुताबिक लंबी सांस लेने से सांस के साथ हमारे शरीर की गंध भी बाहर निकलती है और मच्छर उसकी तरफ आकर्षित होते हैं।

लैक्टिक एसिड – त्वचा पर लैक्टिक एसिड की मात्रा ज्यादा होने पर भी मच्छर आकर्षित होते हैं। कसरत करते समय या पसीने निकलने के समय मच्छर के काटने की सम्भावना ज्यादा होती है क्योंकि उस समय शरीर का तापमान भी कम होता है और त्वचा पर लैक्टिक एसिड की मात्रा भी उस समय ज्यादा होती है और इन कारणों से मच्छर आकर्षित होते हैं।

बियर – एक रिसर्च के अनुसार जिन लोगों ने कोई नशा नहीं किया हो उनके मुकाबले बियर पिए हुए व्यक्तियों को मच्छर ज्यादा काटते हैं।

अब आप जान चुके हैं कि मच्छर कुछ ख़ास लोगों को ही ज्यादा क्यों काटते हैं, तो अब मच्छर काटने पर अपने मीठे खून को दोष ना देना।

“जानिए आखिर समय से पहले बाल सफ़ेद क्यों हो जाते है ?”

अगर आप हिन्दी भाषा से प्रेम करते हैं और ये जानकारी आपको ज्ञानवर्धक लगी तो जरूर शेयर करें।
शेयर करें