सर्दियों में अपनाएंगे ये नुस्खे तो रहेंगे एकदम स्वस्थ

दिसम्बर 18, 2017

सर्दी की दस्तक को अगर सही समय पर पहचान लिया जाए तो सर्दियों में आने वाली बहुत सी मुश्किलों से बड़ी आसानी से बचा जा सकता है और सर्दी जैसे खुशनुमा मौसम का भरपूर आनंद लिया जा सकता है क्योंकि सर्दी एक ऐसा मौसम है जो हममें से ज़्यादातर लोगों का मनपसंद मौसम है। लेकिन सर्दी में अगर ज़रा सी भी लापरवाही हो जाये तो जुकाम-बुखार और खांसी के अलावा फ्लू, अस्थमा, निमोनिया, कोल्ड डायरिया, हार्ट अटैक और हाई ब्लड प्रेशर जैसी कई गंभीर बीमारियां हो जाती हैं। ऐसे में सर्दी में सेहत को दुरुस्त बनाये रखने के लिए बस कुछ छोटी-छोटी बातों का ख्याल रखना ज़रूरी होता है। तो चलिए, आज आपको बताते हैं कि इन सर्दियों में आप अपनी सेहत को कैसे दुरुस्त रख सकते हैं-

बच्चों, बुजुर्गों और साँस के रोगियों को सर्दी से बचाव करना चाहिए – सामान्य सर्दी को सहन करने की क्षमता तो शरीर में होती है लेकिन जब सर्दी बहुत बढ़ जाती है और स्मॉग रहने लगता है तो बच्चों और बुजुर्गों की कमजोर इम्यूनिटी के कारण उन्हें तकलीफ हो सकती है। ऐसे में सर्दी से बचाव रखना ही सही विकल्प है। इनके अलावा साँस के रोगियों के लिए स्मॉग के दिनों में साँस लेने में तकलीफ रहती है। ऐसे में विशेष ध्यान दिए जाने की जरुरत होती है।

पर्याप्त पानी पीएं – सर्दियों में तापमान काफी कम रहता है और पसीना भी कम ही निकलता है जिसके कारण प्यास नहीं लगती है लेकिन फिर भी शरीर की आवश्यकता के लिए पर्याप्त पानी पीना जरुरी है इसलिए सर्दी में भी पानी जरूर पीएं ताकि आपकी इम्यूनिटी भी बेहतर बनी रहे और आये दिन होने वाली जुकाम-खांसी से आपका बचाव हो सके।

health-care-in-winter1 सर्दियों में अपनाएंगे ये नुस्खे तो रहेंगे एकदम स्वस्थ

धूप में जरूर बैठे – सर्दी की धूप आपको भी बेहद पसंद होंगी और ये धूप शरीर के लिए बहुत जरुरी भी होती है क्योंकि धूप में बैठने से शरीर को आवश्यक विटामिन-डी बड़ी आसानी से मिल जाता है। इसलिए बच्चों, बुजुर्गों, सांस के रोगियों, गठिया के मरीजों के अलावा एक स्वस्थ व्यक्ति को भी सर्दी में रोज धूप में कुछ समय जरूर बैठना चाहिए।

व्यायाम का समय बदलें – वैसे तो मॉर्निंग वॉक और सुबह की एक्सरसाइज को बेहतर माना जाता है लेकिन तेज़ सर्दी के दिनों में सुबह-सुबह एक्सरसाइज करने के लिए बाहर जाना शरीर पर विपरीत प्रभाव डाल सकता है। इससे बचने के लिए तेज़ सर्दियों में सुबह के समय, घर के अंदर ही हल्की एक्सरसाइज करनी चाहिए और मौसम के सामान्य हो जाने पर भी जॉगिंग, साइक्लिंग और टहलने जैसे व्यायाम ही करने चाहिए।

हीटर के ज्यादा इस्तेमाल से बचें – सर्दियों में जगह-जगह अलाव, हीटर और अंगीठी जलाकर ठण्ड को कम करने की कोशिश की जाती है लेकिन ऐसा करने से ना केवल जहरीली गैसें आसपास के वातावरण में फैलती है बल्कि आसपास की ऑक्सीजन भी सोख ली जाती है। खासकर बंद कमरों में इन उपकरणों के कारण जहरीली गैसें बाहर नहीं निकल पाती हैं और ऑक्सीजन की कमी हो जाने से दम घुटने लगता है और मौत भी हो सकती है। ऐसे में इन उपकरणों का सीमित इस्तेमाल ही करना चाहिए।

नशे के सेवन से दूर रहें – ऐसा माना जाता है कि सर्दियों में शराब और सिगरेट पीने से सर्दी नहीं लगती है लेकिन ये केवल एक भ्रम है क्योंकि इनके सेवन से शरीर में नाममात्र की गर्माहट जरूर आती है लेकिन इनसे होने वाले नुकसान इससे कहीं ज्यादा घातक होते हैं। शराब से सेवन से लीवर सिरोसिस जैसी गंभीर बीमारी हो जाती है और धूम्रपान से फेफड़ों से ऑक्सीजन ग्रहण करने की शरीर की क्षमता कम हो जाती है। इसके अलावा 40 प्रकार के कैंसर होने का ख़तरा भी बढ़ जाता है। ऐसे में इतनी गंभीर बीमारियों का शिकार होने से बेहतर तो यही होगा कि ठण्ड को दूर करने के इन विकल्पों को छोड़ दिया जाये।

health-care-in-winter2 सर्दियों में अपनाएंगे ये नुस्खे तो रहेंगे एकदम स्वस्थ

साफ-सफाई का ध्यान रखें – सर्दियों में पानी से दूरी बनाये रखने के प्रयास किये जाते हैं, इस मौसम में नहाना किसी मिशन को पूरा करने जैसा लगता है लेकिन फिर भी इस मौसम में नियमित रूप से नहाना ज़रूर चाहिए। गुनगुने पानी से नहाने से ना केवल थकान मिटती है बल्कि शरीर की अच्छे से सफाई होने से गन्दगी भी जमा नहीं हो पाती है।

इसके अलावा खाना खाने से पहले और शौच के बाद हाथ जरूर धोने चाहिए क्योंकि इस मौसम में ऐसे कई बैक्टीरिया और वायरस सक्रिय रहते हैं जो सामान्य सर्दी जुकाम के अलावा डायरिया और पेट दर्द जैसी बीमारियां फैलाते हैं और ऐसी बीमारियों की चपेट में आने से बेहतर तो यही है कि शरीर की नियमित सफाई का ध्यान रखा जाये।

हेल्दी खाना ही खाएं – भले ही सर्दियों में खाना जल्दी ख़राब नहीं होता है, इसके बावजूद ताजा खाने को ही प्राथमिकता दें। सर्दियों में मिलने वाली हरी सब्जियों और मौसमी फलों का भरपूर सेवन करना चाहिए अदरक, गाजर, खजूर, गुड़, बाजरा और तिल जैसी चीज़ें जरूर खानी चाहिए और इस मौसम में आप सूखे मेवों का भी पूरा आनंद उठा सकते हैं। इस तरह की हेल्दी डाइट से आप शरीर को एनर्जी भी प्रदान कर सकते हैं और प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर शरीर को स्वस्थ बना सकते हैं।

सर्दी जुकाम से बचाव करें – सर्दी के दिनों में ठण्ड लग जाने की स्थिति में तुलसी, लौंग और अदरक का काढ़ा बनाकर पिया जा सकता है। खांसी को दूर करने के लिए रोज, दिन में दो से तीन बार गुनगुने पानी में आधा चम्मच सेंधा नमक डालकर गरारे करने से आराम मिलता है और जुकाम हो जाने पर दो-तीन चम्मच अजवायन को हल्का सा भूनें और कपड़े में बांधकर पोटली बना लें और इस पोटली को थोड़ी-थोड़ी देर में सूंघते रहें। ऐसा करने से आपको राहत महसूस होगी।

दोस्तों, सर्दी में गर्म कपड़े पहनकर ठण्ड से अपना बचाव करना ही सबसे आसान और सरल उपाय है और अब आप जान चुके हैं कि इन सर्दियों में अपनी सेहत को दुरुस्त रखने के लिए गर्म कपड़ों के अलावा किन जरुरी चीज़ों की जरुरत होती है इसलिए इस सर्दी में इन सभी छोटी-छोटी लेकिन जरुरी बातों का ध्यान रखिये और इस सर्दी का भरपूर आनंद उठा लीजिये।

हमने यह लेख प्रैक्टिकल अनुभव व जानकारी के आधार पर आपसे साझा किया है। अपनी सूझ-बुझ का इस्तेमाल करे। आपको यह लेख कैसा लगा? अगर इस लेख से आपको कोई भी मदद मिलती है तो हमें बहुत खुशी होगी। अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे। हमारी शुभकामनाएँ आपके साथ है, हमेशा स्वस्थ रहे और खुश रहे।

“विटामिन ई क्यों ज़रूरी है हमारे शरीर के लिए”

अगर आप हिन्दी भाषा से प्रेम करते हैं और ये जानकारी आपको ज्ञानवर्धक लगी तो जरूर शेयर करें।
शेयर करें