पर्यटन का महत्व

आइये जानते हैं पर्यटन का महत्व। पर्यटन अपने आप में एक रोमांच रखता है। ये एक ऐसी यात्रा है जो मनोरंजन या फुर्सत के क्षणों का आनंद उठाने के लिए की जाती है। हमारे प्राचीन ग्रंथों में भी पर्यटन को आवश्यक बताया गया है।

ऐसे में पर्यटन के महत्त्व को जानना बेहतर होगा ताकि इसे फिजूलखर्ची समझकर हमेशा टालने की बजाए, हम इस बारे में सोचना शुरू कर सके। तो चलिए, आज जानते हैं पर्यटन का महत्त्व।

पर्यटन का महत्व 1

पर्यटन का महत्व

हमारे लिए पर्यटन का अर्थ घूमना फिरना, आनंद लेना और नयी-नयी जगहों को जानना होता है जबकि हमारे देश के ऋषि-मुनियों ने कहा है कि ‘बिना पर्यटन मानव अंधकार प्रेमी होकर रह जाएगा।’

संत ऑगस्टिन के अनुसार ‘बिना विश्व दर्शन ज्ञान ही अधूरा है।’ इसका अर्थ ये हुआ कि पर्यटन ना केवल मनोरंजन के लिए आवश्यक है बल्कि जीवन में ज्ञान अर्जित करने के लिए भी बहुत जरुरी है।

पर्यटन के जरिये ही लोगों को दूसरे देशों की संस्कृति, खानपान, रहन-सहन, बोली और अपनापन देखने का मौका मिलता है और वो जान पाते हैं कि भले ही दुनिया के अलग-अलग कोनों में रहने वाले लोग हमसे अलग दिखाई देते हों लेकिन उनकी सोच, विचार और समझ एक जैसी ही होती है।

पर्यटन का महत्व 2

पर्यटन जीवन में उत्साह भी लाता है क्योंकि रोजाना भागदौड़ भरी जिंदगी से ऊबने के बाद, घूमने जाने पर ही लोगों के जीवन में फिर से उत्साह और उमंग आती है जो उनके रोजमर्रा के दबाव को कम करने में मददगार साबित होती हैं।

संबंधों में नयापन लाने में भी पर्यटन का विशेष महत्त्व है क्योंकि व्यस्त जीवनशैली में परिवार और करीबी संबंधों को समय ना देने के कारण रिश्तों में तनाव आने लगता है जो अलगाव का कारण बनता है।

ऐसे में पर्यटन के जरिये ही परिवार और दोस्तों को पर्याप्त समय दिया जाता है जिससे संबंधों में फिर से नयी ऊर्जा और अपनापन आने लगता है।

पर्यटन से बहुत से लोगों को रोजगार भी मिलता है और देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने में भी पर्यटन का विशेष महत्त्व होता है।

जिस पर्यटन को आज तक समय और धन की बर्बादी समझा जाता था, उम्मीद है कि अब उसे जीवन की एक महत्वपूर्ण आवश्यकता के तौर पर देखा जा सकेगा।

उम्मीद है जागरूक पर पर्यटन का महत्व कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

दिमाग में नकारात्मक विचार क्यों आते हैं?

जागरूक यूट्यूब चैनल