ऑनलाइन सामान कैसे बेचे?

आइये जानते हैं ऑनलाइन सामान कैसे बेचे। इस ऑनलाइन रहने वाली दुनिया के बीच अगर आप अपने प्रोडक्ट को ज़्यादा से ज़्यादा बेचना चाहते हैं तो इसके लिए इस ऑनलाइन दुनिया के बीच में जाना और इसका हिस्सा बनना ज़रूरी है।

हो सकता है कि ऑनलाइन सामान बेचने का विचार आपको भी किसी नयी मुश्किल जैसा लगता हो लेकिन आप ये तो जानते ही हैं कि समय के साथ चला जाए तो तरक्की जल्दी मिलने लगती है।

ऑनलाइन सामान कैसे बेचे? 1

कुछ ऐसा ही ऑनलाइन सामान बेचने को लेकर भी कहा जा सकता है। आपकी दुकान पर जहाँ हर दिन कुछ चुनिंदा ग्राहक ही पहुँचते हैं वहां ऑनलाइन सामान बेचने की स्थिति में कितने ही लोग हर मिनट आपके प्रोडक्ट को देखते हैं।

ऐसे में ये तो आप समझ ही गए होंगे कि ऑनलाइन सामान बेचने का तरीका नया और आसान होने के साथ-साथ फायदेमन्द भी है।

अपनी सर्विस या प्रोडक्ट को डिटेल में डिस्प्ले करने का बेहतरीन माध्यम है ऑनलाइन व्यापार करना। तो चलिए, अब आपको बताते हैं कि ऑनलाइन सामान बेचने के लिए आपको क्या-क्या स्टेप्स पूरे करने की जरुरत होगी।

ऑनलाइन सामान कैसे बेचे? 2

ऑनलाइन सामान कैसे बेचे?

बिजनेस को ऑनलाइन शुरू करने के दो तरीके होते हैं-

वेबसाइट बनवाकर या पहले से मौजूद किसी ई-कॉमर्स पोर्टल पर सामान बेचकर। खुद की वेबसाइट बनवाकर, उस पर सामान बेचना काफी महंगा काम होता है और इसके लिए तकनीकी कुशलता की भी जरुरत होती है। ऐसे में शुरुआती स्तर पर किसी बड़ी ई-कॉमर्स साइट पर वेंडर बनकर सामान बेचना ज़्यादा सही विकल्प होगा।

ऐसे में अपने प्रोडक्ट को बेचने के लिए पॉपुलर वेबसाइट्स जैसे स्नैपडील, फ्लिपकार्ट, अमेजन, ईबे और लाइमरोड से जुड़ा जा सकता है।

रजिस्टर करने का तरीका – किसी ई-कॉमर्स साइट के ज़रिये बिजनेस बढ़ाने के लिए, उस साइट पर जाकर खुद को वेंडर के तौर पर रजिस्टर करना होता है।

इसके लिए ऑनलाइन एक रजिस्ट्रेशन फॉर्म की जरुरत पड़ती है। हर नामी ई-कॉमर्स साइट पर रजिस्ट्रेशन का तरीका लगभग एक जैसा ही होता है।

उदाहरण के तौर पर हम फ्लिपकार्ट पर सेलर अकाउंट बनाने का तरीका जानते हैं-

  • सबसे पहले seller.flipkart.com पर जाएँ।
  • यहाँ रजिस्टर करने के लिए ईमेल एड्रेस और फोन नंबर की जरुरत होती है।
  • इसे भरने के बाद अगले पेज पर जाएँ और अपने नाम के साथ लोकेशन लिखें।
  • इसके बाद आपके ईमेल पर भेजे गए लिंक पर क्लिक करके अपने अकाउंट को वेरिफाई करें।
  • अकाउंट वेरिफाई होने के बाद आपको सेलर हब में एंट्री मिल जाती है।
  • यहाँ आप सामान की लिस्टिंग, इन्वेंटरी मेंटेन, प्रमोशन से जुड़े ट्यूटोरियल देख सकते हैं।

एक बार प्रोडक्ट की लिस्टिंग होने के बाद आप फोन पर भी सलाह ले सकते हैं। फ्लिपकार्ट अपनी लॉजिस्टिक सर्विस के ज़रिये सामान पिक करवाती है जिसे पैक करके देने की जिम्मेदारी सेलर की होती है।

प्रोडक्ट डिलीवर होने के 10-15 दिनों में आपको अपने सामान की कीमत बैंक अकाउंट के ज़रिये मिल जाएगी। इसके लिए आपको अपना बैंक अकाउंट नंबर भी देना होगा।

बेहतर यही होगा कि आप अपनी कंपनी के नाम पर बैंक अकाउंट खुलवाएं क्योंकि इंडिविजुअल अकाउंट में मनी ट्रांसफर पर कई तरह की पाबंदियां होती हैं।

आपके सामान की वसूली गयी कीमत में से फ्लिपकार्ट एक फिक्स अमाउंट अपने पास कमीशन के तौर पर रखेगा जिसमें प्लेटफॉर्म पर बेचने का कमीशन फिक्स्ड चार्ज, सर्विस टैक्स और उपलब्ध करवाई गई लॉजिस्टिक सर्विस और पैकिंग का खर्च शामिल होता है।

ऑनलाइन सामान बेचने से जुड़ी जानकारी तो अब आपको मिल गयी है लेकिन अभी कुछ और बातों को जान लेना ज़रूरी है जैसे कि-

  • एक सेलर कई वेबसाइट्स पर रजिस्टर करवा सकता है।
  • अपना पैन नंबर, फोटो आइडेंटिटी कार्ड, परमानेंट एड्रेस और कम्पनी के नाम का बैंक अकाउंट आदि तैयार रखें।
  • आपके सामान में से कुछ सामान अगर टैक्स के दायरे में आता हो तो GST रजिस्ट्रेशन करवा लेना बेहतर होगा।
  • अपने पास डेस्कटॉप या लैपटॉप ज़रूर रखें ताकि सेलर डैशबोर्ड पर काम करना आसान हो जाये।
  • कंप्यूटर की बेसिक जानकारी और प्रोडक्ट की बढ़िया फोटो लेकर इसे अपलोड करने सम्बन्धी जानकारी भी ले लें।
  • इंटरनेट बैंकिंग के ज़रिये अकाउंट को अपडेट और ऑपरेट करना सीख लें।
  • अपने सामान की इन्वेंटरी बनाना यानी लेखा-जोखा बनाना बेहतर होगा।
  • अपने सामान की क्वालिटी और सामान वापिस आने की जिम्मेदारी सेलर को ही लेनी होती है। ऐसे में हिसाब-किताब को बारीकी से मेंटेन करना ज़रूरी हो जाता है।

ऑनलाइन सामान कैसे बेचे? 3

एक सुपरहिट सेलर बनने के लिए ये करें-

  • ग़लत जानकारी देने से बचें।
  • अपने प्रोडक्ट के बारे में विस्तार से बताएं।
  • प्रोडक्ट की इमेज से जुड़े किसी अंतर के बारे में खुलकर बताएं जैसे बटन का रंग सफेद नहीं, पीला है। ऐसा करने से कस्टमर का आप पर विश्वास बढ़ता है।
  • ऑर्डर मिलने के बाद तुरंत एक्शन लें और समय पर डिलीवर करें।
  • जो सामान आपके पास है, उसे ही डिस्प्ले करें।
  • सामान को सस्ता बेचने की बजाये उसकी क्वालिटी पर ज़ोर दें।
  • कंपनी की रिटर्न पॉलिसी को समझे।

दोस्तों, ये थी ऑनलाइन सामान बेचने से जुड़ी जानकारी, जिसका इस्तेमाल करके आप भी अपने सामान को ऑनलाइन बेचना शुरू कर सकते हैं और अपने बिजनेस को नयी ऊंचाइयों तक पहुंचा सकते हैं।

इसके लिए एक बात का ध्यान ज़रूर रखें कि सामान बेचने का ये तरीका शुरू करने से पहले इससे जुड़ी सभी ज़रूरी प्रक्रियाएं पूरी कर लें ताकि आपको कुछ भी हड़बड़ी में ना करना पड़े।

उम्मीद है जागरूक पर ऑनलाइन बिजनेस से जुड़ी ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए काफी फायदेमन्द भी साबित होगी।

पीने के पानी का टीडीएस कितना होना चाहिए?

जागरूक यूट्यूब चैनल