विश्व का सबसे ठंडा स्थान, साल में बस 2 बार उगता है सूरज

3602
विश्व का सबसे ठंडा स्थान

क्या आप जानते हैं विश्व की सबसे ठंडी जगह कौनसी है ? आइये आपको बताते हैं, अंटार्कटिका स्थित साउथ पोल को कहा जाता है सबसे ठंडी जगह। यहाँ 1983 में टेम्परेचर माइनस 89.2 डिग्री सेल्सियस आंका गया था।

आइये आपको दुनिया की इस सबसे ठंडी जगह के बारे में कुछ और जानकारियां देते हैं जिनके बारे में शायद आप नहीं जानते होंगे और ये बातें जानकर आप भी आश्चर्यचकित रह जायेंगे।

* यहां साल में सिर्फ 2 बार सूरज उगता और डूबता है।

* नॉर्वे के कैप्टल रोआल्ड एमंडसन साउथ पोल पर कदम रखने वाले पहले इंसान थे। वे दिसंबर 1911 में यहाँ पहुंचे।

* यहां पर दूसरी जगहों के मुकाबले सबसे तेज हवाएं चलती हैं। यहाँ हवा की स्पीड 320km/h तक पहुँच जाती है।

* पृथ्वी पर जितना भी फ्रेश वाटर है उसका 70 फीसदी हिस्सा अंटार्कटिका पर है। पृथ्वी पर जितनी फ्रेश वाटर आइस है उसका 90 फीसदी हिस्सा यहाँ है।

* अगर अंटार्कटिका का वेस्टर्न हिस्सा पिघला तो समुद्र का लेवल करीब 16 फ़ीट बढ़ जायेगा।

* अंटार्कटिका की बर्फ की एवरेज थिकनेस करीब 1.6 किमी होती है।

* अगर अंटार्कटिका के आइलैंड और फ्लोटिंग आइस को मिला दिया जाये तो इसका एरिया1.4 करोड़ स्क्वायर किमी हो जायेगा।

* यहाँ के गेमबर्टसेव माउंटेंस 9000 फ़ीट ऊँचे, 1200 किमी दायरे में फैले हुए हैं। इनका 15750 फ़ीट हिस्सा बर्फ में दफ़न है।

* अंटार्कटिका की बर्फ करीब 3.7 किमी नीचे बहुत बड़ी वोसटोक लेक है।

* पृथ्वी का सबसे ज्यादा एक्टिव वोल्केनो माउंट ऐरेबस यहीं है। यहीं पर पृथ्वी की सबसे बड़ी लावा लेक है।

* ये दुनिया की सबसे ठंडी जगह है, यहाँ का तापमान -89.2 तक चला जाता है।

“पहले विश्वयुद्ध से जुड़े कुछ रोचक और अनसुने तथ्य”
“अजीबोगरीब विश्व रिकार्ड्स के बादशाह हैं ये विचित्र जानवर”
“विश्व की पहली सुरंग जो पानी के जहाजों के लिए है”

Add a comment