सबसे ज्यादा नशीले पदार्थ पैदा करने वाले देश

मई 20, 2017

एक रिपोर्ट के अनुसार दुनिया भर में करीब 23.4 करोड़ लोग ऐसे हैं जो ड्रग्स या किसी तरह के नशीले पदार्थ का सेवन करते हैं और नशीले पदार्थ के सेवन से पूरी दुनिया भर में लगभग 2 लाख लोग अपनी जान से हाथ धो बैठते हैं। इन आंकड़ों के बावजूद कुछ ऐसे प्रमुख देश हैं जो सबसे ज्यादा नशीले पदार्थों की पैदावार करते हैं। आइये आपको बताते हैं उन प्रमुख देशों के बारे में जो सबसे ज्यादा नशीले पदार्थ पैदा करने के लिए जाने जाते हैं।

अफगानिस्तान (अफीम और हेरोइन) – यूँ तो अफगानिस्तान काफी समय से अफीम और हेरोइन की पैदावार करता रहा है लेकिन जब से वहां नाटो सेनाओं की वापसी हुई है इनके उत्पादन में काफी इजाफा हुआ है। अफगानिस्तान दुनिया भर में सबसे ज्यादा अफीम का उत्पादन करने वाला देश है जहाँ हर साल करीब 5,000 से 6,000 टन अफीम की पैदावार की जाती है। अफगानिस्तान की अफीम सबसे ज्यादा अमेरिका और एशिया में निर्यात की जाती है।

कोलंबिया (कोकेन) – कोलंबिया, बोलीविया और पेरु दुनिया भर में कोकेन के सबसे बड़े उत्पादक हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक कोलंबिया में सालाना करीब 300 से 400 टन कोकेन पैदा की जाती है। कोकेन के सबसे बड़े बाजारों की बात करें तो उनमे दक्षिण अमेरिका, उत्तर अमेरिका और यूरोप प्रमुख हैं।

मोरक्को (गांजा) – मोरक्को गांजा पैदा करने वाला प्रमुख देश है जहाँ करीब 1,34,000 हेक्टेयर में गांजे की खेती की जाती है। रिपोर्ट की मानें तो मोरक्को में करीब 1500 टन चरस और गांजा पैदा किया जाता है। जब से मेक्सिको में चिकित्सकीय मैरिजुआना को कानूनी दर्जा मिला है तब से यहाँ गांजे की खेती और तेज हुई है।

म्यांमार (अफीम और हेरोइन) – दक्षिण पूर्वी एशिया में गोल्डन ट्राएंगल ऑफ म्यांमार, लाओस और कंबोडिया ऐसे देश हैं जो अफीम और हेरोइन की पैदावार में सबसे आगे हैं। रिपोर्ट्स की मानें तो यहां प्रतिवर्ष करीब 1000 टन अफीम पैदा की जाती है। यहां से अफीम और हेरोइन खरीदने वाले प्रमुख बाजार में थाइलैंड और इंडोनेशिया सहित दूसरे दक्षिण पूर्वी एशियाई देश प्रमुख हैं।

अमेरिका और मेक्सिको (क्रिस्टल मेथ) – क्रिस्टल मेथ एक कृत्रिम ड्रग है जिसे घरेलु लैब में आसानी से बनाया जा सकता है। हालाँकि अभी तक यह साफ़ नहीं हो पाया है की इसके सबसे बड़े निर्माता वाले देश कौन कौनसे हैं लेकिन आंकड़ों की माने तो वर्ष 2014 में अमेरिका में पुलिस ने क्रिस्टल मेथ तैयार करने वाली करीब 12,000 लेबों पर छापे मारे थे और 2014 में दुनिया भर से पकड़ी गई 144 टन क्रिस्टल मेथ में से 80% अमेरिका और मेक्सिको में पकड़ी गई थी। इसलिए यह मना जाता है की अमेरिका और मेक्सिको क्रिस्टल मेथ तैयार करने वाले प्रमुख देश हैं।

“दुनिया के 10 सबसे ज्यादा शिक्षित देश”

अगर आप हिन्दी भाषा से प्रेम करते हैं और ये जानकारी आपको ज्ञानवर्धक लगी तो जरूर शेयर करें।
शेयर करें