नीम के फायदे हैं आश्चर्यजनक

0

आइये जानते हैं नीम के फायदे। नीम एक ऐसी जड़ी-बूटी है जिसका इस्तेमाल आयुर्वेद, होमियोपैथी, नेचुरोपैथी और यूनानी चिकित्सा में किया जाता है। इस जड़ी-बूटी में 140 से भी ज़्यादा यौगिक मौजूद होते हैं।

नीम में पाए जाने वाले एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-फंगल और एंटी-सेप्टिक गुणों के कारण इसका इस्तेमाल शरीर से जुड़ी कई समस्याओं से निजात पाने में किया जाता है। तो चलिए, आज नीम के फायदे जानते हैं।

नीम के फायदे हैं आश्चर्यजनक 1

नीम के फायदे

त्वचा के लिए – त्वचा को खूबसूरत और चमकदार बनाये रखने में नीम आपकी काफी मदद कर सकता है क्योंकि इसमें उच्च स्तर के एंटी-ऑक्सीडेंट्स मौजूद होते हैं और इसके जीवाणुरोधी और विषाणुरोधी गुण त्वचा पर होने वाले मुहांसों, चक्कतों, दाग-धब्बों को दूर कर देते हैं।

इसके लिए नीम की कुछ ताज़ा पत्तियों का पेस्ट बनाकर अपनी त्वचा पर लगाएं और हर दिन ऐसा करके आप साफ़ और उजली त्वचा बड़ी आसानी से पा सकते हैं।

मसूड़ों और दांतों के लिए – मसूड़ों को मज़बूत रखना चाहते हैं तो नीम की दातुन करना शुरू कर दीजिये या फिर नीम से जुड़े उत्पादों का इस्तेमाल करके भी ये लाभ लिया जा सकता हैं क्योंकि नीम के जीवाणुरोधी गुण मुँह में पनप रहे बैक्टीरिया को खत्म कर देते हैं।

मसूड़ों की सूजन दूर करने के अलावा दांतों को भी चमकदार और मज़बूत बना देते हैं, साथ ही साँसों में ताज़गी भी लम्बे समय तक बनी रहती है।

डायबिटीज के लिए – ब्लड शुगर को कण्ट्रोल करने में नीम काफी फायदेमंद रहता है। इसकी पत्तियों के रस में ऐसे यौगिक होते हैं जो मधुमेह में काफी लाभप्रद साबित होते हैं।

रोज़ खाली पेट नीम की 4-5 पत्तियां चबाकर मधुमेह के खतरे को कम किया जा सकता हैं और डायबिटीज होने पर अपने डॉक्टर से परामर्श लेकर नीम की गोलियों या चूर्ण का सेवन किया जा सकता है।

नीम के फायदे हैं आश्चर्यजनक 2

नाखूनों की सेहत के लिए – अगर आपके नाखून कमज़ोर हैं तो नीम का तेल लगाना शुरू कर दीजिये। नीम के तेल में रोगाणुरोधी और कवकरोधी गुणों की मौजूदगी से नाखूनों पर फंगल इन्फेक्शन नहीं हो पाता है, साथ ही नाखून मजबूत भी बनते हैं।

कैंसर से बचाव के लिए – नीम के बीज, पत्ते, फूल और फल का अर्क ग्रीवा और प्रोस्टेट कैंसर में काफी प्रभावी रहता है।

ये प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाकर, सूजन को कम करके, कोशिका विभाजन को रोककर कैंसर के इलाज में मददगार हो सकता है लेकिन कैंसर के इलाज के दौरान नीम के उपयोग से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श अवश्य लें।

पेट के कीड़ों को दूर करने में – नीम में ऐसे गुण पाए जाते हैं जो पेट में रहने वाले परजीवी के जीवन चक्र और अपनी संख्या बढ़ाने की प्रवृत्ति में बाधा डालते हैं।

पेट के कीड़ों को मारने के अलावा विषाक्त पदार्थों को भी बाहर निकाल देते हैं जिससे परजीवियों का अंत हो जाता है और पेट दर्द भी दूर हो जाता है।

खून को साफ़ करने में – नीम का महत्वपूर्ण कार्य है रक्त को शुद्ध करना और विषाक्त और हानिकारक पदार्थों को शरीर से बाहर निकालना।

इसके अलावा शरीर के सभी भागों में ऑक्सीजन और आवश्यक पोषक तत्वों की पर्याप्त मात्रा पहुंचाने का कार्य भी नीम बखूबी करता है।

गठिया में राहत दिलाने में – गठिया होने की स्थिति में नीम काफी राहत पहुंचाता है। इसमें सूजन को कम करने और दर्द को दबाने के गुण मौजूद है जिसके कारण ये जोड़ों के दर्द और सूजन को कम कर देता है।

नीम के तेल की नियमित मालिश करने से भी जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द में काफी आराम मिलता है।

डैंड्रफ दूर करने में – बालों की अच्छी सेहत और सिर की त्वचा को रूखेपन और खुजली से बचाने के लिए डैंड्रफ को दूर करना ज़रूरी होता है।

इसके लिए नीम की पत्तियों को उबालकर उसके पानी से बालों को धोया जाए तो डैंड्रफ भी दूर हो जाती है और सिर की त्वचा भी स्वस्थ रहने लगती है।

नीम के फायदे हैं आश्चर्यजनक 3

नीम में मौजूद गुणों के कारण शरीर से जुड़ी कई समस्याओं का हल नीम में ही मिल जाता है। किडनी और लीवर की कार्यप्रणाली में सुधार लाने के साथ पाचन, श्वसन, संचार और मूत्र प्रणाली को भी स्वस्थ बनाये रखने में नीम का अहम योगदान होता है।

नीम के फायदे और इतने गुणों को जान लेने के बाद, अब आप भी इस कड़वे नीम से सेहत में घुलने वाली मिठास पर गौर करिये और नीम का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिये और इस तरह आसानी से मिलने वाली इस सेहतमंद चीज़ को अपनाकर अपनी सेहत को प्रकृति के नज़दीक ले आइये।

उम्मीद है जागरूक पर नीम के फायदे कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

नकारात्मक सोच से छुटकारा कैसे पाएं?

जागरूक यूट्यूब चैनल

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here