दुनिया के सबसे खतरनाक एयरपोर्ट

आज हम आपको विश्व के ऐसे खतरनाक एयरपोर्ट के बारे में बताने जा रहे हैं जहां जहाज उतारना बेहद मुश्किल है। कुछ हवाई अड्डे अपनी लोकेशन की वजह से और कुछ ज्यादा नीचे होने की वजह से खतरनाक है यहां पर लैंडिंग करना पायलटों के लिए बेहद ही चुनौतीपूर्ण है, तो चलिए इन हवाई अड्डों के बारे में विस्तारपूर्वक जानते हैं।

साबा एयरपोर्ट – इस एयरपोर्ट का रनवे दुनिया में सबसे छोटा है। नीदरलैंड से करीबन 28 किलोमीटर दक्षिण में स्थित है यह अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा दुनिया का सबसे छोटा रहने वाला हवाई अड्डा है। इसकी कुल लंबाई 400 मीटर है इस हवाई अड्डे पर लैंडिंग बेहद ही चुनौतीपूर्ण है।

तोकांति हवाई अड्डा होंडूरास – इस एयरपोर्ट पर सुरक्षित लैंडिंग के लिए पहाड़ों के बीच में से होकर गुजरना पड़ता है। यह हवाईअड्डा समुद्र तल से 3294 फीट ऊपर एक घाटी में स्थित है। इस हवाई पट्टी पर एरोप्लेन को उतारने के लिए 45 डिग्री कोण पर 7000 फुट नीचे प्लेन को लाना पड़ता है जो कि बेहद जटिल है। आस-पास पहाड़ी इलाका होने की वजह से हवाई पट्टी को पूर्ण रूप से देख पाना बेहद मुश्किल होता है। लगातार चलती तेज हवाओं के कारण पायलट को कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

लागार्डिया एयरपोर्ट न्यूयॉर्क – यह हवाईअड्डा ऊपर से देखने में बेहद ही खूबसूरत दिखाई देता है। इस हवाई अड्डे का रनवे करीबन 7000 फुट लंबा है लेकिन इसका 196 फुट हिस्सा पानी के ऊपर है। हवाई अड्डे के स्थान पर तिरछी नजर से देखें तो पता चलता है कि यह मिडटाउन मैनहट्टन के शहर से मात्र 8 मील की दूरी पर स्थित है यहां पर प्लेन उतारना बेहद ही जटिलतम कार्य है।

कूर्चेवेल अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा फ्रांस – यह हवाई अड्डा सिर्फ 525 मीटर लंबा है इस रनवे की ढलान 18.5 प्रतिशत अधिक है जो कि हवाई अड्डे पर उतरने और उड़ान भरने के समय बहुत खतरनाक परिस्थितियों को पैदा कर देती है।

वेलिंगटन हवाई अड्डा न्यूजीलैंड – वेलिंगटन हवाईअड्डा 6351 फुट के रनवे से शुरु होता है और इसके खत्म होते ही पानी शुरू हो जाता है। वेलिंगटन हवाईअड्डा देखने में बहुत खूबसूरत है लेकिन यहां पर उड़ान भरना उतना ही मुश्किल है।

कई टक एयरपोर्ट हांगकांग – एयरपोर्ट बेहद ही खतरनाक है और यहां पर प्लेन उतारना खुद को जोखिम में डालने जैसा है। इस एयरपोर्ट के नजदीक कई लोगों की भीड़ आसानी से देखने को मिल जाती है जो कि विमान को उतारने काफी तकलीफ देह सिद्ध होती है।

लुकला हवाई अड्डा नेपाल – यह हवाईअड्डा तेनजिंग हिलेरी हवाई अड्डे के नाम से भी जाना जाता है। लेकिन यह भी बेहद खतरनाक हवाई अड्डा है क्योंकि यहां पर मौसम पल-पल में बदलता रहता है जिससे लैंडिंग करना बेहद जटिल हो जाता है।

अंटार्कटिका का हवाई अड्डा – अंटार्कटिका विश्व का सबसे ठंडा स्थान है और यहां पर कोई भी पक्का रनवे नहीं है। लैंडिंग करते समय बर्फ की लंबी पट्टी दिखाई देती है और इसी पर लैंडिंग करनी होती है जो कि बेहद ही चुनौतीपूर्ण है। यहां पर प्लेन के फिसलने का खतरा बना रहता है।

प्रिंसेस जूलियन अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा नीदरलैंड – यह हवाई अड्डा केरेबियन के सबसे व्यस्त हवाई अड्डों में से एक है। इस हवाई अड्डे की लंबाई 7150 फिट है बड़े विमानों को उड़ान भरने के लिए लगभग 10000 फीट की आवश्यकता होती है सुरक्षित लैंडिंग करने के लिए भी कम से कम 8000 फुट की जरूरत होती है लेकिन यह हवाईअड्डा हर हिसाब से छोटा है।

पारो हवाई अड्डा भूटान – यह हवाई अड्डा हिमालय का सबसे खतरनाक हवाई अड्डा है केवल आठ पायलट ही यहां पर विमान उतारने में सफल हो पाए हैं। समुद्र स्थल से करीबन डेढ़ मील दूर स्थिति यह हवाई अड्डा 18000 फुट ऊंची चोटियों से घिरा हुआ है। यहां का रनवे मात्र 6500 फुट लंबा है। पारो हवाई अड्डा दुनिया का सबसे खतरनाक हवाई अड्डा है और यहां पर विमान उतारना हर किसी के बस की बात नहीं है।

“तंबाकू के खतरनाक नुकसान”
“ज़्यादा नमक है सेहत के लिए ख़तरनाक”
“दुनिया के सबसे खतरनाक रासायनिक हथियार”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

अगर आप किसी विषय के विशेषज्ञ हैं और उस विषय पर अच्छे से लिख सकते हैं तो जागरूक पर जरुर शेयर करें। आप अपने लिखे हुए लेख को info@jagruk.in पर भेज सकते हैं। आपके लेख को आपके नाम, विवरण और फोटो के साथ जागरूक पर प्रकाशित किया जाएगा।
शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment