पति पत्नी के बीच प्यार बढ़ाने के उपाय

सितम्बर 23, 2017

पति और पत्नी के बीच के रिश्ते की डोर एक-दूसरे के प्रति प्यार और विश्वास पर ही टिकी होती है। दोनों जन्मों तक एक दूसरे के सुख और दुख के साथी माने जाते हैं। इसलिए दांपत्य जीवन को बहुत संभाल कर रखा जाता है। रिश्तों में खटास आते ही दांपत्य जीवन में कई तरह की परेशानियां शुरू हो जाती हैं और कभी-कभी तो घर टूटने की कगार तक बात पहुंच जाती है। इसलिए यह बेहद जरूरी है कि पति और पत्नी जीवनभर एक-दूसरे के प्रति प्यार बनाए रखें। आइए जाने पति पत्नी के बीच प्यार बढ़ाने के क्या हैं उपाय।

भरोसा करें – पति पत्नी को एक दूसरे के ऊपर भरोसा रखना चाहिए। इससे दोनों में कभी गलतफहमी पैदा नहीं होती है और प्यार बना रहता है। एक दूसरे के ऊपर भरोसा करने से रिश्तों की डोर और ज्यादा मजबूत होती है इससे पति औऱ पत्नी दोनों को जीवन में आगे बढ़ने में मदद मिलता है।

छोटी से छोटी बात शेयर करें – दांपत्य जीवन में पति पत्नी को किसी से कोई बात नहीं छिपानी चाहिए। बातों को शेयर करने से उसका जल्दी ही समाधान निकल जाता है। अपनी पत्नी या पति से अपनी हर एक बात, दुख, तकलीफ और परेशानी शेयर करें इससे आप एक दूसरे के और करीब आएंगे और आपका प्यार भी बढ़ेगा।

पसंद का ध्यान रखें – पति पत्नी को एक दूसरे की पसंद का ध्यान रखना चाहिए। आपके पार्टनर को क्या अच्छा लगता है क्या नहीं अच्छा लगता है इस बात की जानकारी आपको जरूर होनी चाहिए। क्योंकि वक्त बेवक्त जब आप उसकी पसंद की चीजें उसे बनाकर देंगी तो उसकी खुशी दोगुनी हो जाएगी और इससे पति और पत्नी के बीच प्यार भी बढ़ेगा।

सरप्राइज दें – जब आपके पार्टनर ने किसी चीज के बारे में बिल्कुल उम्मीद ही न की हो तो उसे सरप्राइज देकर उसका दिल जीत लें। इससे आपका संबंध ही प्रगाढ़ नहीं होगा बल्कि एक दूसरे के प्रति और प्यार बढ़ जाएगा।

पार्टनर के साथ समय बिताएं – ज्यादातर शादीशुदा महिलाओं को इस बात की शिकायत रहती है कि उसके पति के पास उसके लिए समय ही नहीं है। इस छोटी सी बात को लेकर बेवजह दोनों के बीच तकरार होती रहती है। इसलिए जब भी समय मिले उसे गॉसिप या सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर बिताने की बजाय अपने पार्टनर के साथ टाइम स्पेंड करें। इससे आपका रिश्ता ही नहीं मजबूत होगा बल्कि दोनों के बीच प्यार भी बढ़ेगा।

गुस्सा आने पर शांत रहें – अगर आपके पार्टनर को गुस्सा आ रहा हो तो आप भी उसी वक्त उस पर आग बबूला न हों। उसकी बातों को ध्यान से सुनें कि वह किस वजह से गुस्सा है। आप उस वक्त धैर्य बनाए रखें क्यों कि जब आप धैर्य से सुनेगी तो आपका साथी जल्दी ही शांत हो जाएगा। इससे घर में शांति बनी रहेगी और पति और पत्नी के बीच प्यार भी बढ़ेगा।

दोनों मिलकर निर्णय लें – पुरुष प्रधान इस समाज में घर की महिलाओं को शामिल किए बिना ही कोई बड़ा या छोटा फैसला ले लिया जाता है। इससे महिला घर में अपनी कम अहमियत महसूस करती है। इसलिए कोई भी फैसला लेते वक्त अपनी पत्नी की भी राय जानें। इससे आपको मालूम चलेगा कि उसके विचार कैसें हैं और पत्नी को भी अच्छा लगेगा। इसके अलावा आप दोनों में प्यार भी बना रहेगा।

“कैसे करें दूसरों की गलतियों को माफ़”

अगर आप हिन्दी भाषा से प्रेम करते हैं और ये जानकारी आपको ज्ञानवर्धक लगी तो जरूर शेयर करें।
शेयर करें