सर्दियों में स्वस्थ रहना है तो भूलकर भी ना करें ये गलतियां

सर्दियों की दस्तक के साथ ही हमारी आदतों में भी बदलाव होने लगते हैं। हमारे शरीर में हर मौसम के साथ कई बदलाव होते हैं जिन्हें ग़लत तो नहीं कहा जा सकता लेकिन जब ये बदलाव ग़लती का रूप ले लेते हैं तो सेहत को नुकसान पहुंचा सकते हैं। ऐसे में सर्दी के मौसम में जाने-अनजाने में हम ऐसी कई गलतियां कर देते हैं जिन्हें हम सामान्य समझा करते हैं लेकिन ये हमारी भूल साबित होती है। ऐसे में क्यों ना आज ये जाने कि सर्दी में कौनसे ऐसे काम नहीं करने चाहिए जो शरीर के लिए परेशानी का सबब बन जाते हैं। तो चलिए, आज आपको बताते हैं कि सर्दियों में स्वस्थ रहना है तो आपको क्या नहीं करना चाहिए –

पानी कम पीना – गर्मियों में जहाँ बहुत सारा पानी पीते रहने की जरुरत महसूस होती है वहीँ सर्दियों में हर दिन बहुत थोड़ा पानी ही पीने में आता है। इसके पीछे हमारी ये सोच होती है कि सर्दियों में शरीर को ज़्यादा पानी की जरुरत नहीं होती लेकिन ये सच नहीं है। वास्तविकता में मौसम और हमारी प्यास का कोई सम्बन्ध नहीं है। हर मौसम में शरीर को पानी की जरुरत होती है।

ब्रिटिश डाइटिक एसोसिएशन के अनुसार, सर्दियों में भी शरीर को हाइड्रेट बनाये रखने के लिए कम से कम 2 लीटर पानी की जरुरत होती है और गुनगुना पानी पीने से सर्दियों में सेहत को बहुत फायदा मिलता है। पानी की कमी से होने वाली समस्याओं से तो आप परिचित है ही, यानी डिहाइड्रेशन से किडनी और अपच जैसी कई और बीमारियां होने का ख़तरा बढ़ जाता है इसलिए इन सर्दियों में कम पानी पीने की भूल बिलकुल ना करें।

avoid-things-in-winter सर्दियों में स्वस्थ रहना है तो भूलकर भी ना करें ये गलतियां

ज़रूरत से ज़्यादा खाना – सर्दियों और ज़ायके का काफी करीबी सम्बन्ध है लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि हम सर्दियों में बहुत ज़्यादा खाना शुरू कर दें। अक्सर यही होता है कि ठण्ड से बचने के लिए जंकफूड ज़्यादा खाया जाता है और एक्सरसाइज भी नहीं की जाती है जिससे ज़्यादा कैलोरी बर्न नहीं होती है।

ऐसे में सर्दियों में मोटापा और आलस बढ़ता जाता है और फिर से फिट बॉडी बना पाना काफी मुश्किल हो जाता है। इसके अलावा ज़्यादा जंकफूड खाने से क्या-क्या नुकसान होते हैं, ये तो आप जानते ही हैं। इसलिए इस सर्दी में इस ग़लती को ना दोहराएं और अपनी डाइट को बैलेंस रखने के साथ हेल्दी बनाने के लिए ताजे फल और हरी सब्जियां खूब खाएं।

जरुरत से ज़्यादा क्रीम लगाना – सर्दियों में स्किन को रुखा होने से बचाने के लिए आप दिन में कई बार क्रीम और लोशन लगाकर स्किन को मॉइश्चर दिया करते हैं लेकिन इस दौरान इस बात का ध्यान रखना भी बेहद ज़रूरी है कि आप जरुरत से ज़्यादा क्रीम और लोशन का इस्तेमाल तो नहीं कर रहें ? क्योंकि ऐसा करके आप स्किन एलर्जी की समस्या पैदा कर सकते हैं इसलिए इन सर्दियों में क्रीम-लोशन के बहुत अधिक इस्तेमाल से बचें।

जरुरत से ज्यादा गर्म कपड़े पहनना – सर्दियों में अक्सर ये सलाह दी जाती है कि ज़्यादा से ज़्यादा गर्म कपड़े पहनकर रहा जाए लेकिन ज़्यादा कपड़े पहनना आपको सर्दी से बचाने की बजाये बीमार भी कर सकता है क्योंकि ज़्यादा कपड़े पहनने से अक्सर ज़्यादा पसीना आता है और पसीना सूखने के बाद फिर से ज़्यादा ठण्ड लगती है और इस प्रक्रिया में बीमार होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं इसलिए इन सर्दियों में जरुरत के अनुसार ही गर्म कपड़े पहनें।

avoid-things-in-winter2 सर्दियों में स्वस्थ रहना है तो भूलकर भी ना करें ये गलतियां

हाथ-पैरों को ढ़ककर रखना – सर्दियों में अगर दस्तानों और मोजों से हाथ और पैर ढ़के रहें तो काफी आराम मिलता है लेकिन ऐसा करके आप अपने शरीर को मौसम के अनुकूल होने से रोक लेते हैं क्योंकि हाथ और पैर ही हमारे शरीर के वो अंग हैं जो हमें बाहर के मौसम के अनुकूल बनाते हैं। ऐसे में इन अंगों को ढ़क लेने से आपका शरीर बाहरी वातावरण से समायोजित नहीं हो पाता है इसलिए इन सर्दियों में अपने हाथ-पैरों को ढ़के नहीं।

तो दोस्तों, अब आप जान चुके हैं कि सर्दियों में हमारी आदतों में आने वाले कुछ बदलाव भले ही सामान्य दिखते हों लेकिन ये आदतें किस तरह हमारे शरीर और सेहत को नुकसान पहुंचाती हैं इसलिए इन सर्दियों में आप इन ग़लतियों को करने से बचिए और सर्दियों का भरपूर मजा लीजिये।

हमने यह लेख प्रैक्टिकल अनुभव व जानकारी के आधार पर आपसे साझा किया है। अपनी सूझ-बुझ का इस्तेमाल करे। आपको यह लेख कैसा लगा? अगर इस लेख से आपको कोई भी मदद मिलती है तो हमें बहुत खुशी होगी। अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे। हमारी शुभकामनाएँ आपके साथ है, हमेशा स्वस्थ रहे और खुश रहे।

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

“बुखार क्यों आता है हमें”