भारत में 10 ऐसी जगह जहाँ आपको जरूर घूमने जाना चाहिए

जनवरी 18, 2016

आज हम आपको बताने जा रहे हैं भारत की दस ऐसी जगह जहाँ आपको जरूर घूमने जाना चाहिए। “घूमना एक ऐसी प्रक्रिया है जो इंसान को कथा वाचक बना देती है ” – इब्न बत्तुता! अगर इन शब्दों को समझा जाये तो यह कहना गलत नहीं होगा की जब हम कहीं भी घूमने जाते हैं तो वहां की सारी यादें एक कथा के रूप में हमे याद रह जाती हैं।

1. सवाई माधोपुर – सवाई माधोपुर का निर्माण जयपुर के राजा सवाई माधो सिंह प्रथम के नाम पर किया गया था। यहाँ पर घूमने के लिए कई प्रसिद्ध मंदिर हैं, किले हैं और नेशनल पार्क हैं जहाँ पर आप शेर आसानी से देख सकते हैं। यह बात जरूर है की अगर आप सवाई माधोपुर गए तो यह जगह आपको हमेशा याद रहेगी।

2. खुजराहो – मध्य प्रदेश के छत्तरपुर स्थित खुजराहो के मंदिर टूरिस्ट के आकर्षण का केंद्र रहे हैं। यहाँ पर स्थापित मूर्तियां एवं कलाकृती अति अविस्मरणीय हैं। इन मंदिरों का निर्माण 950 – 1000 ईसा पूर्व चंदेल वंश के राजाओं ने करवाया था। यहाँ पर आपको भारत में विस्थापित कला एवं भौतिकी का ज्ञान होगा।

3. गुलमर्ग – कश्मीर में स्थित यह जगह अपनी प्राकृतिक सम्पदाओं के लिए मश्हूर हैं। गर्मी या सर्दी दोनों ही मौसम में यहाँ जाने का अलग ही आनंद हैं। यहाँ पर आप केबल राइड, स्कीइंग अथवा घुड़सवारी का भी आनंद ले सकते हैं।

4. वाराणसी – वाराणसी का हिन्दू और बोध धर्म के लोगों के लिए अधिक महत्व है। यहाँ पर अधिकतर लोग तीर्थ यात्रा के लिए आते हैं क्योँकि इस शहर की धार्मिक आस्था बहुत अधिक है। लेकिन अगर आप इस शहर में कभी नहीं गए हैं तो यहाँ जाके आपको अत्यंत आनंद एवं शांति की अनुभूति होगी।

5. पॉन्डिचेरी – पॉन्डिचेरी को भारत में फ्रेंच टाउन के नाम से भी जाना जाता है। यहाँ पर आपको आज़ादी से पहले ब्रिटिश और डच काल के कई ऐसे स्मारक और इमारतें दिख जाएँगी जो उस काल में इन लोगों की उपस्थिति आज भी दर्ज करा रही हैं। इस शहर में आपको नयी एवं पुरानी सभ्यता का संगम देखने को मिलेगा।

6. अल्मोड़ा – उत्तराखंड स्थित अल्मोड़ा एक बहुत ही आकर्षक एवं प्राकृतिक सम्पदाओं से भरपूर पर्यटक स्थल हैं। यह हमारा दावा है की आपने ऐसे नज़ारे कभी नहीं देखें होंगे।

7 दार्जिलिंग – दार्जिलिंग पश्चिम बंगाल राज्य का एक नगर है। यह नगर शिवालिक पर्वतमाला में अवस्थित है। दार्जिलिंग शब्द की उत्त्पत्ति तिब्बती शब्द, दोर्जे (बज्र) और लिंग (स्थान) से हुई है। इसका अर्थ “बज्रका स्थान है।” यहां गर्मी अप्रैल से जून तक ही रहती है। इस समय के मौसम में थोड़ी बहुत ठण्ड हो जाती है। यहां बारिश जून से सितम्बर तक होती है। ग्रीष्‍म काल में ही यहां अधिकांश पर्यटक आते हैं।

8. माथेरान – मुंबई से मात्र 110 किलोमीटर दूर रायगढ़ जिले में मौजूद है प्राकृतिक खूबसूरती से भरा छोटा सा हिल स्टेशन – माथेरान। यहां की खासियत है कि यहां किसी भी प्रकार के वाहन का प्रवेश वर्जित है। यही वजह है कि यहां का वातावरण मन को शांति प्रदान करता है। शहर की भागदौड़ भरी जिंदगी से दूर सुकून के कुछ पल बिताने के लिये माथेरान बिल्कुल उपयुक्त स्थान है। मुंबई, पुणे और नासिक के लोगों की तो यह पसंदीदा जगह है ही लेकिन अब उत्तर और दक्षिण भारत के लोगों को भी यह स्थान अपनी ओर आकर्षित करने लगा है।

9. अमृतसर – अमृतसर पंजाब का सबसे महत्वपूर्ण और पवित्र शहर माना जाता है। पवित्र इसलिए माना जाता है क्योंकि सिक्खों का सबसे बडा गुरूद्वारा स्वर्ण मंदिर अमृतसर में ही है। ताजमहल के बाद सबसे ज्यादा पर्यटक अमृतसर के स्वर्ण मंदिर को ही देखने आते हैं।

10 . शिलांग – भारत के उत्तर-पूर्वी राज्य मेघालय की राजधानी है। भारत के पूर्वोत्तर में बसा शिलांग हमेशा से पर्यटकों के आकर्षण का केन्द्र रहा है। इसे भारत के पूरब का स्कॉटलैण्ड भी कहा जाता है। पहाड़ियों पर बसा छोटा और खूबसूरत शहर पहले असम की राजधानी था। असम के विभाजन के बाद मेघालय बना और शिलांग वहां की राजधानी। लगभग 1695 मीटर की ऊंचाई पर बसे इस शहर में मौसम हमेशा सुहावना बना रहता है। मानसून के दौरान जब यहां बारिश होती है, तो पूरे शहर की खूबसूरती और निखर जाती है और शिलांग के चारों तरफ के झरने जीवंत हो उठते है।

“सर्दियों में घूमने के लिए बेस्ट हैं भारत की ये जगहें”

अगर आप हिन्दी भाषा से प्रेम करते हैं और ये जानकारी आपको ज्ञानवर्धक लगी तो जरूर शेयर करें।
शेयर करें