यह बाजार पानी में तैरते है

आप सभी ने अपने जीवन में कई प्रकार के बाजार देखे होंगे लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसे बाजार बताने वाले हैं जो पानी में तैरते हैं। सुनकर हैरान मत होइए यह सत्य है और अगर आप यह सोच रहे हैं कि यह बाजार विदेशों में ही संभव है तो ऐसा नहीं है। इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको यह भी पता चल जाएगा कि भारत में भी पानी पर तैरने वाला बाजार है। तो चलिए इन बाजारों के बारे में विस्तारपूर्वक जानते हैं।

Damnoen Saduak Floating Market, Thailand

आपको बता दें कि थाईलैंड में वैसे तो कई सारे फ्लोटिंग मार्केट है। लेकिन यह बाजार सबसे खास है इस बाजार में हर दुकानदार के पास अपनी नाव है जिस पर वह अपने सब्जी और फल बेचता है। इस बाजार में ज्यादातर इसी प्रकार का सामान मिलता है जो कि इन्हीं दुकानदारों द्वारा उगाया जाता है। इस बाजार के पीछे भी एक इतिहास है यहां के राजा राम के शासनकाल मैं इस जगह में कोई नहर नहीं थी राजा ने सैनिकों द्वारा स्थानीय लोगों की मदद से नहर का निर्माण कराया और तभी से इस नहर में यह बाजार चलाया जा रहा है।

Can Thao City, Vietnam

यह बाजार शहर से करीबन 3 किलोमीटर दूर स्थित है और यह बहुत ही बड़ा फ्लोटिंग मार्केट है। यहां पर सैकड़ों नावों के ऊपर खाने-पीने से लेकर फल-सब्जी तक बेचीं जाती है। दुकानदार बांसों के सहारे अपना सामान हवा में टांग देते हैं जिससे कि वह सामान खरीदारों को दूर से ही दिख जाए। यह बाजार सुबह सुबह लग जाता है और अगर आप सुबह का लुत्फ उठाना चाहते हैं तो इस बाजार में जरूर जाएं।

Banjarmasin Floating Market, Indonesia

आपको बता देंगी यह बाजार बरितो नदी पर लगता है। यहां पर विभिन्न प्रकार की हस्तकलाए मसाले फल और सब्जियां बेची जाती हैं और यहां पर आने के बाद आप को निराशा का अनुभव नहीं होगा।

Aberdeen Floating Village, Hong Kong

यह अन्य बाजारों से कुछ अधिक ही है। यहां करीबन 680 नाव है जिसमें करीबन 6000 लोग निवास करते हैं। यह बताया जाता है कि 7 वीं और 9 वी शताब्दी के आसपास यह बाजार शुरू हुआ था और यह लोग यहां आकर बसे थे। मछली पकड़ना यहां के लोगों की संस्कृति में शामिल है इस बाजार में कई रेस्टोरेंट्स भी मिल जाएंगे जहां पर आप सी फूड का तुत्फ़ उठा सकते हैं।

Srinagar Floating Market, India

यह बाजार श्रीनगर की झील मैं सुबह 5:00 से 7:00 बजे तक लगता है। यहां पर फूल फल और सब्जियां आदि बेची जाती हैं। यहां पर ज्यादातर सामान आते ही बिक जाता है क्योंकि यह सामान बिल्कुल ताजा होता है। झील के इर्द-गिर्द करीबन 1250 एकड़ में सब्जियों की खेती की जाती है। यह बाजार लोग सामान खरीदने नहीं बल्कि यहां की संस्कृति देखने के लिए आते हैं।

शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment