सांप का जहर कैसे काम करता है?

सांप का नाम सुनते ही हमारे रोंगटे खड़े हो जाते है और अगर सांप दिख जाये तो डर के मारे हमारी हालत खराब हो जाती है। हालाँकि हर सांप जहरीला हो ये जरुरी नहीं और हर सांप के जहर से मौत हो ये भी जरुरी नहीं लेकिन फिर भी सांप एक ऐसा जानवर है जिसका डर सभी को होता है। लेकिन क्या आपको पता है सांप का जहर कैसे काम करता है, कैसे ये हमारे शरीर में फैलकर हमारी मौत का कारण बन जाता है? आइये जानते हैं सांप का जहर कैसे काम करता है और सांप के जहर से जुडी कुछ रोचक जानकारियां।

Visit Jagruk YouTube Channel

सांप में एक विष ग्रंथि होती है और उसका जहर उसी में होता है ये विष ग्रंथि सांप के दांत से जुडी होती है जिसे विषदंत कहा जाता है। मानव शरीर में लार ग्रंथि की तरह ही सांप के शरीर में भी लार ग्रंथि होती है जो की विष ग्रंथि में बदल जाती है। दरअसल सांप के भोजन से उसकी विष ग्रंथि में एक द्रव्य पदार्थ बनता है जो उसके विष में बदल जाता है।

अगर सांप का जहर बिना खून में मिले सीधे मुँह के जरिये पिया जाये तो इसका जहर शरीर में नहीं फैलता क्योंकि ऐसे में सांप का जहर हमारे अमाशय में जाता है और अमाशय में पाचक एन्जाइम अम्ल उसे पचा लेते हैं और फिर वो आहार नाल से होता हुआ शरीर के बाहर निकल जाता है जिससे उसका शरीर पर असर नहीं होता। लेकिन अगर ये विष हमारे खून में मिल जाये तो ये जानलेवा हो सकता है इसलिए ऐसी चीज़ें आप बिलकुल भी आजमाकर ना देखें वरना ये जानलेवा हो सकता है।

लेकिन जब सांप किसी को काटता है तो वह अपने विष दन्त से काटता है ऐसे में सांप का जहर हमारे खून में चला जाता है और ये जानलेवा बन जाता है। सांप का जहर जब हमारे खून में मिल जाता है तो ये हमारी मासपेशियों, तंत्रिका तंत्र, रक्त संचरण, हृदय, श्वसन तंत्र आदि पर बेहद बुरा प्रभाव डालता है जिससे अगर समय पर सही उपचार ना मिले तो जान जाने तक का खतरा रहता है। खून में ऐसे पाचक एन्जाइम और अम्ल नहीं होते जो सांप के जहर को पचा सके और ऐसे में ये हमारे शरीर में फ़ैल जाता है और हमारे लिए जानलेवा बन जाता है।

इसी वजह से सांप काटने पर डॉक्टर द्वारा हमे जो दवाई दी जाती है वो सांप के जहर के लिए प्रतिरोधक दवा होती है जो सीधी हमारे खून में घुलकर सांप के जहर के असर को ख़त्म करती है। कई जगह आपने देखा होगा सांप के काट लेने पर कुछ लोग मुँह से चूसकर भी जहर निकाल देते हैं उसके पीछे भी यही सच्चाई है की अगर मुंह में छाले ना हों और जहर के खून में मिलने की स्थिति ना हो तो उसका हमारे शरीर पर कोई असर नहीं होता और ऐसे में सांप के काट लेने पर तुरंत मुंह से जहर खींच कर जान बचाई जा सकती है।

“किंग कोबरा से जुड़े अनसुने रोचक तथ्य”