गर्मियोँ मेँ सिर्फ पानी से नहीँ बनेगी बात

जैसे-जैसे पारा चढता जाता है, शरीर मेँ पानी की आवश्यकता बढती जाती है। दरअसल, बार-बार पसीना निकलने के कारण डिहाइड्रेट होने का खतरा बना रहता है। ऐसे मेँ सिर्फ पानी पर ही निर्भर नहीँ रहा जा सकता। दरअसल, पानी भले ही कुछ क्षण के लिए आपकी प्यास बुझा देता हो लेकिन सिर्फ दो घूंट् पानी पीने से बात नहीँ बनने वाली। आज हम आपको कुछ ऐसी ही तरकीब बता रहे हैँ, जिससे आप बिना पानी पिए भी अपने शरीर की पानी की आवश्यकता को पूरा कर सकते हैँ।

कितना चाहिए पानी

वैसे तो आपने सभी से कहते हुए सुना होगा कि दिन मेँ 8-10 गिलास पानी पीना चाहिए। लेकिन हर व्यक्ति के शरीर के जल की आवश्यकता अलग-अलग होती है। आमतौर पर अधिक शारीरिक श्रम करने वाले, गर्भवती व स्तनपान कराने वाली महिलाओँ को सामान्य से अधिक पानी पीना चाहिए। इसके अतिरिक्त आपको अपने पेशाब पर भी ध्यान रखना चाहिए। यदि वह सामान्य से अधिक पीला है तो समझ लीजिए कि आपकी शरीर को अधिक तरल पदार्थ चाहिए। वहीँ आप अपने वजन से भी अपने शरीर की जल आवश्यकता के बारे मेँ जान सकते हैँ। इसके लिए आप अपने वजन को 30 से भाग देँ। फिर जितनी मात्रा आए, उतना लीटर पानी पीना शुरू कर देँ। उदाहरण के तौर पर, अगर आपका वजन 90 किग्रा है तो आपके शरीर को दिनभर मेँ 3 लीटर पानी की आवश्यकता होगी।

खाने का रखेँ ख्याल

शरीर मेँ वाटर इनटेक बढाने का एक सबसे अच्छा तरीका यह है कि आप अपने खाने मेँ ऐसे फल व सब्जियोँ को शामिल करेँ जिनमेँ पानी की मात्रा अधिक हो। आप अपने भोजन मेँ तरबूज, खरबूजा, संतरा, नीम्बू, खीरा, ककडी, ब्रोकली, घीया व तोरी आदि चीजेँ जरूर रखेँ। अगर आप नियमित रूप से इनका सेवन करेंगे तो आपके शरीर की 20-25 प्रतिशत तरल पदार्थ की आवश्यकता खुद ब खुद पूरी हो जाएगी।

और भी हैँ तरीके

शरीर मेँ पानी की कमी दूर करने व तरावट देने के लिए पानी के अतिरिक्त और भी तरल पदार्थोँ का सहारा लिया जा सकता है। मसलन, आप अपने स्वादानुसार मीठी या नमकीन लस्सी, बेल का जूस, गन्ने का रस, आम पना, नारियल पानी, आईस टी, मिल्क शेक आदि लेकर भी अपने शरीर को हाइड्रेट बनाए रख सकते हैँ।

इन बातोँ का रखेँ ध्यान

  • हालांकि गर्मियोँ मेँ अधिक तरल पदार्थ की आवश्यकता तो होती ही है, लेकिन फिर भी आपको अपने शरीर को हाइड्रेट बनाए रखने के लिए कुछ बातोँ का खास ख्याल रखना चाहिए।
  • बिना जरूरत के दोपहर के समय घर से बाहर न निकलेँ।
  • जब भी धूप मेँ निकलेँ तो छाता या हैट पहनकर ही बाहर निकलेँ।
  • गर्मियोँ मेँ कॉटन के कपडोँ को ही तवज्जो देँ। इनसे पसीना भी कम निकलता है और शरीर डिहाइड्रेट नहीँ होता।
  • अपने साथ पानी की बोतल हमेशा कैरी करेँ या मार्केट से नारियल पानी या लस्सी आदि पीना बिल्कुल भी न भूलेँ।
शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment