आपका पर्स कमर दर्द का सबसे बड़ा कारण है, जानिए कैसे

रोजमर्रा की जिंदगी में कई ऐसी चीज़ें हैं जिन्हे हम नजरअंदाज कर देते है लेकिन वो हमारे लिए बहुत गंभीर हो जाती हैं। ऐसी ही एक आदत है जो लगभग हर पुरुष की होती है और वो है पर्स को पेंट या जींस की पिछली जेब में रख़ना लेकिन शायद आपको ये नहीं पता की ये आदत आपके कमर दर्द का सबसे बड़ा कारण बन सकती है। जो लोग घंटों तक कुर्सी पर बैठकर काम करने वाली जॉब करते हैं उनके लिए तो ये खासतौर पर चेतावनी है क्योंकि उनमें कमर दर्द की सम्भावना ज्यादा होती है। अगर आप भी घंटों तक कुर्सी पर बैठने वाली जॉब करते हैं तो आगे से ध्यान रखें की बैठते समय पर्स आपकी पिछली जेब में ना हो।

पर्स को पीछे वाली जेब में रखने से ना सिर्फ कमर बल्कि पैरों में भी बुरा प्रभाव पड़ता है। लम्बे समय तक पर्स को पिछली जेब में रखकर बैठने से हमारी sciatic nerve सिकुड़ जाती है जो piriformis सिंड्रोम,पीठ दर्द और self-inflicted sciatica का कारण बनती है। असल में पर्स एक लकड़ी के गुठके जैसा होता है जिस पर लम्बे समय तक बैठे रहने से हमारी रीढ़ की हड्डी और शरीर का संतुलन बिगड़ जाता है। पर पर बैठने किसी पत्थर पर लम्बे समय तक बैठने जैसा ही होता है। इसके अलावा अगर आप 30 मिनट से ज्यादा पर्स पर बैठकर गाडी चलाते हैं तो भी कमर दर्द की समस्या होने की सम्भावना है।

क्या करें क्या ना करें – अगर आप भी लम्बे समय तक कुर्सी पर बैठे रहने की जॉब करते हैं तो आपको ख़ास ध्यान देने की आवश्यकता है की जब भी आप बैठें तो पर्स को पेंट या जींस की पिछली जेब से निकाल कर बाहर रख दें या फिर पर्स को अपने शर्ट की जेब में या पेंट में आगे की जेब में रखें। अगर आप कार चला रहे हैं तो बैठने से पहले पर्स अपनी जेब से निकाल कर बाहर रख दें। अगर आप बस या किसी दूसरे साधन से यात्रा कर रहे हैं तो आप अपने पर्स को अपने बैग में रख सकते हैं। इन सब बातों का ध्यान रखकर आप अपनी कमरदर्द और इससे जुडी कई गंभीर बिमारियों से बच सकते हैं।

“जोड़ों में दर्द होने पर कभी ना करें इन चीजों का सेवन”
“पानी के सेवन से करें सिरदर्द का इलाज, जानिए कैसे”
“सिर दर्द के कारण और इसके घरेलु उपचार”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।