प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करे?

अगस्त 28, 2018

प्रतियोगी परीक्षाओं के इस दौर में हर प्रतियोगी अच्छे अंकों से पास होना और पसंदीदा नौकरी पाना चाहता है और इस चाहत को पूरा करने के लिए हर प्रतियोगी अपनी तरफ से पूरा प्रयास भी करता है। कुछ स्टूडेंट्स कोचिंग क्लासेज ज्वाइन कर लेते हैं तो कुछ सेल्फ स्टडी के जरिये बाजी मारने की कोशिश करते हैं। हो सकता है कि आप भी इस प्रतियोगी परीक्षा की दौड़ में शामिल हों और अपनी पूरी क्षमता लगाकर पास होने के लिए प्रयास कर रहे हों। ऐसे में अगर ये जान लिया जाए कि तैयारी करने का सही तरीका क्या है तो तैयारी करना आसान हो जाता है। तो चलिए, आज हम इसी बारे में बात करते हैं कि आपको प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी किस तरह करनी चाहिए-

आप चाहे कोचिंग क्लास में तैयारी कर रहे हों या सेल्फ स्टडी कर रहे हों, आपको इन बातों का विशेष ध्यान रखने की जरुरत होगी–

एग्जाम पैटर्न को समझें – हर एग्जाम का पैटर्न अलग होता है इसलिए उसे बारीकी से समझना बहुत जरुरी है। उसके बाद ही आगे की तैयारी की रुपरेखा बनायी जा सकती है। सबसे पहले एग्जाम के पैटर्न और सिलेबस को अच्छे से पढ़े – समझे, एग्जाम में आने वाले प्रश्नों के प्रकार और प्रकृति को समझकर आपके लिए तैयारी करना बहुत सरल हो जाएगा।

सही रणनीति बनाइये – एग्जाम के पैटर्न और सिलेबस को समझने के बाद ये जानना जरुरी है कि आप किस सब्जेक्ट में मजबूत पकड़ रखते हैं और कौनसे टॉपिक आपको कठिन लगते हैं। ये जानने के बाद आप हर सब्जेक्ट और टॉपिक को जरुरत के अनुसार समय दे सकेंगे और आपके सिलेबस का कोई भी हिस्सा कमजोर नहीं रह पाएगा बल्कि पूरे सिलेबस पर आपकी अच्छी पकड़ बन जाएगी।

प्रमाणित किताबें पढ़िए – कॉम्पिटिशन एग्जाम में अच्छा परफॉर्म करने के लिए ये जरुरी है कि आप सही और सटीक जानकारी देने वाली प्रमाणित किताबें ही पढ़ें। सही जानकारी ही आपको प्रश्नों के सही उत्तर देने में मदद करेगी और नेगेटिव मार्किंग से बचाएगी। इसके साथ आप अपने एग्जाम से सम्बंधित गाइड भी लें जिसमें आपको प्रश्न-पत्र मिल जायेंगे जिन्हें हल करने से आपका अच्छा अभ्यास हो जाएगा।

टाइम टेबल बनाइये – अगर आप समय पर सिलेबस पूरा करना चाहते हैं और हर सब्जेक्ट और टॉपिक की पूरी तैयारी समय पर कर लेना चाहते हैं तो टाइम टेबल जरूर बनाइए क्योंकि टाइम टेबल आपको अनुशासित करेगा और आप हर सब्जेक्ट को जरुरत के अनुसार समय दे सकेंगे।

नोट्स बनाइये – आपके पढ़ाई करने का तरीका जो भी हो, हर टॉपिक पढ़ते समय उससे जुड़ी ख़ास बातें जरूर नोट करिये ताकि वो टॉपिक भी अच्छे से समझ आ जाएँ और नोट्स में से मुख्य बिंदु पढ़ते ही आपको पूरा टॉपिक याद आ जाये। ये नोट्स एग्जाम से कुछ दिन पहले बहुत फायदेमन्द साबित होंगे।

दोस्तों, प्रतियोगी परीक्षा को पास करने के लिए सही स्टडी मैटेरियल, अनुशासन और इच्छा शक्ति की जरुरत होती है, तभी एक सही रणनीति बनाकर आप परीक्षा में उतर सकते हैं और बाजी मार सकते हैं इसलिए इस बार प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करते समय इन बातों पर भी जरूर गौर करिये और पूरी लगन और जतन से जुट जाइये।

उम्मीद है कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

“एंटीबायोटिक क्या होती हैं?”

शेयर करें