पानी की बोतल पर एक्सपायरी डेट क्योँ आती है?

बाजार में मिलने वाला पानी हम सबने अपने जीवन में कभी न कभी इस्तेमाल किया होगा। यह बात भी किसी को समझाने की जरूरत नहीं है की पानी की बोतल पर एक्सपायरी डेट भी आती है। मगर क्या कभी आपने सोचा है की ऐसा क्योँ होता है जबकि पानी तो कभी ख़राब ही नहीं होता तो यह एक्सपायरी डेट किस लिए। तो चलिए आज आपको इस बारे में जानकारी देते है।

यह पानी नहीं है जो ख़राब हो जाता है यह पानी को पैक करने की अवस्था के कारक हैं जो पानी को कुछ समय के बाद ख़राब कर देते है। अगर सही शब्दों में कहा जाये तो सूरज की रौशनी पड़ने से बोतल का प्लास्टिक कुछ ऐसे रसायन छोड़ता है जो पानी को कुछ ही समय में ख़राब कर देते है।

अगर आप इस खतरे से बचना चाहते है तो पानी की बोतल को कभी भी सूरज की रौशनी में नहीं आने दे उस से आप इस पानी को कुछ समय तक ख़राब होने से बचा सकते है। मगर यह बात ध्यान रहे की आप सामान्य रूप से यह कभी नहीं पता लगा पाएंगे की पानी ख़राब है या साफ है। इसी लिए पानी को एक्सपायरी डेट के बाद इस्तेमाल न करें यह आपको बहुत नुकसान पंहुचा सकती है।

इस प्रकार का पानी पीने से कैंसर भी हो सकता है जो की एक जानलेवा रोग है। इसीलिए सुरक्षा ही बचाव है। आपको यह लेख केसा लगा हमे जरूर बताएं आपके द्वारा दी गयी प्रतिक्रिया हमारा उत्साह बढाती है।

“मटके का पानी सेहत के लिए अति उत्तम क्यों हैं”

“जानिए गर्म पानी पीने के लाभकारी गुण”

“सुबह उठकर पानी पीने से होते हैं ये जबरदस्त स्वास्थ्य लाभ”