नॉर्थ कोरिया के जेलों का हाल जानकर आप हैरान रह जाएंगे

नॉर्थ कोरिया ह्यूमन राइट वायलेशन में सर्वप्रथम है और वहां के तानाशाह किम जोंग के बारे में आप आए दिन सुनते ही रहते हैं। आज हम आपको नॉर्थ कोरिया के जेलों में हो रहे अत्याचारों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे जानने के बाद आप स्तब्ध रह जाएंगे।

यहां पर कैदियों के साथ बेहद ही अमानवीय व्यवहार किया जाता है कैदियों को छिपकली, चूहे, सांप तक खाने पर मजबूर किया जाता है। यहां के कानून के मुताबिक अगर किसी परिवार के सदस्य ने कुछ जुर्म किया है तो उसकी तीन पीढ़ियों को सजा भुगतनी होती है। 2014 में आई यूएन कमीशन की लेबर कैंपस रिपोर्ट में यह बात सामने आई कि जेल में कैदियों को बड़ी खौफनाक यातनाएं दी जा रही है।

यहां पर कैदियों को भूखा रखा जाता है और फीमेल कैदियों के साथ बलात्कार तक किया जाता है। इस रिपोर्ट के मुताबिक यह बताया गया है कि 120000 कैदी अलग अलग जेलों में बंद हैं और इन्हें इतनी यातनाएं दी जाती हैं कि कई लोग अपना मानसिक संतुलन खो चुके हैं।

यह जेल किसी नर्क से कम नहीं है यहां पर कैदियों से 16 घंटे काम करवाया जाता है। कैदियों को जेल के बाहर ले जाकर लकड़ी कटाने से लेकर खदानों तक में काम करवाया जाता है। इन जेलों में खाने के नाम पर इन कैदियों को सड़े हुए मक्की के दाने और नमकीन सूप ही नसीब होता है।

90 के दशक में यहां पर भयंकर अकाल पड़ा था और कई लोग बेमौत मारे गए थे यह बताया जाता है कि उस समय जेल के अंदर लोग चूहे से लेकर छिपकली तक खाने पर मजबूर थे।

इन जिलों में मरने वाले कैदियों की लाशों को बेहद खराब तरह से रखा जाता है इन लाशों को जहां रखा जाता है वहां पर इतने चूहे है कि वह लाशों को कुतर देते हैं।

यहां पर कैदियों को कुत्तों से कटवाया जाता है और इस दौरान कई कैदियों की मृत्यु भी हो जाती है।

प्रेग्नेंट कैदियों को भी घंटों तक खड़ा रखा जाता है कई बार डिहाइड्रेशन से उन कैदियों की मृत्यु तक हो जाती है।

इस तस्वीर में दी गई पोजिशंस में कैदियों को बाधा जाता है और उनकी छाती पर तब तक लात मारी जाती है जब तक की वह खून की उल्टी ना करने लगे।

भूख और बदहाली से परेशान कैदी अपने सेल में मौजूद चूहे और सांप खाने पर कई बार मजबूर हो जाते हैं जिसे खाकर उनकी जान भी चली जाती है।

कैदियों को अलग अलग पोजीशन में घंटो तक खड़ा रखा जाता है।

स्ट्रेस मिटाने के लिए यहां के सैनिक कैदियों को घंटो तक पीटते हैं।

यहाँ पर कैदियों को छोटे सेल में रखा जाता है और उनपर चूहे चूड़ दिए जाते है।

कैदियों को अंदर और बहार डालने का दरवाजा बहुत छोटा है जिसमें से कैदियों को लत मार कर निकाला जाता है।