घर की नकारात्मक ऊर्जा दूर करें इन वास्तु टिप्स से

हम सभी पॉजिटिव एनर्जी के महत्व को समझते हैं और जब बात घर की खुशहाली की हो तो हम सभी घर में खुशनुमा और सकारात्मक माहौल बनाना चाहते हैं। लेकिन अगर घर में वास्तु दोष हो तो घर की नकारात्मक ऊर्जा बढ़ती जाती है जो हमारे घर-परिवार की खुशियों पर विपरीत प्रभाव डालती है। इस विपरीत प्रभाव से बचाव का एक बेहतरीन और आसान तरीका है वास्तुशास्त्र का सहयोग लेना। ऐसे में घर की नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने के लिए कुछ आसान वास्तु टिप्स को अपनाना बेहतर होगा। तो चलिए, आज आपको बताते हैं घर की नकारात्मक ऊर्जा दूर करने के लिए कुछ ख़ास वास्तु टिप्स-

  • घर के मेन गेट को हमेशा साफ रखा जाना चाहिए और यहाँ रोशनी की अच्छी व्यवस्था भी होनी चाहिए।
  • घर के मेन गेट पर लकड़ी की दहलीज बनवाने से बाहर का कचरा अंदर नहीं आता। इसका अर्थ ये भी है कि बाहर से
  • नकारात्मक ऊर्जा घर में प्रवेश नहीं कर पाती है।
  • घर के मेन गेट पर गणेशजी की मूर्ति या तस्वीर लगानी चाहिए। आप चाहे तो ॐ भी लिख सकते हैं। ऐसे शुभ चिह्न बनाने से घर पर देवी-देवताओं की कृपा बनी रहती है।
  • मेन गेट के सामने फूलों की सुन्दर तस्वीर लगायी जा सकती है। गेट के सामने लगाने के लिए सूरजमुखी के फूलों की तस्वीर को शुभ माना जाता है।
  • घर के आसपास सूखा पेड़ नहीं होना चाहिए। ऐसा होने पर नेगेटिव एनर्जी बढ़ती है। इसकी जगह सुंदर और हरे-भरे पेड़ लगाने चाहिए।
  • घर में तुलसी का पौधा लगाने से बहुत से वास्तु दोष दूर हो जाते हैं। तुलसी के पौधे के पास रोज शाम को दीपक भी जलाना चाहिए।
  • अगर घर में फूलों को सजाते हैं तो ध्यान रखे कि ताज़े फूल ही सजाएँ क्योंकि सूखे और मुरझाये हुए फूल नकारात्मक ऊर्जा को बढ़ाते हैं।
  • बेडरूम की खिड़की से अगर सूखा पेड़, फैक्ट्री की चिमनी से निकलते धुएं जैसी चीज़ें दिखाई देती हैं तो खिड़की पर पर्दा लगा लें।
  • घर में अगर बंद घड़ियाँ रखी हैं तो उन्हें तुरंत हटा दें या चालू कर लें। बंद घड़ियाँ नकारात्मक ऊर्जा को बढ़ाती हैं।
  • समय-समय पर घर की मरम्मत और रंग रोगन करवाते रहना चाहिए ताकि घर में नयापन बना रहे और सकारात्मक माहौल बने।
  • घर की सफाई के बाद झाडू को ऐसे स्थान पर रख देना चाहिए जहाँ वो नज़रों के सामने ना दिखाई दे।
  • घर में सकारात्मक ऊर्जा और माहौल के लिए प्राकृतिक माहौल बनाना चाहिए जिसके लिए घर में हरे-भरे पौधे लगाने चाहिए।
  • घर की छत पर कबाड़ इकट्ठा ना होने दें बल्कि इसे एक कोने में रखें। कबाड़ फैला रहने से घर के सदस्यों के मन और दिमाग पर दबाव बना रहता है।
  • घर के दक्षिण-पश्चिम क्षेत्र यानी नैऋत्य कोण में अँधेरा नहीं रखना चाहिए और वायव्य कोण यानी उत्तर-पश्चिम क्षेत्र में तेज़ रोशनी का बल्ब नहीं लगाना चाहिए।
  • अगर घर पुराना है तो उसके कमरों में सीलन पैदा ना होने दें क्योंकि सीलन से बनी आकृतियां भी नकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करती है। इससे बचाव के लिए समय-समय पर रिपेयरिंग करवाते रहें।
  • घर में कालीन बिछाते समय इस बात का ध्यान रखें कि कमरों में पूरे फर्श को घेरते हुए कालीन बिछाने से पॉजिटिव ऊर्जा का संचार रुक जाता है।
  • घर को नेगेटिव एनर्जी से मुक्त करने के लिए पूर्व दिशा में मिट्टी के छोटे से पात्र में नमक भर कर रखें और हर 24 घंटे के बाद इस नमक को बदल दें।
  • घर का मेन गेट अगर उत्तर, उत्तर-पश्चिम या पश्चिम दिशा में हो, तो उसके ऊपर बाहर की तरफ घोड़े की नाल लगा देनी चाहिए। ऐसा करने से घर की सुरक्षा भी होती है और सकारात्मक ऊर्जा भी मिलती है।
  • घर में पेंट करवाते समय इस बात पर ज़रूर गौर करें कि पेंट एक-सा ही हो यानी शेड भले ही एक से ज़्यादा हों लेकिन शेड्स का तालमेल सही होना चाहिए।
  • घर के किसी भी कोने का प्लास्टर उखड़ा हुआ नहीं होना चाहिए। ऐसा होने पर तुरंत इसे ठीक करा लें।

दोस्तों, इन आसान से वास्तु टिप्स के ज़रिये आप अपने घर की नकारात्मक ऊर्जा को दूर कर सकते हैं और पॉजिटिव एनर्जी किस तरह आपके घर-परिवार को खुशहाल बनाती है, ये तो आप भी बखूबी जानते हैं इसलिए बिना देर किये इन आसान टिप्स को अपनाकर नकारात्मक ऊर्जा को अपने घर से बाहर कर दीजिए।

हमने यह लेख प्रैक्टिकल अनुभव व जानकारी के आधार पर आपसे साझा किया है। अपनी सूझ-बुझ का इस्तेमाल करे। आपको यह लेख कैसा लगा? अगर इस लेख से आपको कोई भी मदद मिलती है तो हमें बहुत खुशी होगी। अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे। हमारी शुभकामनाएँ आपके साथ है, हमेशा स्वस्थ रहे और खुश रहे।

“दुकान या ऑफिस में वास्तुशास्त्र के नियम”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

अगर आप किसी विषय के विशेषज्ञ हैं और उस विषय पर अच्छे से लिख सकते हैं तो जागरूक पर जरुर शेयर करें। आप अपने लिखे हुए लेख को info@jagruk.in पर भेज सकते हैं। आपके लेख को आपके नाम, विवरण और फोटो के साथ जागरूक पर प्रकाशित किया जाएगा।
शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment