माउंट आबू के प्रमुख पर्यटन स्थल

यूँ तो भारत में कई प्रमुख पर्यटन स्थल हैं जहाँ लाखों की संख्या में पर्यटक घूमने आते हैं लेकिन आज हम बात करेंगे राजस्थान के इकलौते हिल स्टेशन की और वो है माउंट आबू। गुजरात के नजदीक होने से यहाँ गुजरात के पर्यटक भी भारी संख्या में घूमने आते हैं। माउंट आबू एक पहाड़ी नगर है और अरावली पर्वतमालाओं से घिरा है जो इसकी खूबसूरती बढाती है। माउंट आबू में देखने लायक कई आकर्षक पर्यटन स्थल है, तो चलिए आज आपको माउंट आबू के प्रमुख पर्यटन स्थलों के बारे में बताते हैं जो माउंट आबू के मुख्य आकर्षण के केंद्र हैं।

नक्की झील – नक्की झील माउंट आबू का प्रमुख पर्यटन स्थल हैं जहाँ से खूबसूरत प्राकृतिक नजारा देखने को मिलता है। यहाँ आप बोटिंग का भी आनंद उठा सकते हैं। नक्की झील का भी अपना एक इतिहास है, दरअसल कहा जाता है की प्राचीन समय में एक रसिया बालम नाम का व्यक्ति माउंट आबू में काम की तलाश में आया था और उसे यहाँ के राजा की बेटी से प्यार हो गया। जब राजा के सामने ये बात आई तो उसने ये शर्त रखी की अगर रसिया बालम एक रात में अपने नाखूनों से झील बना दे तो वो अपनी बेटी से उसकी शादी करा देंगे। रसिया बालम ने राजकुमारी को पाने के लिए एक ही रात में अपने नाखूनों से झील खोद दी। इसी वजह से इस झील का नाम नक्की झील पड़ा।

सनसेट पॉइंट – माउंट आबू के सनसेट पॉइंट से सुबह और शाम को सूरज उगने और अस्त होने का खूबसूरत नजारा देखने को मिलता है और इसी कारण सुबह और शाम के समय ज्यादातर पर्यटक यहाँ का रुख कर लेते हैं।

टोड रॉक – ये स्थान भी पर्यटकों को ख़ास लुभाता है, यहाँ एक ऐसी चट्टान है जो मेंढक के आकार जैसी है मानों कोई मेंढक नदी में कूदने वाला हो। इसी के नजदीक एक और चट्टान है जिसे नन रौक कहा जाता है और ये चट्टान ऐसी लगती है मानों कोई स्त्री घूँघट निकाले हुई है।

म्यूजियम और आर्ट गैलरी – कला प्रेमियों के लिए ये ख़ास स्थान है जहाँ एक राजभवन है और उसमे कई तरह की शानदार आर्ट गैलरी देखने को मिलती है और यहाँ के म्यूजियम में कई प्राचीन वस्तुओं को देखने का मौका मिलता है।

गुरु-शिखर – गुरु शिखर अरावली पर्वत शृंखला की सबसे ऊँची चोटी है और यहाँ से माउंट आबू का सर्वश्रेस्ट नजारा देखने को मिलता है। माउंट आबू से करीब 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित गुरु-शिखर पर गुरू दत्तात्रय मंदिर है इसके अलावा यहाँ मंदिर शिव मंदिर, मीरा मंदिर और चामुंडी मंदिर भी प्रमुख हैं।

अचलगढ़ का किला – माउंट आबू में स्थित अचलगढ़ का किला वहां का एक प्राचीन किला है जो देखने योग्य है। इसके अलावा यहाँ मान्यता प्राप्त एक अचलेश्वर महादेव मंदिर भी है जहाँ लाखों श्रद्धालु आते हैं।

दिलवाडा जैन मंदिर – दिलवाडा जैन मंदिर यहाँ के प्रमुख स्थलों में से एक है। संगमरमर के पत्थरों द्वारा शानदार नक्काशी से निर्मित इस मंदिर में जैन पौराणिक कथाओं का चित्रण देखने को मिलता है।

माउंट आबू वन्यजीव अभ्यारण्य – माउंट आबू का वन्यजीव अभ्यारण्य भी पर्यटकों को ख़ास लुभाता है। यहाँ के जंगलों में तेंदुए, गीदड़, जंगली बिल्लियां, सांभर, भारत कस्तूरी बिलाव आदि देखने का मौका मिलता है।

आपको यह लेख कैसा लगा? अगर इस लेख से आपको कोई भी मदद मिलती है तो हमें बहुत खुशी होगी। अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे। हमारी शुभकामनाएँ आपके साथ है, हमेशा स्वस्थ रहे और खुश रहे।

“केरल के प्रमुख पर्यटन स्थल”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।