रेड कॉर्नर नोटिस क्या है?

अंतर्राष्ट्रीय आपराधिक पुलिस संगठन यानि इंटरपोल, अपने सदस्य देशों की पुलिस के बीच आपसी सहयोग बनाकर इंटरनेशनल क्रिमिनल्स को पकड़ने वाली एक अंतर्राष्ट्रीय संस्था है जो 8 तरह के नोटिस जारी करती है। ये नोटिस चार भाषाओं (अंग्रेजी,फ्रेंच,अरबी और स्पेनिश) में पब्लिश किये जाते हैं। इस तरह के नोटिस पब्लिश करने के पीछे इंटरपोल का उद्देश्य अपने सदस्य देशों की पुलिस को अलर्ट करके संदिग्ध अपराधियों को पकड़ना और खोये हुए लोगों के बारे में जानकारी जुटाना होता है। इन नोटिसों में से सबसे चर्चित नोटिस होता है -‘रेड कॉर्नर नोटिस’ जिसके बारे में जानकारी लेना आपके लिए रोचक और फायदेमंद हो सकता है इसलिए आइये, आज हम इसी नोटिस के बारे में बात करते हैं–

रेड कॉर्नर नोटिस ऐसे व्यक्ति को ढूंढने और अस्थाई रूप से गिरफ्तार करने का अनुरोध है जिसे आपराधिक मामले में दोषी ठहराया गया हो लेकिन ये नोटिस जारी होने का अर्थ ये नहीं होता है कि सम्बंधित व्यक्ति दोषी हो बल्कि उसे कोर्ट द्वारा मुजरिम करार दिया जाने पर ही वह दोषी साबित होता है।

रेड कॉर्नर नोटिस एक अंतर्राष्ट्रीय गिरफ्तारी वारंट नहीं है। जिस व्यक्ति के लिए ये नोटिस जारी किया जाता है उसे गिरफ्तार करने के लिए किसी भी सदस्य देश को मजबूर नहीं किया जा सकता है। हर सदस्य देश के पास ये अधिकार है कि वो अपने देश की सीमा के अंदर इन्टरपोल के इस नोटिस के कानूनी मूल्य को तय करे।

ये नोटिस सदस्य देश के अनुरोध पर, प्रधान सचिवालय द्वारा, किसी अपराधी के खिलाफ सदस्य देश द्वारा गिरफ़्तारी वारंट के आधार पर जारी किया जा सकता है। भारत सरकार के अनुरोध पर दाऊद इब्राहिम के खिलाफ ये नोटिस जारी किया गया है।

जिस संदिग्ध व्यक्ति के खिलाफ नोटिस जारी किया जाता है उसे पकड़ने के लिए इंटरपोल के हर सदस्य देश के हवाई अड्डों, रेलवे और जल सीमा जैसी जगहों पर पुलिस की कड़ी निगरानी रहती है। इन स्थानों पर उस व्यक्ति के पोस्टर चिपकाए जाते हैं और नजर में आते ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाता है। देश छोड़कर भागे भगोड़े मुजरिमों को पकड़ने के लिए, सभी देशों का सहयोग हासिल करने के लिए रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया जाता है।

इस नोटिस की मदद से, गिरफ्तार किये गए मुजरिम को उस देश भेज दिया जाता है जहाँ उसने क्राइम किया था और उसी देश के अनुसार उस पर मुकदमा चलता है और उसे सजा दी जाती है।

दोस्तों, अब आप इंटरपोल के चर्चित नोटिस यानि रेड कॉर्नर नोटिस के बारे में जान चुके हैं। उम्मीद है कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्या है?

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।