दुनिया का सबसे खतरनाक किला

इतिहास के गर्भ में न जाने कितने रहस्य छुपे हुए हैं, आज उन्ही में से एक ऐसे ही रहस्य के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं। हम आज आपको भारत के सबसे खतरनाक किले के बारे में बताने वाले हैं जो कि पर्यटकों के लिए भी सुरक्षित नहीं है। वैसे तो भारत में एक से बढ़कर एक कई भव्य और दार्शनिक स्थल है और इन से भी बढ़कर कई ऐसे किले हैं जिन्हें देखकर पर्यटक मंत्र मुग्ध हो जाते हैं।

लेकिन यह किला सबसे खतरनाक किला है। महाराष्ट्र के माथेरान और पनवेल के बीच में स्थित यह कलावंती दुर्ग जिसे प्रबल गढ़ दुर्ग के नाम से भी जाना जाता है करीबन 2300 फीट ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। जहां पहुंचने के लिए एकमात्र जरिया है सिर्फ चट्टानों पर बनी हुई सीढ़ियां जिन पर चलकर जाना खतरे से खाली नहीं है।

अगर आपसे एक भी चूक हुई तो आप सीधा नीचे खाई में जाकर गिरेंगे यहां तक कि पकड़ने के लिए कोई रेलिंग भी नहीं है। आपको बता दें कि कलावंती दुर्ग भारत के प्राचीनतम किलों में से एक है इसका निर्माण बुद्ध काल के दौरान हुआ था।

पहले इस किले को मुरंजन दुर्ग के नाम से जाना जाता था लेकिन शिवाजी महाराज के आधिपत्य के बाद इसका नाम कलावंती दुर्ग रख दिया गया।

अगर आप ऊपर चढ़ने में कामयाब हुए तो यहां से चंदेरी, माथेरान, करनल और ईर्शल के किले भी नजर आते हैं और इतना ही नहीं यहां से आपको मुंबई शहर दिख जाएगा। बरसात के समय में खूबसूरती देखते ही बनती है।

यह बताया जाता है कि इस दुर्ग पर सबसे कम पर्यटक आते हैं और जो लोग आते भी हैं वह सनसेट के बाद यहां से चले जाते हैं। असल में यहां की चढ़ाई इतनी कठिन है की कोई भी इंसान ज्यादा वक्त तक यहां पर टिके रहना नहीं चाहता। साथ ही बिजली पानी की कोई व्यवस्था नहीं है और जंगल में स्थित होने के कारण यहां पर लोग ज्यादा देर तक रुकते नहीं है। इस किले की सीढ़ियां चट्टाने काटकर बनाई गई हैं और इन सीढ़ियों से फिसल कर अभी तक कई लोगों की मृत्यु भी हो चुकी है।

“तंबाकू के खतरनाक नुकसान”
“ज़्यादा नमक है सेहत के लिए ख़तरनाक”
“जानिए कौनसा नशा कितना खतरनाक है ?”

शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment