प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ

अगस्त 30, 2018

हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता जितनी मजबूत होती है उतना ही स्वस्थ हमारा शरीर रहता है। कई बार बढ़ती उम्र, तनाव, पोषण रहित आहार और अस्त-व्यस्त जीवनशैली के कारण प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने लगती है जिसके कारण बार-बार बीमार होने जैसी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में ये जान लेना बेहतर होगा कि कौनसे खाद्य पदार्थों में इम्यूनिटी बढ़ाने की क्षमता पायी जाती है ताकि आप भी इन्हें अपनी डाइट में शामिल करके शरीर को स्वस्थ बना सकें। तो चलिए, आज आपको बताते हैं प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थों के बारे में–

लहसुन – एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर लहसुन शरीर को बहुत-सी गंभीर बीमारियों से दूर रखता है और लहसुन में पाया जाने वाला एल्लीसिन नामक तत्व इन्फेक्शन से शरीर का बचाव करता है। अल्सर, हाई बीपी और कैंसर जैसे रोगों से शरीर की सुरक्षा करने की क्षमता लहसुन में पायी जाती है और लहसुन खाने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बहुत बढ़ जाती है।

अलसी – अलसी में ओमेगा-3 फैटी एसिड्स और अल्फा-लिनोलेनिक एसिड पाया जाता है जो रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद करता है। इतना ही नहीं, शाकाहारियों के लिए ओमेगा- 3 का सबसे अच्छा स्रोत अलसी ही है इसलिए अलसी का सेवन जरूर करना चाहिए ताकि शरीर के लिए आवश्यक ओमेगा-3 भी मिलता रहे और इम्यूनिटी भी बूस्ट हो जाए।

ग्रीन टी – ग्रीन टी के फायदों से तो आप भी परिचित होंगे क्योंकि एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर ग्रीन टी इम्यूनिटी को बढ़ाने के साथ-साथ वजन कम करने में भी सहायक होती है। इसमें मौजूद विटामिन-सी और पॉलीफेनोल्स के गुण शरीर को नुकसान पहुंचाने वाले बैक्टीरिया और वायरस को ख़त्म करके इम्यूनिटी को मजबूत बनाते हैं।

हरी सब्जियाँ और फल – विटामिन्स और मिनरल्स से भरपूर हरी सब्जियां अच्छी सेहत के लिए बहुत जरुरी होती है। इनमें विटामिन ए, बी, सी के अलावा आयरन, कैल्शियम और फाइबर की प्रचुरता मौजूद होती है जो शरीर की इम्यूनिटी को बढ़ाती हैं। हरी सब्जियों में पाए जाने वाले एंटी-ऑक्सीडेंट्स शरीर को फ्री-रेडिकल्स से बचाते हैं और कैंसर जैसे गंभीर रोग से भी बचाव करते हैं। इन सब्जियों में मौजूद फाइबर, पाचन तंत्र को भी स्वस्थ बनाये रखता है। इनके अलावा विटामिन-सी से भरपूर फलों जैसे संतरा, पपीता, अमरुद, स्ट्रॉबेरी भी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद करते हैं।

ड्राई फ्रूट्स – ड्राई फ्रूट्स में विटामिन-ए पाया जाता है जो इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए जरुरी होता है। इसके अलावा ड्राई फ्रूट्स में प्रोटीन, मिनरल्स, फाइबर, आयरन, मैग्नीशियम और जिंक पाए जाते हैं जो शरीर को मजबूत और स्वस्थ बनाने में मददगार साबित होते हैं।

हल्दी – हल्दी इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने में बहुत कारगर साबित होती है। इसके अलावा खून को साफ करने और शरीर को दमकाने का काम भी हल्दी बखूबी करती है। हल्दी में मौजूद गुण अल्जाइमर और कैंसर जैसी बीमारियों से बचाव करते हैं और इसमें मौजूद करक्यूमिन नामक तत्व शरीर में ब्लड शुगर लेवल को कण्ट्रोल रखता है जिससे डायबिटीज जैसी बीमारियां शरीर के पास नहीं आ पाती हैं।

अंजीर – अंजीर में पोटैशियम, मैंगनीज और एंटी-ऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं। इसके सेवन से शरीर का pH लेवल कण्ट्रोल में रहता है और अंजीर में मिलने वाला फाइबर ब्लड शुगर के लेवल को कण्ट्रोल में रखने में भी सहायक रहता है।

दही – दही में पाए जाने वाले बैक्टीरिया और पोषक तत्व एंटी-बायोटिक की तरह काम करते हैं और हमारी शरीर की प्रतिरोधक क्षमता में इजाफा करते हैं। दही में विटामिन्स, प्रोटीन, कैल्शियम, लेक्टोज, आयरन और फास्फोरस जैसे खनिज तत्व मौजूद होते हैं जो शरीर को बीमारियों से लड़ने की ताकत देते हैं।

मशरूम – मशरूम का सेवन करके भी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाया जा सकता है क्योंकि मशरूम श्वेत रक्त कोशिकाओं यानी WBC के काम को बढ़ा देता है जिससे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद मिलती है।

मिर्च – मिर्च में केवल तीखापन ही नहीं होता है बल्कि ये शरीर के लिए नेचुरल ब्लड थिनर का काम भी करती है। मिर्ची में पाया जाने वाला बीटा कैरोटीन हमारे शरीर में जाने के बाद विटामिन-ए में बदल जाता है जो कई तरह के संक्रमण से रक्षा करता है। मिर्च खाने से शरीर का मेटाबॉलिज्म भी बेहतर बनता है।

दालचीनी – खुशबूदार दालचीनी भी इम्यूनिटी को बूस्ट करने में मदद करती है क्योंकि इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट गुण खून को जमने से रोकते हैं और हानिकारक बैक्टीरिया को भी बढ़ने नहीं देते हैं। दालचीनी खाने से शरीर का ब्लड शुगर लेवल और कोलेस्ट्रॉल भी कन्ट्रोल में रहता है।

दोस्तों, अब आप जान चुके हैं कि किन खाद्य पदार्थों का सेवन करके अपने इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाया जा सकता है इसलिए अभी से इन पौष्टिक खाद्य पदार्थों को अपने आहार में शामिल कर लीजिये और अपनी इम्यूनिटी को बूस्ट कर लीजिये ताकि कोई भी बीमारी आपके आसपास भी ना आ सके।

उम्मीद है कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

“एंटीबायोटिक क्या होती हैं?”

शेयर करें