ये मनोवैज्ञानिक तथ्य काफी हैं हर व्यक्ति की परफेक्ट पहचान करने के लिए

अक्सर हम लोगों के व्यक्तित्व से धोखा खा जाते हैं, जो जैसा दिखता है वैसा होता नहीं है। आपको ये बात जानकर अजीब लगे लेकिन अक्सर खुश रहने वाले इंसान बाकी लोगों से ज्यादा उदासीन होते है। ऐसे ही कुछ मनोवैज्ञानिक तथ्य हैं जो इंसान के परफेक्ट व्यक्तित्व को जानने में बेहद सहायक हैं।

Visit Jagruk YouTube Channel

1. हंसी मजाक करने वाले लोग वास्तव में दूसरे लोगों की तुलना में अधिक उदास होते हैं।

2. सिंगिंग आपको उदासी से छुटकारा दिलाती है।

3. आधुनिक जीवन शैली में इंटरनेट की लत एक मानसिक विकार है।

4. चॉकलेट और शॉपिंग की लत LSD और ड्रग्स जैसे नशे की तुलना में अधिक है।

5. गले मिलना दो लोगों के बीच विश्वास विकसित करने में मदद करता है।

6. आप जीवन में सभी नकारात्मक बातों या विचारों से दूर रहने के लिए संगीत का उपयोग कर सकते हैं।

7. आपका मस्तिष्क एक शारीरिक दर्द की तरह अस्वीकृति लेता है।

8. आपका पसंदीदा गाना आपको इसलिए पसंद होता है क्योंकि वो कहीं ना कहीं वो आपकी निजी जिंदगी से कोई ताल्लुक रखता है और वो आपको भावनात्मक घटना में ले जाता है।

9. जितना अधिक समय आप दूसरों के साथ गुजरते हो उतना ही अधिक आप ख़ुशी महसूस करते हो।

10. जो लोग दूसरों पर ज्यादा खर्च करते हैं वो उतने ही ज्यादा खुश रहते हैं।

11. 90% लोग मैसेज़ में वही बातें लिखते हैं जिन्हे वो कह नहीं पाते।

12. इंसान 18 से 33 साल की उम्र के बीच सबसे अधिक तनाव में रहता है।

13. आधे से ज्यादा समय हमारा दिमाग सिर्फ हमारी पुरानी यादें दोहराता रहता है।

14. जब कोई हमे नजरअंदाज करता है तो हमारे शरीर में वही केमिकल रिलिज़ होता हैं जो चोट लगने पर होता है।

15. ज्यादा हंसने वाले लोग ज्यादा दर्द सहन करने की क्षमता रखते हैं।

“जानिए अच्छे श्रोता होने के गुण और फायदे”