NFO की बाढ़ – निवेशक क्या करे?

जून 18, 2018

पिछले 3-4 महीनों से देखने में आ रहा है कि Mutual Fund में NFO(New Fund Offer) की बाढ़ सी आयी हुई है। पहले भी देखने में आया है कि जब-जब मार्केट तेज होता है तो शेयर मार्केट में व Mutual Funds में NFO की बरसात सी होने लगती है। हर कंपनियाँ बाज़ार से ज्यादा से ज्यादा पैसा उठाना चाहने लगती हैं।

बाजार से पैसा उठाना कोई गलत बात नहीं है परन्तु निवेशक व कंपनियाँ एक ही गलती हर बार दोहराती है। जब-जब बाज़ार तेज होता है उस समय ही निवेशक ज्यादा पैसा Invest करना चाहता है जबकि होना इसका ठीक उल्टा चाहिये। बाजार डाउन यानि मंदा होने पर निवेशकों को ज्यादा से ज्यादा पैसा Invest करना चाहिये और तेजी में एक निर्धारित दर से ज्यादा Return आने पर पैसा निकालना चाहिये। लेकिन मानवीय प्रवृत्ति है कि हम लोग तेज़ी में बहुत तेजी और मंदी में बहुत मंदी में आ जाते हैं। इसी कारण बार-बार कहता हूँ कि Wealth Creation के लिए एक अच्छा Financial Doctor होना चाहिये।

मेरी समस्त निवेशकों को सलाह है कि S.I.P करते समय कभी भी मार्केट नहीं देखना चाहिये। हाँ Lump-Sum Investments करते समय मार्केट ज़रूर देखना चाहिये। जैसा कि वर्तमान स्थिती में Mid & Small Cap = 40-50% तक Down है। सो ऐसे समय में निवेशकों को 4-5 साल का समय लेकर Mid Cap & Small Cap के NFO में पैसा लगाना चाहिये। साथियों एक बात मैं बार-बार कह रहा हूँ कि अगर आपका Financial Doctor अच्छा है तो वो आपकी मेहनत से की गयी कमाई को बेहतर तरीके से Growth करता रहेगा।

NFO की बाढ़ में अपने Financial Doctor की राय से ही दो-तीन NFO में पैसा लगाना चाहिये। NFO में पैसा Invest करने में कुछ फायदे व नुकसान होते हैं। फायदे ये होते हैं कि निवेशक को लगता है कि उसकी Unit 10 रूपये में Initial Value पर Purchase हो गयी है। नुकसान ये है कि चूंकि Fund नया है तो उसका कोई Track Record नहीं होता।

सो ऐसे में निवेशकों को अपने Financial Doctor की राय से व अपने Time Horizon के हिसाब से ही निवेश करना चाहिये।

वर्तमान में L&T MF, Mirae Asset, TATA MF, UTI, ESSEL व INVESCO कंपनी के NFO आये हुये हैं। मेरी राय में Mid & Small Cap – Sector में L & T, Sectorial Category में Mirae Asset, Diversified में ESSEL व Defensive Balanced Approach में INVESCO के NFO में पैसा लगाना चाहिये।

अन्त में अपने सारथी Financial Doctor की राय से ही निवेश करें।

sodhani-1 NFO की बाढ़ - निवेशक क्या करे?ये लेख फाइनेंशियल एडवाइजर श्री राजेश कुमार सोढानी, सोढानी इंवेस्टमेंट्स, जयपुर द्वारा प्रस्तुत है। फाइनेंशियल प्लानिंग पर आधारित ये लेख आपको कैसा लगा? अगर इस लेख से आपको कोई भी मदद मिलती है तो हमें बहुत खुशी होगी। अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे। हमारी शुभकामनाएँ आपके साथ है, हमेशा स्वस्थ रहे और खुश रहे।

“रिटायरमेंट प्लानिंग क्या है और क्यों जरूरी है?”

अगर आप हिन्दी भाषा से प्रेम करते हैं और ये जानकारी आपको ज्ञानवर्धक लगी तो जरूर शेयर करें।
शेयर करें