अब स्लीपर सवारी कर सकती हैं 3rd AC में सफर, जानिए कैसे

अगर आपको कहा जाये की ट्रैन में अब आप स्लीपर क्लास की टिकेट पर 3rd AC में सफर कर सकते हैं वो भी बिना कोई अतिरिक्त शुल्क दिए तो शायद आपके लिए इससे ज्यादा ख़ुशी की बात और कोई नहीं हो सकती।

भारतीय रेलवे के नए अपग्रेडेशन सिस्टम में ये प्रावधान शुरू हुआ है की अब लोअर क्लास सवारियों को अपर क्लास में अपग्रेड किया जा सकता है और इसके लिए सवारी को कोई अतिरिक्त शुल्क भी नहीं देना होगा। जैसे स्लीपर क्लास की सवारी 3rd AC में और 3rd AC की सवारी 2nd AC में सफर कर सकती हैं। लेकिन रेलवे की तरफ से किये जाने वाले ये अपग्रेडेशन सिर्फ कन्फर्म टिकेट पर ही लागू होंगे।

अब टिकट बुक कराते समय आप ऑटो अपग्रेडेशन का ऑप्शन सेलेक्ट कर इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं, जिसमे आपको अपर क्लास में सफर करने का मौका मिल सकता है।

हालाँकि अगर आपने टिकट बुक कराते समय आप ऑटो अपग्रेडेशन का ऑप्शन नहीं चुना तब भी रेलवे द्वारा आपके टिकट को ऑटो अपग्रेड किया जा सकता है।

रेलवे की ये नई सुविधा करीब करीब मेल/एक्सप्रेस और शताब्दी सभी ट्रेनों में उपलब्ध होगी।

अगर आप ऑफ सीजन में अपनी टिकट बुक कराते हैं तो आपको ऑटो अपग्रेडेशन का लाभ मिलने की सम्भावना ज्यादा रहती है।

आपको बता दें की यात्रियों का ऑटो अपग्रेडेशन उसी स्थिति में किया जायेगा जब अपर क्लास में सीट अवेलेबल हो।

आप अपने अपग्रेडेशन की जानकारी ट्रैन के रवाना होने के समय से एक घंटे पहले 139 नंबर पर अपना PNR नंबर SMS कर मालूम कर सकते हैं।

अगर आपका टिकट रेलवे की तरफ से ऑटो अपग्रेड कर दिया गया है और आप किसी स्थिति में इस ऑटो अपग्रेडेशन का लाभ नहीं लेना चाहते तो आप अगली सवारी को इस सुविधा का मौका दे सकते हैं।

अगर आपके मन में ये शंका है की अगर आपका टिकट अपग्रेड हो चूका है और आपको अपना टिकट कैंसिल कराना हो तो आपको अपर क्लास के हिसाब से कैंसलेशन चार्ज देना होगा तो ऐसा नहीं होगा बल्कि आपका कैंसलेशन चार्ज उसी हिसाब से लगेगा जिस क्लास में अपने टिकट बुक कराया था।

शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment