दुनिया की 9 रहस्यमयी जगह जहां हम नहीं जा सकते

मनुष्य जाती स्वभाव से ही घुमंतू और जिज्ञासु रही है। प्रत्येक व्यक्ति अपनी इच्छानुसार सुलभ और दुर्लभ जगहों को देखना चाहता है। लेकिन दुनिया में ऐसे कई रहस्यमयी जगह है जहाँ आम आदमी का जाना मना है। कुछ जगह को जीव-जन्तु और पर्यावरण को बचाने हेतु प्रतिबंधित किया गया है तो कुछ जगह को गुप्त सैन्य संस्थान के कारण, तो कुछ जगह ऐसी भी है जहाँ जाना जानलेवा हो सकता है। हम धरती वासी होते हुए भी हमें कई ऐसी जगह नही जाने दिया जाता क्योंकि यह हमारे ही हित में है। दुनिया में रहस्यमयी जगह, अविश्वसनीय और अद्भुत चीजों की कोई कमी नहीं है। विज्ञान चाहे कितनी भी तरक्की कर ले, लेकिन प्रकृति के रहस्य को समझना और उसे सुलझाना आज भी उसके लिए असंभव है। विज्ञान को कई जगहों में सफलता भी मिली है लेकिन फिर भी दुनिया में ना जानें ऐसी कितनी रहस्यमयी जगह है जो आज भी आम इंसानों की पहुँच से परे है।

आज हमारी चर्चा का विषय बहुत ही रोमांचक और आश्चर्यजनक है। जैसा की हमने पहले भी कहा है हम मनुष्य बहुत ही इच्छुक और उत्सुक होते है। जिस स्थान को देखने की रोक लगाई जाती है मनुष्य उस स्थान को जानने और देखने की उत्सुकता को रोक नही पाता। लेकिन विश्व के कई स्थानों को सुरक्षा की दृष्टि से रहस्य बना कर रखा जाता है जो आम इंसान की पहुँच से बहुत दूर होते है। ऐसे स्थानों की यात्रा करना सुरक्षा के दृष्टिकोण से काफी संवेदनशील माना जाता है।

इनमे से 9 रहस्यमयी जगह को हम आपके सामने उजागर करेंगे जहाँ हम सबका जाना सख़्त मना है। इन प्राचीन रहस्यमयी जगहों के बारे में जानकर आपको काफ़ी हैरानी होगी और जानकारी भी मिलेगी। तो आइये दोस्तों, इस रोचक जानकारी के सफ़र में हम आगे बढ़े।

1. उत्तर सेंटिनल द्वीप – भारत के अंडमान निकोबार द्वीप समूह में स्थित यह द्वीप आदिवासियों का घर है। यह विश्व के ऐसे एकमात्र लोग है जो 21वीं सदी में भी पाषण युग का जीवन जी रहे है। आधुनिकता इनसे कोसों दूर है। इन्हें अपने द्वीप पर किसी का भी आवागमन पसंद नही। इनसे आज तक जितने भी संपर्क बनाने के प्रयास किए गये सब बेकार साबित हुए। क्योंकि यह अपने द्वीप के समीप किसी को भी देखते ही तीर-भालों से हमला कर देते है। जिसका कारण यह है की ये आदिवासी अपने पर्यावरण एवं संस्कृति की रक्षा करने में इतनी रुचि रखते है की ये किसी भी अजनबी की जान लेने से भी नही हिचकिचाते। इसलिए ये संसार के सबसे सुरक्षित एवं खतरनाक आदिवासी माने जाते हैं। आखरी बार यह घटना 2006 में हुई थी जब दो मछुआरों की नाव ग़लती से इनके द्वीप के किनारे लग गई थी और इन आदिवासियों ने तीर-भालों से उनकी हत्या कर दी थी। इस लिहाज से आप तकनीकी तौर पर तो यहां की यात्रा कर सकते हैं, परंतु मुश्किल यह है कि आप वहां से जीवित वापस नहीं आ पाएंगे।

2. वेटिकन के गुप्त संगृहालय – वेटिकन सिटी इटली की राजधानी रोम के अंदर स्थित एक छोटा सा स्वतंत्र देश है। वेटिकन के संग्राहालय और पुस्तकालय अमूल्य है इसलिए इसे अत्यंत ही गुप्त रखा जाता है। यहां आठवीं शताब्दी के दस्तावेज एवं अन्य गुप्त वस्तुएं भूतल के गहरे अंधकार में एक गोदाम में सुरक्षित रखी गई हैं। ताकि इन गुप्त दस्तावेजों तक कोई पहुंच ना सके। यहां गुप्त दस्तावेजों में प्रमुख है माइकल एंजेलो के पत्र और स्कोट के मेरी क्वीन के पत्र जिसमे वह अपने निष्कासन की आशा कर रही थी। साथ हीं सम्राट हेनरी 8 के विवाह संबंधी दस्तावेज भी मौजूद है। यह एक ऐसा स्थान है जहाँ जाना मना ही नहीं असंभव भी है।

3. सांपो का द्वीप – यह द्वीप ब्राजील के शहर साऊपोलो से 144 किमी. दूर अटलांटिक महासागर में स्थित है। कहा जाता है कि यह दुनिया का सबसे खतरनाक द्वीप है। ब्राजील का यह द्वीप दुनिया के सबसे जहरीले साँप ”गोल्डन लेंसहेड” का घर माना जाता है। 110 एकड़ के इस द्वीप पर लगभग 4000 सांप रहते है। यह साँप इतने जहरीले होते है की यह मनुष्य शरीर के मांस तक को गला सकते है। इसलिए यहां मनुष्यों के साथ-साथ किसी भी जीव का जाना मना है और अगर चले भी गए तो बचना नामुमकिन है। 2009 में ब्राजील ने जहाजों को इस द्वीप से दूर रखने के लिए एक लाइट हाउस बनवाया था। जिसे एक परिवार चलाता था, लेकिन 1920 में यह पूरा परिवार मृत पाया गया क्योंकि गोल्डन लेंसहेड इनके घर में घुस आया था। साँपों की भारी संख्या को देखते हुए इस लाइट हाउस को पूरी तरह से स्वचालित कर दिया गया है। साँपों के घनत्व और खतरों को देखते हुए ब्राजील सरकार ने पूरी तरह से इस द्वीप पर आने-जाने की पाबंदी लगा दी है और नेवी इस द्वीप के चारों ओर गश्त लगाती है। इस द्वीप पर सरकार की इजाज़त से सिर्फ़ चयनित जीव शोधकर्ता ही जा सकते है।

4. मेझेगोरे – यह एक प्रतिबंधित क्षेत्र है। यह रूस के बस्कोतोस्तान गणतंत्र में स्थित है। मेझेगोरे का पूरा शहर देखने में ऐसा प्रतीत होता है जैसे किसी गुप्त कार्य में व्यस्त हो। यहां के बारे में ज्यादातर लोगों का मानना है कि यहां एक गुप्त परमाणु मिसाइल केंद्र है। जिसकी रक्षा में रूसी सेना की एक पूरी बटालियन मुश्तेद है। कहा यह भी जाता है यहाँ स्थित मिसाइल प्रणाली स्वचालित सेंसर से युक्त है जो भविष्य में किसी भी तरह के परमाणु हमले की स्थिति में स्वयं ही निर्धारित लक्ष्य पर हमला करने में सक्षम है। इसलिए यहाँ आना-जाना सख़्त मना है। इतना ही नही यहाँ के स्थानीय निवासी भी सेना की इजाज़त के बिना शहर में आ जा नही सकते। इसके अलावा यहां ऐसे बंकर है जो युद्ध के दौरान रूस के खजाने की रक्षा कर सके। हो सकता है इस कारण ही यहां बाहरी इंसान का जाना पूरी तरह से मना है।

5. मेट्रो2 – यह एक भूमिगत मेट्रो रेल सेवा का नाम है जो रूस के मास्को शहर में गुप्त भूमिगत स्थान पर स्थित है। कहा जाता है यह मेट्रो शहर के पब्लिक मेट्रो के समानांतर चलती है। मेट्रो2 की लंबाई पब्लिक मेट्रो से अधिक है ऐसा कहा जाता है। सुनने में यह भी आता है इस मेट्रो का निर्माण जोसेफ स्टालिन के समय हुआ था और रूस की गुप्त एजेंसी KGB ने इसका नाम D-6 रखा था। कहा यह भी जाता है जोसेफ स्टालिन ने परमाणु हमले या आपातकालीन स्थिति में सुरक्षित जगह तक पहुँचने के लिए करवाया था। जिस कारण इस मेट्रो लाइन का निर्माण रूस के सरकारी मुख्यालय, सरकारी एयरपोर्ट और भूमिगत शहर रामेन्कि को सुरक्षा की दृष्टि से भूमिगत माध्यम से जोड़ता है। सुरक्षा को देखते हुए इस मेट्रो2 को ज़मीन से 50-200 मीटर की गहराई में बनवाया गया है। 1994 में अर्बन के एक नेता ने दावा किया की उन्होंने इस मेट्रो के अंदर जाने का रास्ता खोज निकाला है। लेकिन रसियन सरकार इस तरह की मेट्रो होने का दावा खारिज कर चुकी है।

6. खुनी पोखर – यह जापान के सबसे प्रसिद्ध स्थानों में से है। लेकिन यहा तैरना सख़्त मना है क्योंकि इस पोखर का तापमान 194 फॉरनहाइट रहता है। वैज्ञानिक दावे अनुसार इस झील में आइरन और लवण की मात्रा बहुत अधिक है। इस झील का पानी खून की तरह लाल है और पानी की सतह से निरंतर भाप वाष्पित होता रहता है। इस जगह को दूर से देखने पर ऐसा लगता है मानों खून उबल रहा हो। इसलिए यह तालाब जापान में ब्लडी पॉन्ड के नाम से मशहूर है। ख़तरे को देखते हुए लोग इस पोखर को देख तो सकते है लेकिन इसमें जा नही सकते।

7. वूमेरा – यह ऑस्ट्रेलिया में स्थित है। इस स्थान को ऑस्ट्रेलियाई सैनिक युद्ध अभ्यास के लिए उपयोग में लाते है। इसकी मिलिट्री टेस्टिंग रेंज 124,000 वर्ग किलोमीटर है। हालांकि इसे वर्जित क्षेत्र के तौर पर जाना जाता है, लेकिन वूमेरा का नज़दीकी शहर आम जनता के लिए खुला हुआ है। ऐसा कहा जाता है कि इस इलाके में सोने की खान का अथाह भंडार मौजूद है। इतना ही नही यहाँ लोहा, यूरेनियम आदि धातुओं के अयस्क भी मौजूद हैं। साथ ही ओपल रत्न का अथाह भंडार भी यहां मौजूद है। व्यवहारिक रूप से ये कहा जा सकता है यहा खान का अत्यंत बड़ा भंडार है। हो सकता है आप यहाँ जाने का कोई उचित कारण खोज भी लें लेकिन हम यही सलाह देंगे आप यहाँ जाने की कोशिश ना करे। फिर भी आप ऐसा करते है तो आपको पल-पल खतरों का सामना करना पड़ेगा। संक्षिप्त में यह कहना उचित होगा यह वीकेंड मनाने की जगह नही है। इस स्थान को सुरक्षित रखने और दुनिया की नजरों में इस जगह के पदार्थो को बचाए रखने के लिए यहां लोगों का प्रवेश पूरी तरह से वर्जित है। कहा जाता है यहां युद्ध करने मे उपयोग होने वाले सामग्रियों के भी बड़े भंडार मौजूद हैं।

8. कोका कोला रेसीपी कि गुप्त तिजोरी – कोका कोला एक ग्लोबल सॉफ्ट ड्रिंक कंपनी है जिसकी शुरुआत 1886 जॉर्जिया (अमेरिका) से हुई थी। अटलांटा में इसका हेड ऑफीस है। इस कंपनी ने अपना व्यापार एक खास रेसीपी के दम पर फैलाया था। लेकिन यह रेसीपी क्या है यह बात एक सदी के बाद भी रहस्य है। कोला की रेसीपी एक गुप्त तिजोरी में कैद है जिसकी चाबी अटलांटा के सन ट्रस्ट बैंक के पास है। इस तिजोरी को ‘गुप्त रेसीपी की तिजोरी’ का नाम दिया गया है। यदि आप इस तिजोरी को देखने की इच्छा रखते है तो आप को एक मोटी रकम की आवश्यकता पड़ेगी। लेकिन फिर भी आप रेसीपी तक नही पहुँच सकते, क्योंकि तिजोरी के अंदर भी एक सुरक्षित जगह पर इस रेसीपी को रखा गया है जहाँ पहुँचना असंभव है।

9. स्वालबार्ड वैश्विक बीज तिजोरी – इस तिजोरी में वैश्विक तौर पर जमा किए हुए 8,40,000 बीजों का संग्रह है। यह तिजोरी नार्वे के एक द्वीप पर स्थित है। संग्रह किए हुए बीजों में 4000 बीज अलग-अलग पेड़-पौधो के है। इस बीज बैंक का मुख्य उद्देश्य बीजों का ऐसा सुरक्षित संग्रह बनाना है की अगर भविष्य में कोई प्राकृतिक या मनुष्य निर्मित आपदा से अगर कोई जन-जाती नष्ट हो जाती है तो उस बीज कोष से लुप्त हुई जाती को फिर से इस धरती पर जीवन प्रदान किया जा सके। यह तिजोरी 11000 वर्ग फिट में फैली हुई है जिसकी सुरक्षा अत्याधुनिक तरीके से की जाती है और यहाँ के कुछ कर्मचारियों के अलावा किसी को भी ना आने की सख़्त हिदायत दी गई है। इस लिहाज से आम आदमी इस तिजोरी को देखने की सिर्फ़ कल्पना ही कर सकता है।

यह वो सारी प्रतिबंधित जगहें है जहाँ पहुँच पाना आम आदमी के लिए असंभव है। इनमें से कई जगह सुरक्षा की दृष्टि से तो कुछ जगह खतरनाक होने के कारण वहाँ नही जाने दिया जाता। अगर वैचारिक तौर पर देखा जाये तो यह सही भी है। क्योंकि दुनिया में इंसान की सुरक्षा सर्वोपरि है। हमनें आपको विश्व की कुछ रहस्यमयी जगहों के बारें में बताया है जबकि दुनिया में ऐसे बहुत सारे पॉइंट हैं, जहां जाना जानलेवा हो सकता है। लेकिन इसके बावजूद लोग वहां एडवेंचर के लिए घूमने जाते है। जबकि लोग जानते है ऐसी रहस्यमयी जगहों पर जाने से बचकर आने की संभावना ना के बराबर होती है। इसी कारण कई खतरनाक जगहों पर आज भी लोगों को जाने की सख़्त मनाही है।

इसलिए हमारी सलाह यही है आप ऐसी रहस्यमयी जगहों से दूरी बनाएँ रखे। दुनिया बहुत खूबसूरत है। घूमने-फिरने और प्रकृति को नज़दीक से समझने के लिए बेखोफ जगह का चुनाव करें और जिंदगी के मज़े लें। हमारी जानकारी आपको कैसी लगी? इस लेख के बारे में आप अपनी प्रतिक्रिया ज़रूर दें।

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

“ब्रम्हांड के अनसुने रहस्य”

शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment