विटामिन ए के स्रोत

अगस्त 20, 2018

विटामिन ए हमारे शरीर के लिए आवश्यक विटामिनों में से एक है जो वसा में घुलनशील होता है और आँखों की रोशनी बढ़ाने, हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूत बनाने में सहायक होता है। ये आमतौर पर रेटिनॉइड और कैरोटिनॉइड के रूप में पाया जाता है। विटामिन ए में पोषक तत्वों की एक विस्तृत शृंखला होती है और हर पोषक पदार्थ से मिलने वाला फायदा अलग होता है। शरीर के सभी अंगों के सही तरीके से काम करने के लिए भी इस विटामिन की जरुरत होती है। ऐसे में विटामिन ए के स्रोत और इस विटामिन से मिलने वाले फायदों के बारे में जानना आपके लिए भी फायदेमंद साबित हो सकता है। तो चलिए, आज इसी बारे में बात करते हैं–

विटामिन ए के स्रोत – गाजर, चुकंदर, शलजम, शकरकंद, मटर, टमाटर, ब्रोकली, साबुत अनाज, हरी पत्तेदार सब्जियां, धनिया, पीले या नारंगी रंग के फल, गिरीदार फल, आम, तरबूज, पपीता, चीकू, पनीर, सरसों, राजमा और बीन्स में पर्याप्त मात्रा में विटामिन ए पाया जाता है।

आइये, अब विटामिन ए से मिलने वाले फायदों के बारे में जानते हैं-

शराब का सेवन करने वालों और शाकाहार करने वालों के शरीर को विटामिन ए की ज्यादा मात्रा की जरुरत होती है। इसके अलावा लीवर की बीमारियों से ग्रस्त लोगों और सिस्टिक फाइब्रोसिस से पीड़ित लोगों को भी विटामिन ए की ज्यादा मात्रा की आवश्यकता होती है।

विटामिन ए की उचित मात्रा शरीर के लिए बहुत जरुरी होती है लेकिन इस मात्रा का संतुलित होना भी आवश्यक होता है। विटामिन ए की अधिकता होने पर ये ‘विटामिन के’ के अवशोषण को प्रभावित करता है। इसकी ज्यादा मात्रा सिरदर्द, थकान, देखने में परेशानी होना, बालों का गिरना, त्वचा का ख़राब होना, हड्डी और जोड़ों में दर्द होने जैसी कई समस्याएं पैदा कर सकता है।

दोस्तों, अब आप जान चुके हैं कि विटामिन ए हमारे शरीर के लिए कितना फायदेमंद और जरुरी होता है इसलिए इसकी उचित मात्रा का सेवन जरूर करिये। उम्मीद है कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

हमने आपसे सिर्फ ज्ञानवर्धक जानकारी साझा की है। अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर ले। सदैव खुश रहे और स्वस्थ रहे।

“एंटीबायोटिक क्या होती हैं और ये हमारे शरीर पर कैसे काम करती हैं?”

अगर आप हिन्दी भाषा से प्रेम करते हैं और ये जानकारी आपको ज्ञानवर्धक लगी तो जरूर शेयर करें।
शेयर करें