दुनिया पर राज करने वाली इतिहास की सबसे शातिर रानियां

697

यूँ तो दुनिया पर राज करने वाली महिला शासकों के रूप में रजिया सुल्तान और क्वीन विक्टोरिया जैसी महिलाओं के नाम ही चर्चित हैं लेकिन इनके अलावा इतिहास में दुनिया की कई और महिलाएं भी हैं जो जबरदस्त शासक रही है। यह महिला शासक ना सिर्फ खूबसूरत थीं बल्कि राजनीति के सभी दाव पेच में भी माहिर रही है। आइए जानते हैं दुनिया की ऐसे ही 10 महिला शासकों के बारे में जिन्होंने दुनिया पर अपना राज किया।

1. तुर्की की सुल्तान तुरहान

तुर्की के ओटोमन साम्राज्य में मुख्य रूप से दो महिला शासक रही हैं तुरहान और उसकी सास कोसेम। यहाँ के सुल्तान इब्राहिम की पहली और मुख्य बेगम तुरहान ने अपने बेटे महमूद चतुर्थ के शासनकाल के दौरान मुख्य शासक के रूप में राज किया। इनके बेटे ने 1648 से लेकर 1687 के बीच शासन किया और इस के बीच 1651 से 1656 के में तुरहान मुख्य शासक रहीं। तुरहान ने अपनी सास कोसेम के राज में षड्यंत्र रच कोसेम की हत्या करवा दी थी और फिर इनके बेटे महमूद चतुर्थ ने राज गद्दी संभाली। दरअसल कोसेम का इरादा महमूद को मारकर अपने दूसरे पोते को सुल्तान बनाने का था लेकिन वो खुद तुरहान के षड्यंत्र का शिकार हो गई और मौत के घात उतारी गई।

2. तुर्की की सुल्तान कोसेम

कोसेम सुल्तान 17वी सदी की सबसे शक्तिशाली महिला मानी जाती है। ग्रीक मूल की कोसेम तुर्की की राजधानी इस्तांबुल में एक दासी के तौर पर आई थी। ऑटोमन सुल्तान अहमद प्रथम कोसेम की खूबसूरती के दीवाने हो गए और उन्हें कोसेम से प्यार हो गया। उसके बाद दोनों ने शादी रचाई और इस तरह को कोसेम तुर्की की मलिका बन गई। अहमद प्रथम की मौत के बाद कोसेम ने उसके भाई को गद्दी पर बिठाया जो एक मंद बुद्धि था। लेकिन असल में इस दौरान मुख्य शासन कोसेम ने ही किया।

3. मिस्र की रानी आर्सिनोए द्वितीय

प्राचीन मिस्र पर शासन करने वाली आर्सिनाेए द्वितीय मूल रूप से एक ग्रीक प्रिंसेस। आर्सिनोए द्वितीय के पहले पति का नाम था किंग लिसीमेकस जिसके चलते इन्होने थ्रास, एशिया माइनर और मेसिडोनिया पर राज किया फिर बाद में आर्सिनोए द्वितीय ने अपने ही भाई टॉलेमी द्वितीय फिलाडेल्फस से शादी रचाई और मिस्र की शासक बनी।

4. चीन की एम्प्रेस वेई

चीन के टैंग राजवंश की रानी रही एम्प्रेस वेई किंग झांगजोंग की दूसरी पत्नी थी। झांगजोंग ने 2 बार राज किया और झांगजोंग के दुसरे राज में एम्प्रेस वेई की अहम भूमिका रही। 710 ईस्वी में झांगजोंग की जहर खाने से मृत्यु हो गई और फिर वेई ने राज गद्दी सँभालते हुए राज किया। कहा जाता है एम्प्रेस वेई ने ही अपने पति झांगजोंग को जहर दिया था ताकि वो राज गद्दी हथिया सके। एम्प्रेस वेई के गद्दी सँभालने के थोड़े दिन बाद ही झांगजोंग के भतीजे ली लोंगजी ने एम्प्रेस वेई की हत्या करवाकर खुद गद्दी पर राज कर लिया।

5. मिस्र की रानी एहोतेप प्रथम

ईसा पूर्व 1560 से 1530 में अपने जीवन काल में क्वीन तेतीशेरी और फराओ शेनाख्तेरने की बेटी एहोतेप प्रथम मिस्र की रानी बनी जिन्होंने फराओ सेक्वेनेनरे टाओ से शादी रचाई। कहा जाता है की फराओ सेक्वेनेनरे टाओ और एहोतेप प्रथम एक दूसरे के भाई बहन भी थे।

6. मलिका ए हिंदुस्तान नूरजहां

यूँ तो 1620 के दशक में जहांगीर ने ही राज किया और नूरजहां जहांगीर की मुख्य पत्नी थी। लेकिन कहा जाता है की जहांगीर के शासनकाल में राज नूरजहां का ही चलता था। नूरजहां ही सभी अहम फैसले लिया करती थी और शाही फरमान भी नूरजहां के नाम से ही जारी किए जाते थे। उस दौरान शाही मुहर भी नूरजहां के पास ही रहती थी।

7. मंगोल रानी सोरघाघतानी

सोरघाघतानी को 13वीं सदी की सबसे फेमस महिला माना जाता है जो चंगेज खां के छोटे बेटे तोलुई की मुख्य पत्नी थी। तोलुई की मौत के बाद ही इनकी पत्नी सोरघाघतानी ने राजगद्दी संभाली और अपना राज स्थापित किया। कहा जाता है की कोई अमीर हो या कोई सैनिक सभी सोरघाघतानी की आज्ञा का बिना विलम्ब किये पालन करते थे और कोई इनके विपरीत जाने की हिमाकत नहीं करता था।

8. मंगोलिया की शासक तोरेगेन

तोरेगेन राजा आगेदेई की मुख्य पत्नी थी और आेगेदेई चंगेज खान के तीसरे बेटे थे और चंगेज खान की मृत्यु के बाद आगेदेई को ही राज गद्दी पर बिठाया गया। हालाँकि आगेदेई एक राजगद्दी के लिए प्रबल दावेदार नहीं था क्योंकि आगेदेई को शराब की बहुत लत थी लेकिन सत्ता सँभालने के लिए आगेदेई का चुनाव इसलिए किया गया क्योंकि इसके दुसरे भाइयों में आपस में नहीं बनती थी और वो सभी एक दूसरे से घृणा करते थे इसी कारण सभी की सहमति से आगेदेई को शासक बनाया गया। अगर बाकी भाइयों में से किसी को राजगद्दी दे दी जाती तो मंगोलिया में गृहयुद्ध छिड़ जाता। आगेदेई के शासन काल में भी शासन की कमान इनकी पत्नी तोरेगेन के हाथों में ही थी और तोरेगेन ही सभी शाही फैसले लिया करती थी। बाद में आगेदेई की मृत्यु के बाद तोरेगेन ने ही गद्दी सँभालते हुए अपना राज स्थापित किया।

9. बायजेंटाइन एम्पायर की रानी ज़ोए

कॉन्स्टेंटाइन अष्टम की दो बेटियां थी ज़ोए और थियोडोरा इन दोनों बहनों में ज़ोए बड़ी थी और काफी शातिर भी थी। कॉन्स्टेंटाइन की सिर्फ ये दोनों बेटियां ही थी कोई बेटा नहीं था। इन दोनों बहनों में सत्ता को लेकर हमेशा प्रतिस्पर्धा रहती थी। ज़ोए ने आगे चलकर ताकतवर रोमानोज से शादी रचाई और कॉन्स्टेंटाइन के मरने के बाद रोमानोज ने गद्दी हथियाकर राजा बनकर अपना राज स्थापित कर लिया। ज़ोए और रोमानोज ने अपने राज में बहन थियोडोरा को भी देश से निकाल दिया। ज़ोए भी हमेशा से राज करना चाहती थी इसलिए उसने अपने ही पति की जहर देकर हत्या करवा दी और खुद शासक बन गई। बाद में ज़ोए ने अपने ही महल के एक अधिकारी से शादी कर ली। ज़ाेए ने बाल्कान से एशिया तक फैले बायजेंटाइन एंपायर पर राज किया और इस बीच इनके एक के बाद एक कई पति बने।

“सिकंदर महान से जुड़े रोचक तथ्य जो आपको इतिहास में ले जाएंगे”
“जानिए क्या है समय का इतिहास”
“इतिहास के 5 चर्चित शहर जो अब पानी में हो चुके हैं दफन”

Source

Add a comment