रानीखेत है सबसे मनमोहक और सुहावना पर्यटन स्थल

अगर आप अपने रोज़मर्रा के कामों से ब्रेक लेकर एक ऐसी जगह घूमने जाना चाहते हैं जहाँ फूलों से ढके रास्ते हो, देवदार और पाइन के लम्बे-लम्बे पेड़ हो और जहाँ का माहौल एकदम शांत और सुकून देने वाला हो तो इसके लिए आपको रानीखेत जाना चाहिए, जहाँ बर्फ से ढकी हुयी मध्य हिमालयी पहाड़ियां देखने का आनंद भी लिया जा सकता है। उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले में स्थित है रानीखेत हिल स्टेशन, जो समुद्र तल से 1824 मीटर की ऊंचाई पर स्थित एक छोटा सा खूबसूरत शहर है। कुमाऊं रेजिमेंट का मुख्यालय रानीखेत में होने के कारण यहाँ चारों ओर सफाई पर ख़ास ध्यान दिया जाता है।

इस स्थान का नाम रानीखेत कैसे पड़ा, इससे जुड़ी एक किवदंती है जिसके अनुसार सैंकड़ों साल पहले एक रानी जब इस जगह पर घूमने आयी तो यहाँ की प्राकृतिक सुंदरता से मोहित होकर उन्होंने इस स्थान को ही अपना स्थायी निवास बना लिया और तभी से इस क्षेत्र को रानीखेत कहा जाने लगा। इस स्थान की मनोरम प्राकृतिक छटाओं का अंदाज़ा इस बात से भी लगाया जा सकता है कि एक बार नीदरलैंड के राजदूत ने कहा था कि जिसने रानीखेत को नहीं देखा, उसने भारत को नहीं देखा।

यहाँ कई दर्शनीय स्थल हैं, आइये इनके बारे में जानते हैं –

गोल्फ कोर्स – रानीखेत में दुनिया का सबसे प्रसिद्ध गोल्फ का मैदान है जो उपट कालिका के नाम से भी जाना जाता है। यहाँ दूर-दूर तक चीड़ और देवदार के लम्बे, घने पेड़ मौजूद हैं जो अपनी तरफ आकर्षित कर ही लेते हैं।

चौबटिया गार्डन – यह गार्डन मुख्य रूप से फलों का रिसर्च केंद्र हैं, जिसे एशिया का सबसे बड़ा फलों का बगीचा माना जाता है। यहाँ सेब, खुमानी और अखरोट के साथ कई प्रकार के पेड़ देखे जा सकते हैं।

भालू डैम – चौबटिया गार्डन से 3 किमी. की दूरी पर स्थित ये डैम फिशिंग के लिए काफी प्रसिद्ध है।

ranikhet3 रानीखेत है सबसे मनमोहक और सुहावना पर्यटन स्थल

हेड़ाखान मंदिर – रानीखेत से 6 किलोमीटर की दूरी पर स्थित ये स्थान चिलियानौला नाम से भी जाना जाता है। ये स्थान अपने शांत वातावरण के लिए भी पहचाना जाता है और हिमालय की विशाल पर्वत श्रृंखला देखने के लिए भी पर्यटक यहाँ आते हैं। ख़ास बात ये है कि नंदा देवी पर्वत यहाँ से एकदम सामने दिखाई देता है।

झूला देवी मंदिर व राम मंदिर – दुर्गा माता को समर्पित है झूला देवी मंदिर। ये मंदिर मनोकामना पूरी करने के लिए जाना जाता है जहाँ मनोकामना पूरी होने पर घंटी चढ़ाने की मान्यता है। यहाँ से कुछ कदम की दूरी पर एक राम मंदिर भी है।

ranikhet1 रानीखेत है सबसे मनमोहक और सुहावना पर्यटन स्थल

इस हिल स्टेशन के बारे में जान लेने के बाद आप ने यहाँ घूमने का इरादा बनाना शुरू कर दिया होगा और यहाँ पहुंचने के लिए आप सड़क, रेल या हवाई सफर में से किसी का भी चुनाव कर सकते हैं। तो बस, देर किस बात की ! अगली बार घूमने के लिए इसी हिल स्टेशन का चुनाव करिये क्योंकि प्रकृति की ऐसी मनोरम छटा को आपका इंतज़ार है और आपको जिस प्राकृतिक सौन्दर्य और शांत वातावरण का आनंद लेने का अरमान है, वो यहाँ रानीखेत की सैर के दौरान पूरा हो ही जाएगा।

आपको यह लेख कैसा लगा? अगर इस लेख से आपको कोई भी मदद मिलती है तो हमें बहुत खुशी होगी। अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे। हमारी शुभकामनाएँ आपके साथ है, हमेशा स्वस्थ रहे और खुश रहे।

“कम बजट में करनी है विदेश की सैर तो ये जगहें हैं बेस्ट”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।