पीठ दर्द में राहत पहुंचाने वाले विशेष योगासन

लगातार कुर्सी पर बैठे रहने, कंप्यूटर पर काम करने, ग़लत बिस्तर पर सोने जैसे कई कारणों के चलते आजकल पीठ में दर्द रहना हर उम्र के लोगों की शिकायत बन गयी है। लगातार सक्रिय बने रहने के कारण मांसपेशियां थक जाती हैं जिससे कमर और पीठ में दर्द रहने लगता है जिसे समय रहते ठीक ना किया जाये तो बहुत तकलीफदेह हो जाता है। ऐसे में आज आपको बताते हैं पीठ दर्द में राहत पहुंचाने वाले विशेष योगासनों के बारे में –

पद्मासन-
पीठ दर्द में राहत पहुंचाने वाले आसनों में सबसे सरल और कारगर आसन पद्मासन है जिसका नियमित रूप से अभ्यास करने से बहुत जल्द पीठ दर्द से निजात मिल सकती है।

  • इस योगासन को करने के लिए आसन पर बैठ जाएँ।
  • अब धीरे-धीरे अपने पैरों को मोड़ें और पैरों के पंजों को दूसरे पैर की जांघ के ऊपर रख लें।
  • इस समय आपके पैरों के तलवे पेट की तरफ होने चाहिए।
  • कमर और गर्दन को एकदम सीधा रखें।
  • हाथों को मुद्रा स्थिति में घुटनों पर रखें।
  • दोनों कन्धों को बराबर और सीधे रखें।
  • अब आँखों को बंद करके धीरे धीरे सांस लें।
  • दोनों पंजों को अगर एक दूसरी जांघ पर रखने में तकलीफ हो तो केवल एक ही पंजे को जांघ पर रखकर इस आसन का अभ्यास करें।

ताड़ासन-

  • इस आसन को करने के लिए सीधे खड़े हो जाएँ।
  • अपने पैरों को पास-पास रखें और साँस लेते हुए दोनों हाथों को ऊपर की ओर उठायें।
  • दोनों हाथों को ऊपर की तरफ ले जाकर इनको उँगलियों से लॉक कर लें।
  • अब पैर के पंजों पर खड़े हो जाएँ और अपना संतुलन बनाये रखें।
  • अब सामने किसी बिंदु पर अपना ध्यान केंद्रित कर लें। कुछ समय इसी स्थिति में रहें।
  • अब सांस बाहर निकालते हुए सामान्य स्थिति में आ जाएँ।

मकरासन-

  • इस योगासन को करने के लिए मैट पर पेट के बल लेट जाएँ।
  • सिर और कन्धों को ऊपर उठायें।
  • ठोड़ी को हथेलियों पर और कोहनियों को जमीन पर टिका लें।
  • इस समय कोहनियों को पास रखने का प्रयास करें।
  • अब सांस लेते हुए पैरों को मोड़ें और साँस छोड़ते हुए पैरों को सीधा कर लें।

मार्जरी आसन-

  • इस आसन को करने के लिए अपने घुटनों और हाथों को जमीन पर सीधा रखते हुए घोड़े की मुद्रा बना लें।
  • इस समय हाथ एकदम सीधे होने चाहिए।
  • अब साँस अंदर लेते हुए अपनी रीढ़ की हड्डी को ऊपर की तरफ खींचें।
  • कुछ समय सांस रोककर धीरे-धीरे सांस छोड़ें और सामान्य अवस्था में आ जाएँ।

पवनमुक्तासन–

  • इस योगासन को करने के लिए चटाई पर पीठ के बल लेट जाएँ।
  • अब सांस छोड़ते हुए दोनों घुटनों को मोड़ लें और जांघों को छाती की तरफ लाएं।
  • इस समय घुटनों के ठीक नीचे दोनों हाथों की हथेलियों को एकदूसरे से पकड़ लें।
  • गहरा सांस लें और साँस छोड़ते हुए सिर और कन्धों को ऊपर उठायें।
  • अब घुटनों के बीच में नाक को स्पर्श करने का प्रयास करें।
  • कुछ क्षण इसी स्थिति में रहते हुए सांस लें और छोड़ें।
  • धीरे-धीरे सिर,कन्धा और पैरों को पूर्व स्थिति में ले आएं।
  • इसी प्रक्रिया को दोहराएं।

कटिचक्रासन-

  • सावधान की स्थिति में खड़े हो जाएं।
  • दोनों पैरों के बीच डेढ़ से दो फीट की दूरी बना लें।
  • अब अपने हाथों को कन्धों की सीध में फैलाये।
  • अब बाएं हाथ को दाएं कंधे पर रखें और दाएं हाथ को पीछे से बायीं ओर लाकर धड़ से लपेटें।
  • सांस लेने की क्रिया को सामान्य रखते हुए, मुँह को घुमाकर बाएं कंधे की सीध में ले आएं।
  • कुछ समय इसी अवस्था में रहने के बाद दायीं ओर से भी इसी क्रिया को दोहराएं।
  • इस क्रिया को दोनों हाथों से 3-4 बार करना चाहिए।

दोस्तों, अब आप पीठ दर्द में राहत दिलाने वाले आसनों के बारे में तो जान चुके हैं लेकिन इन्हें करने से पहले अपने डॉक्टर या योगा ट्रेनर से सलाह जरूर लें ताकि आपके पीठ दर्द की समस्या को ध्यान में रखते हुए सही आसन का चुनाव हो सके और आपको पीठ दर्द से निजात मिल सके, ना कि आपकी परेशानियां बढ़े।

हमने यह लेख प्रैक्टिकल अनुभव व जानकारी के आधार पर आपसे साझा किया है। अपनी सूझ-बुझ का इस्तेमाल करे। आपको यह लेख कैसा लगा? अगर इस लेख से आपको कोई भी मदद मिलती है तो हमें बहुत खुशी होगी। अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे। हमारी शुभकामनाएँ आपके साथ है, हमेशा स्वस्थ रहे और खुश रहे।

“अगर अच्छी नीन्द लेना चाहते हैँ तो करिए यह योगासन”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

अगर आप किसी विषय के विशेषज्ञ हैं और उस विषय पर अच्छे से लिख सकते हैं तो जागरूक पर जरुर शेयर करें। आप अपने लिखे हुए लेख को info@jagruk.in पर भेज सकते हैं। आपके लेख को आपके नाम, विवरण और फोटो के साथ जागरूक पर प्रकाशित किया जाएगा।
शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment