10 बड़े भारतीय आविष्कार लेकिन लोग मानते हैं विदेशी

आप में से बहुत से लोग ऐसे होंगे जिन्हें कि भारतीय सभ्यता और उसके आविष्कारों की जानकारी पूरी तरह से नही होगी। इसी वजह से ऐसे लोगों को लगता है कि सारे आविष्कार विदेश में हुए हैं। भारतीयों ने किसी तरह का आविष्कार नहीं किया है। ऐसे में आज हम आपको बताते हैं उन 10 भारतीय आविष्कार के बारे में जिनके बारे में आपको पता नहीं होगा कि ये विदेशी नहीं बल्कि देसी हैं।

1. अस्त्र-शस्त्र – आपको धनुष-बाण के बारे में तो पता होगा कि इनका जनक भारत है। लेकिन क्या आपको पता है कि हमारे धर्म ग्रंथों में जिन आग्नेय अस्त्रों जैसे कि वरुणास्त्र, पाशुपतास्त्र, सर्पास्त्र, ब्रह्मास्त्र आदि अस्त्रों का वर्णन मिलता है वो आज के आधुनिक युग में बंदूक, मशीनगन, परमाणु बम और विषैली गैस के तौर पर जानी जाती हैं।

2. विमान – आप सभी ने किताबों में पढ़ा होगा कि राइट ब्रदर्स ने विमान की खोज की है। लेकिन यह भी सच है कि चौथी शताब्दी में ही महर्षि भारद्वाज ने विमान शास्त्र के बारे में लिखा था। जिसमें विमान के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई है। इसमें हवाई युद्ध के बारे में भी लिखा गया है।

3. पहिया – आज से तकरीबन 5000 साल पहले रामायण और महाभारत काल में पहिए का वर्णन मिलता है। इसी वजह से इस बात में कोई शक नहीं है कि ईरान ने नहीं बल्कि भारत पहियों का आविष्कारक देश है।

4. सर्जरी – सर्जरी आजकल आम है। बहुत से लोगों की रोजाना सर्जरी होती रहती है लेकिन क्या आपको पता है कि 1000 ईसा पूर्व ही महर्षि सुश्रुत ने अपने समय के चिकित्सकों के साथ मिलकर अंग लगाने, पथरी का इलाज करने और प्लास्टिक सर्जरी के जरिए रोगी को स्वस्थ करने की तकनीक खोज ली थी।

5. ज्योमैक्ट्री (ज्यामिती) – ग्रीस के मशहूर गणितज्ञ पाइथागोरस ने पाइथागोरस थियोरम के फॉर्मूले की खोज की थी लेकिन इससे काफी पहले प्राचीन भारत के गणितज्ञ बौधायन ने ज्यामिती के महत्वपूर्ण फॉर्मूलों की खोज कर ली थी। इस बात से बहुत लोग इसलिए अंजान हैं क्योंकि उस समय रेखागणित को भारत में शुल्व शास्त्र के नाम से जाना जाता था।

6. बिजली – माइकल फैराडे को आप सभी बिजली का और थॉमस अल्वा एडिसन को बल्ब का जनक मानते हैं। लेकिन इस आविष्कार को महर्षि अगत्स्य ने इन दोनों से पहले कर लिया था।

7. रेडियो – रेडियो का आविष्कारक मार्कोनी को माना जाता है। लेकिन जगदीश चंद्र बसु ने ब्रिटिश काल में इसकी खोज कर ली थी। उनकी ही किताब में लिखे नोट्स के आधार पर मार्कोनी ने रेडियो को बनाया था।

8. व्याकरण – 500 ईसा पूर्व महर्षि पाणिनी ने सबसे पहले व्याकरण को लिखा था। आपको यह बात जानकर हैरानी होगी कि एक शोध के अनुसार कंप्यूटर के लिए सबसे उपयुक्त भाषा संस्कृत है।

9. ग्रुत्वाकर्षण – बेशक किताबों में लिखा है कि न्यूटन ने ग्रुत्वाकर्षण की खोज की है। लेकिन प्राचीन भारत के मशहूर गणितज्ञ और खगोलशास्त्री भास्कराचार्य ने एक ग्रंथ लिखा जिसमें ग्रुत्वाकर्षण के नियम के बारे में बताया गया था।

10. बटन – अमूमन आज के समय में हम जो कपड़े पहनते हैं उनमें बटन लगे होते हैं। बटन का आविष्कार भारत में हुआ था और इसका पता मोहनजोदड़ो की खुदाई में चला था। सिंधु नदी के किनारे भारत की पहली सभ्यता 2500-3000 साल पहले रहा करती थी।

ये थे वो 10 भारतीय आविष्कार जिन्हे आप आज तक विदेशी समझते थे। इनके बारे में पढ़कर आपको इस बात का अहसास हो गया होगा कि भारत की सभ्यता कितनी रिच है। इसलिए भारतीय होने पर गर्व करें।

“जानिए कैसे हुआ था हेलीकॉप्टर का आविष्कार”
“कुछ ऐसे आविष्कार जो अनजाने में हुए”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।