स्वस्थ आँखों के लिए इन बातों का ख्याल रखें

जून 25, 2017

हमारी आँखें हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण और संवेदनशील अंग है, आँखों के बिना हमारे सभी काम अधूरे होते हैं ऐसे में अगर आँखों का ख़ास ख्याल ना रखा जाये तो हमारी दृष्टि पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है। आजकल बढ़ते प्रदुषण, पौष्टिक आहार की कमी, मोबाइल या कंप्यूटर पर घंटों बिताना आदि कई कारण होते हैं जो हमारी आँखों पर बहुत बुरा प्रभाव डालते हैं। तो आइये जानते हैं किस तरह हम हमारी आँखों की खास देखभाल कर सकते हैं ताकि हमारी ऑंखें हमेशा स्वस्थ रहें।

आंखां को अच्छी तरह धोना – हर रोज सुबह उठकर एक बरतम में थोड़ा ठंडा पानी लेकर उसमे अपनी आँखों को थोड़ी देर डुबोकर रखें ऐसे में अपनी ऑंखें खुली रखें और आँखों को पानी के अंदर चारों तरफ घुमाएं। ऐसा करने से आपकी आँखों को ठंडक मिलेगी और इन्फेक्शन का खतरा नहीं होगा। इस प्रक्रिया को दिन में 2-3 बार जरूर दोहराएं।

दूसरों का चश्मा पहनना है खतरनाक – हर व्यक्ति की आँखों की दृष्टि एक सामान नहीं होती और ऐसे में कभी भी दूसरों का चश्मा पहनने की गलती ना करें क्योंकि ऐसे में आँखों पर तनाव बढ़ता है और इससे सिरदर्द होने और आँखों की रौशनी कमजोर होने की समस्या हो सकती है।

आँखों का मेकअप – महिलाऐं अपने चेहरे की चमक बढ़ाने के लिए मेकअप करती हैं लेकिन उन्हें सलाह है की रात को सोने से पहले आँखों का मेकअप साफ़ करके सोना चाहिए क्योंकि ऐसा ना करना आँखों के लिए काफी नुकसानदायक हो सकता है। मेकअप प्रोडक्ट्स में कई तरह के केमिकल होते हैं जिनसे आँखों में इन्फेक्शन हो सकता है।

कंप्यूटर या मोबाइल पर ज्यादा समय ना बिताएं – जो लोग कंप्यूटर या मोबाइल पर लगातार कई घंटों तक काम करते हैं उनके लिए आँखों की ख़ास देखभाल बेहद आवश्यक हो जाती है ऐसे में अगर आपकी जॉब ऐसी है जहाँ लगातार कई घंटों तक कंप्यूटर पर काम करना पड़ता है तो आप थोड़ी थोड़ी देर में कंप्यूटर स्क्रीन से नजरें हटाकर आँखों को आराम दें और अपनी आंख धोएं।

समय-समय पर आंखों की जांच कराएं – जरुरी नहीं है की आप आँखों में परेशानी होने पर ही जाँच करें बल्कि समय समय पर आँखों की जाँच कराते रहनी चाहिए ताकि किसी प्रकार की समस्या होने पर उसे शुरूआती दौर में ही ठीक किया जा सके।

आंखों को ना रगड़े – ज्यादा देर तक टीवी देखने, कंप्यूटर या मोबाइल पर काम करने से या किसी अन्य कारण से हमारी आँखों में खुजली की शिकायत होने लगती है और ऐसे में हम ऑंखें मसलने लगते हैं जो की काफी खतरनाक साबित हो सकता है। ऐसा करने से हमारे हाथों के बैक्टीरिया आंखों में जा सकते हैं और इससे इन्फेक्शन होने का खतरा बढ़ जाता है।

कॉन्टेक्ट लैंस – आजकल चश्मा पुराना फैशन हो गया है और चेहरे पर बोझ बनता है इससे बचने के लिए लोग कॉन्टैक्ट लेंस लगाते हैं लेकिन बार बार लगाने और निकालने के झंझट से हम हर समय कॉन्टैक्ट लेंस लगाए रखते हैं जो की नुकसानदायक हो सकता है। रात को सोने से पहले कॉन्टैक्ट लेंस जरूर निकालकर सोएं वरना आँखों में धुंधलापन, दर्द और जलन जैसी शिकायत हो सकती है।

धूप का चश्मा लगाएं – बाहर की तेज धूप, धूल मिट्टी और गंदगी हमारी आँखों में जाती है जिससे इन्फेक्शन होने का खतरा बढ़ जाता है और आँखों में जलन, खुजली और एलर्जी जैसी शिकायत हो सकती है जिससे हमारी नजर कमजोर हो सकती है। ऐसे में जब भी बाहर जाएँ तो अपनी आँखों की सुरक्षा के लिए चश्मा जरूर लगाएं।

आँखों की रौशनी बढ़ाने के लिए खाएं गाजर – गाजर का सेवन हमारी आँखों के लिए बेहद फायदेमंद होता है इसलिए गाजर का ज्यादा से ज्यादा सेवन करें। गाजर में आंवला और चुकुन्दर मिलाकर इसका जूस बनाकर प्रतिदिन दो गिलास पियें आँखों की रौशनी बढ़ेगी और आँखों से जुडी समस्याओं में आराम मिलेगा।

“जानिए आखिर क्यों फड़कती हैं आंखें”

अगर आप हिन्दी भाषा से प्रेम करते हैं और ये जानकारी आपको ज्ञानवर्धक लगी तो जरूर शेयर करें।
शेयर करें