TAX बचाने के तरीके (ELSS FUND)

आज हम Income Tax बचाने के तरीकों के बारे में बात करेंगें। आप भी सोच रहे होंगें कि अभी तो Financial Year शुरू ही हुआ है और अभी से Tax Planning की बातें। हम भारतीय सामान्यतः हर काम Last Moment पर करने के आदी हैं। Tax Planning हम सामान्यतः मार्च में ही करना चाहते हैं। इसको अगर Proper तरीके से Financial Year के शुरू में करें तो अच्छे तरीके से, उपलब्ध विकल्पों पर विचार व Comparison करके अच्छी Planning कर सकते हैं।

मेरा स्पष्ट मानना है कि Tax Planning के लिये ELSS (Equity Linked Savings Schemes) सर्वोत्तम विकल्प मौजूद हैं। बाकी अन्य तरीके जैसे PPF, LIC Policies, Bank F.D. आदि भी हैं। Tax बचत के समय सामान्यतः निवेशक के मन में आता है कि Tax बचाने के साथ-साथ वह Risk Free Inflation से ज्यादा Return देने वाली Easily Transaction व कम समय के लिये Lock-in होनी चाहिये।

अगर हम समस्त उपलब्ध तरीकों पर बात करेंगें तो ELSS सर्वोत्तम Option है क्योंकि इसमें केवल तीन वर्ष का ही Lock-In होता है। बहुत Nominal Charges (Generally 1.25% – 1.50% वो भी NAV में Adjusted) होता है। Return भी प्रायः बाकी सब उपलब्ध विकल्पों से ज्यादा आते हैं। मेरी राय है कि निवेशकों को जिनका Time Horizon लम्बा है और जो अभी Young हैं ELSS में S.I.P के माध्यम से निवेश करना चाहिये। जिनके पास लम्बा समय नहीं है उनको ही Lump-Sum लगाना चाहिये। Lump-Sum जब भी बाज़ार अपने पिछले High से 10-15% Down हो लगा देना चाहिये जैसा कि इस समय है या अपने Financial Doctor की राय से 2-3 किश्तों में लगाना चाहिये।

Long Term Investors S.I.P के माध्यम से लगाते हैं तो उसका सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि Tax बचत के साथ-साथ Long Term में Wealth Create हो जाती है। लम्बे समय में शर्तिया Return भी बहुत अच्छे आते हैं। 3-4 वर्षों में हो सकता है कि Returns 8% -12% ही आ पाये लेकिन 5-10 वर्षों में Returns 12% से 18% आने के बहुत ज्यादा Chance होते हैं। S.I.P के द्वारा निवेश करने वाले इस बात को अच्छी तरह समझ लें कि हर किश्त 3 साल के लिये Lock होती है। उदाहरण किसी ने अप्रैल 2018 से 10,000/- प्रति माह की S.I.P – ELSS फण्ड में शुरू की तो वह अप्रैल – मई 2021 में केवल पहली किश्त का ही भुगतान ले सकता है। Last जमा किश्त का भुगतान 3 वर्षों के बाद ही ले पायेगा।

Lump-Sum Investors जमा रकम के 3 वर्षों के बाद एक साथ रकम निकाल सकता है। इसी कारण Senior Citizens को Lump-Sum लगाना चाहिये कारण उन्हें साामान्यतः पैसों की ज़रूरत रहती है अतः उन्हें Lump-Sum लगाना चाहिये।

ELSS Funds में भी 44-45 कंपनियों की स्कीमों मौजूद है। कभी कौन सी कंपनी का फण्ड अच्छा Perform करता है कभी दूसरी का। Fund Selection में आपके Financial Doctor का बहुत विशेष योगदान है। अगर आपने अपने Advisor से राय ली तो आपका Return 2%-5% Extra हो जाता है। ELSS में S.I.P के द्वारा Invest करने वाले निवेशक को 18-24 माह के बाद अपने Advisors के साथ बैठकर Review अवश्य करना चाहिये। अगर Scheme अच्छा Perform नहीं कर रही है तो उसे अपने Advisor की राय से Scheme Change कर लेनी चाहिये।

निष्कर्ष यह है कि Tax बचाने के काफी तरीके मौजूद हैं लेकिन ELSS ही सबसे आकर्षक विकल्प है। लेकिन सही ELSS के चुनाव के लिये आपके पास एक अच्छा Financial Doctor ज़रूर होना चाहिये।

sodhani-1 TAX बचाने के तरीके (ELSS FUND)ये लेख फाइनेंशियल एडवाइजर श्री राजेश कुमार सोढानी, सोढानी इंवेस्टमेंट्स, जयपुर द्वारा प्रस्तुत है। फाइनेंशियल प्लानिंग पर आधारित ये लेख आपको कैसा लगा? अगर इस लेख से आपको कोई भी मदद मिलती है तो हमें बहुत खुशी होगी। अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे। हमारी शुभकामनाएँ आपके साथ है, हमेशा स्वस्थ रहे और खुश रहे।

“रिटायरमेंट प्लानिंग क्या है और क्यों जरूरी है?”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment