अब शायद कंप्यूटर की जरूरत नहीं है, जानिए क्यों ?

एक रोचक तथ्य के अनुसार यह बात सामने आई है की पिछले कुछ समय से लोगों की रूचि कम्प्यूटर्स में कम हुई है। जी हाँ, अपने सही सुना ऐसा इसलिए है की तकनीक का विकास इतना हो गया है की अब ज़माना गया की लोग कंप्यूटर के लिए आतुर हों अब वही लोग टेबलेट लेना ज्यादा पसंद करते हैं । ऐसा हो भी क्यों ना आज के इस युग में जहाँ सारी जनता नवीनीकरण चाहती है तो कंप्यूटर की जगह लैपटॉप या टेबलेट का इस्तेमाल कोई अचम्भा नहीं है।

तो चलिए इस विषय को थोड़ा विश्लेषित करते हैं की ऐसा क्यों और कैसे हो रहा है।

1. पारम्परिक कंप्यूटर में हार्डवेयर की अधिकता भी एक अहम कारण है जहाँ कंप्यूटर में कीबोर्ड और माउस को अलग से व्यवस्थित करना पड़ता था वहीँ टैबलेट और लैपटॉप में वो सभी चीज़ें इनबिल्ट ही आती हैं।

2. हर हार्डवेयर की अलग से खरीदना भी खरीदारों के लिए एक बड़ी समस्या थी जो की लैपटॉप और टैबलेट के आने के बाद खत्म सी हो गयी है। यह भी एक कारण है की लोग टैबलेट की तरफ आकर्षित हुए।

3. नित नए प्रयोगों के कारण टैबलेट और लैपटॉप में कंप्यूटर के मुकाबले ज़्यादा बदलाव हुए और यह लुभावने बदलाव भी टैबलेट और लैपटॉप की खरीद को बढ़ाने में सहायक हैं।

4. ऐप्स के आ जाने से लैपटॉप और टैबलेट उपभोगताओं की पहली पसंद हो गयी है और सीधे शब्दों में कहें तो यही वो कारक है जिसने कंप्यूटर की रूचि को खत्म सा कर दिया है।

बदलाव हर तकनीक में आता है और यही नियति का नियम भी है और हम सब को अब यह स्वीकार कर लेना चाहिए की कंप्यूटर का अब वो दर्जा नहीं रहा जो किसी ज़माने में हुआ करता था। टैबलेट और लैपटॉप का इस्तेमाल इतना आम हो गया है की लोग अब कंप्यूटर को भूल सा गए हैं।