टीवी खरीदने से पहले ध्यान रखे ये बातें

एंटरटेनमेंट का एक बहुत बढ़िया जरिया टीवी होता है। आज भले ही मोबाइल और इंटरनेट का जमाना आ गया है लेकिन फिर भी टीवी का महत्त्व कम नहीं हुआ है और इसी कारण मार्केट में हर साइज और फरमाइश के टीवी आसानी से उपलब्ध हैं। अब ये आपको तय करना होता है कि आपको कैसा टीवी चाहिए। स्मार्ट टीवी, LED, OLED, 4K या HDR टीवी? हो सकता है कि इतने ऑप्शन जानकर आप हैरान रह गए हों। ऐसे में क्यों ना, आज इसी बारे में बात करें कि टीवी खरीदते समय किन जरुरी बातों पर गौर किया जाये। तो चलिए, आज आपको बताते हैं टीवी खरीदने से पहले ध्यान रखी जाने वाली बातों के बारे में–

टीवी का साइज – भले ही आपका मन बड़ी साइज का टीवी खरीदने का करता हो लेकिन टीवी खरीदने से पहले ये देख लेना जरुरी है कि टीवी को कहाँ रखा जाएगा। बैडरूम या ड्राइंग रूम में जहाँ भी टीवी रखा जाएगा, उस कमरे का साइज और टीवी का साइज आपस में फिट बैठने चाहिए, तभी आपको टीवी देखने का पूरा मजा आ सकेगा।

डिस्प्ले क्वालिटी – टीवी का डिस्प्ले जब तक अच्छा ना हो तब तक टीवी देखने का मजा नहीं आता। आज मार्केट में HD से लेकर 4K यानी HD से आठ गुना बेहतर पिक्चर क्वालिटी वाले टीवी मौजूद हैं। ऐसे में अगर आप एक अच्छा बजट रखते हैं और बढ़िया डिस्प्ले क्वालिटी चाहते हैं तो आपके लिए मार्केट में ढेरों विकल्प मौजूद हैं।

अगर आप 3D टीवी लेने का मन बना रहे हैं तो – अगर आप 3D टीवी खरीदने का इरादा बना चुके हैं तो आपको एक्टिव 3D और पैसिव 3D में से भी एक को चुनना होगा। एक्टिव 3D टीवी में 3D ग्लासेस का इस्तेमाल किया जाता है। इन्हें टीवी से सिंक्रोनाइज करना होता है। इनसे टीवी की कीमत बढ़ जाती है जबकि पैसिव 3D टीवी पोलराइज्ड ग्लास का इस्तेमाल करते हैं। ये सस्ते भी होते हैं और आँखों को भी आराम पहुंचाते हैं। सीमित बजट और सामान्य क्वालिटी का टीवी लेते समय पैसिव 3D टीवी लेना बढ़िया ऑप्शन हो सकता है।

कनेक्टिविटी – अगर आप स्मार्ट टीवी लेना चाह रहे हैं तो ये जानना जरुरी है कि क्या टीवी हार्ड डिस्क सपोर्ट करेगा, USB से फाइल प्ले करने में कितना टाइम लगेगा, HD कंटेंट ऑनलाइन देखने पर क्वालिटी पर कितना असर पड़ेगा और क्या स्मार्ट टीवी MP4, AVI, MKV जैसे कॉमन वीडियो फॉर्मेट्स सपोर्ट करेगा? इन सारे सवालों की पड़ताल करके ही आप स्मार्ट टीवी खरीदें।

टीवी का ऑडियो – आजकल स्मार्ट टीवी लगातार स्लिम होते जा रहे हैं और इनके स्पीकर्स भी छोटे और हल्के आने लगे हैं। ऐसे में आप रूम, हॉल या होम थिएटर में से जहाँ भी ये स्मार्ट टीवी लगाने की सोच रहे हैं, उसकी जरुरत के अनुसार टीवी में स्पीकर्स हैं या नहीं, ये जरूर देख लें तभी आप टीवी के साउंड का मजा ले सकेंगे।

व्यूइंग डिस्टेंस – टीवी को देखने का तरीका भी सही होना जरुरी है। कुछ लोग पास बैठकर टीवी देखते हैं जबकि कुछ लोग बहुत दूर बैठकर टीवी देखते हैं। टीवी की साइज और डिस्प्ले क्वालिटी के हिसाब से उसे सेट किया जाना चाहिए। 42 इंच के फुल HD टीवी में सही व्यूइंग डिस्टेंस 8 से 10 फीट होगा जबकि 46 इंच स्क्रीन वाले फुल HD टीवी में डिस्टेंस 10 से 12 फिट होगा।

दोस्तों, आज का मार्केट उस जिन्न की तरह हो गया है जिससे आप जो फरमाइश करेंगे, वो आपके सामने उसे तुरंत पूरी कर देगा और अब तो आप जान चुके हैं कि एक बढ़िया टीवी में क्या-क्या खासियतें होनी चाहिए। तो बस, अपने बजट और जरुरत के हिसाब से अपने इस जिन्न जैसे मार्केट से पसंदीदा टीवी की फरमाइश करके देखिये, आपकी फरमाइश तुरंत पूरी हो जाएगी और उम्मीद है कि अब आप अपने लिए परफेक्ट टीवी का चुनाव आसानी से कर सकेंगे।

पावर बैंक खरीदते समय ध्यान रखें ये बातें

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।