सबसे अधिक क्षारीय खाद्य पदार्थ

आज जानते हैं हमारे शरीर के लिए क्षारीय खाद्य पदार्थ का महत्व और कुछ सबसे अधिक क्षारीय खाद्य पदार्थ के बारे में। शरीर को स्वस्थ बनाये रखने के लिए शरीर का पीएच मान संतुलित होना चाहिए। पीएच मान किसी पदार्थ में अम्ल और क्षार के स्तर को मापने की यूनिट होती है। पीएच मान अगर 7 से कम हो तो पदार्थ की प्रकृति अम्लीय होती है और पीएच मान अगर 7 से ज्यादा हो तो पदार्थ क्षारीय प्रकृति का होता है। शरीर को होने वाली बीमारियों की शुरुआत अम्ल-क्षार के असंतुलन से ही शुरू होती है।

Visit Jagruk YouTube Channel

हमारे शरीर में 80 प्रतिशत क्षार और 20 प्रतिशत अम्ल होता है और अगर आहार के जरिये ये संतुलन बिगड़ जाए तो शरीर बीमारियों का घर बनने लगता है।

शरीर का पीएच 7.35 से 7.45 के बीच होता है तो एल्कलाइन (क्षार) का स्तर संतुलित रहता है जिससे थकान दूर होती है और शरीर ऊर्जा का अनुभव करता है।

ऐसे में आज जानते हैं ऐसे क्षारीय खाद्य पदार्थों के बारे में, जो आपके शरीर के पीएच लेवल को सन्तुलित बनाये रखने और शरीर को स्वस्थ रखने में मददगार साबित होंगे। तो चलिए, आज जानते हैं सबसे अधिक क्षारीय और पौष्टिक खाद्य पदार्थों के बारे में।

नींबू – सबसे अधिक क्षारीय खाद्य पदार्थ नींबू है जिसकी थोड़ी सी मात्रा ही भोजन का जायका बढ़ा देती है। ये कीटाणुनाशक होता है और लीवर के लिए भी काफी फायदेमंद होता है।

कंद मूल – मूली, गाजर, चुकंदर और शलजम जैसी जमीन के नीचे उगने वाली पौष्टिक सब्जियों का सेवन करके शरीर के एल्कलाइन स्तर को बैलेंस रखा जा सकता है।

गोभी, ब्रोकली – गोभी, ब्रोकली और बंद गोभी जैसी सब्जियां स्वादिष्ट और पौष्टिक होने के साथ पीएच लेवल को संतुलित रखने वाली भी होती है।

हरी पत्तेदार सब्जियां – हरी पत्तेदार सब्जियों में क्षारीय गुण ज्यादा पाए जाते हैं और पालक जैसी पत्तेदार सब्जियां पाचन को बेहतर बनाती हैं। साथ ही वजन कम करने में भी सहायक हो सकती है क्योंकि इसे खाने से पेट जल्दी भरने का अहसास होता है।

शिमला मिर्च – एंटीबैक्टीरियल गुणों से भरपूर शिमला मिर्च पीएच लेवल को बैलेंस करने के साथ हानिकारक फ्री-रेडिकल्स से भी शरीर का बचाव करती है।

“आँख का वजन कितना होता है?”