ब्रम्हांड के अनसुने रहस्य

1234

जितने रहस्य हमारी धरती में मौजूद है उतने ही रहस्य ब्रम्हांड में भी छिपे हैं। इस ब्रम्हांड में कई अलग-अलग तरह के ग्रह हैं और सभी ग्रहों की अपनी एक खासियत है। कोई ग्रह हीरों का भण्डार कहा जाता है तो कोई आग का गोला। आइये जानते हैं ब्रम्हांड के कुछ ऐसे ही रोचक तथ्य जिन्हें शायद आपने आज से पहले कभी नहीं सुना होगा।

विशाल छल्ला

धरती से करीब 434 प्रकाश वर्ष दूर एक बड़ा सा ग्रह है जिसे वैज्ञानिकों ने J1407B नाम दिया है। वैज्ञानिकों की माने तो यह है आकार में बृहस्पति और शनि से भी लगभग 40 गुना बड़ा है। इस ग्रह के चारों तरफ करीब 12 करोड़ किलोमीटर का एक छल्ला बना है, वैज्ञानिकों का कहना है कि J1407B में चंद्रमा बनने जा रहा है।

पानी नहीं, सिर्फ बर्फ या गैस

यह बात शायद आपको अचंभित कर दे लेकिन ग्लिश 436बी नामक ग्रह अपने ही तारे के बहुत नजदीक घूमता है और यही कारण है कि इसकी सतह का तापमान करीब 439 डिग्री तक हो जाता है। इस गृह पर पानी नहीं है सिर्फ बर्फ है जो इस गृह की सतह पर भयंकर तापमान की वजह से टूटकर गैसों में परिवर्तित हो जाती है और इसी कारण इस ग्रह के आस-पास हर समय हाइड्रोजन के बादल बने रहते हैं।

तारकोल ही तारकोल

ब्रह्मांड में एक ग्रह ऐसा भी खोजा गया है जो अपने तारे से मिलने वाली रोशनी का सिर्फ 1% ही परिवर्तित करता है। यही कारण है कि इसे अब तक का सबसे काला ग्रह कहा जाता है। वैज्ञानिकों ने इस गृह का नाम ट्रेस-2b रखा है। इस ग्रह की सतह पर विषैला तारकोल और इनसे निकलने वाली गैस ही है।

सूरज वाला ग्रह

इस ब्रम्हांड में एक ऐसा अनोखा ग्रह भी है जहां तीन सूरज निकलते हैं। इस ग्रह की खोज करने वाले पोलैंड के वैज्ञानिकों ने इस ग्रह को HD 188 753 Ab नाम दिया था।

हीरों की खान वाला ग्रह

55 कैंक्री नामक इस ग्रह में कार्बन का भंडार है और वैज्ञानिकों का मानना है कि इस ग्रह की सतह पर हीरों का भंडार है। लेकिन वैज्ञानिक अभी तक वहां पहुंच नहीं पाए हैं क्योंकि वहां का तापमान करीब 1700 डिग्री है।

खूबसूरत लेकिन घातक गृह

नीले रंग का HD189733 नामक यह ग्रह दिखने में बेहद खूबसूरत है लेकिन यहां जीवन संभव नहीं है क्योंकि यहां का तापमान 1000 डिग्री से भी ज्यादा है। इसके अलावा यहां 7000 किलोमीटर प्रति घंटे की तेजी से खगोलीय बारिश भी होती रहती है।

धरती जैसा ग्रह

वैज्ञानिकों ने एक ऐसे ग्रह की खोज कि जो एकदम धरती जैसा दिखता है। वैज्ञानिकों ने इस ग्रह का नाम ग्लिश 581 C रखा। माना जा रहा था कि इस ग्रह पर भी जीवन संभव है लेकिन धीरे-धीरे मिली जानकारी और खोज में यह पाया गया कि यह ग्रह गुरुत्व बल के संघर्ष में फंसा है और इसी कारण इसका एक हिस्सा हमेशा प्रकाश की तरफ ही रहता है और इस वजह से यहाँ जीवन शायद संभव नहीं है।

हॉट टब

GJ1214b नामक यह ग्रह किसी गर्म पानी के टब जैसा है। यहां का तापमान करीब 230 डिग्री सेल्सियस रहता है और इसी कारण यह ग्रह लगातार भाप और बादल छोड़ता रहता है।

Source

“दुनिया की 9 रहस्यमयी जगह जहां हम नहीं जा सकते”
“भारत की 10 सबसे रहस्यमयी जगहें”
“दुनिया का सबसे रहस्यमय देश”

Add a comment