प्रधानमंत्री के बॉडीगार्ड के हाथ में ब्रीफकेस क्यों होता है?

आप सभी ने प्रधानमंत्री की सुरक्षा गार्ड तो जरूर देखे होंगे आपको बता दें कि यह जिम्मेदारी SPG को दी जाती है। SPG का फुल फॉर्म होता है स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप और इसकी स्थापना भी खासकर प्रधानमंत्री की सुरक्षा के लिए ही की गई है। आपको यह बात जानकर हैरानी होगी कि एसपीजी पूर्व प्रधानमंत्री के परिवार की भी सुरक्षा का ध्यान रखती है। प्रधानमंत्री किसी भी इलाके से गुजरे एसपीजी चप्पे-चप्पे की रखवाली करने में कारगर रहती है। लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि प्रधानमंत्री के बॉडीगार्ड के हाथ में ब्रीफकेस क्यों होता है? तो चलिए आज हम आपको इस बारे में विस्तारपूर्वक बताते हैं।

आपको बता दें कि वास्तव में यह सूटकेस न्यूक्लियर बटन होता है जिसे प्रधानमंत्री से कुछ फीट दूर रखा जाता है और यह सूटकेस बेहद पतला दिखता है। लेकिन असल में यह पोर्टेबल बुलेट प्रूफ शील्ड का काम भी कर सकता है एनआईजी लेवल 3 की सुरक्षा जिस भी इंसान को प्रदान की जाती है उसे यह सूटकेस दिया जाता है। इस सूटकेस में इतनी ताकत है यह किसी भी बैलेस्टिक मिसाइल को रोक सकता है और विशिष्ट व्यक्तियों को तत्काल सुरक्षा देने में यह पूर्ण रूप से कारगर है।

आपको बता दें कि SPG कैबिनेट सचिवालय के तहत आता है और महानिदेशक भारतीय पुलिस सेवा के अधिकार के तहत होता है। एसपीजी के कमांडो उसका चुनाव केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल और रेलवे सुरक्षा बल के जवानों में से किया जाता है। लेकिन इनकी कमान ips और आरपीएफ के अधिकारियों के हाथों में होती है। एसपीजी लगातार विशिष्ट व्यक्तियों की को सर्वोच्च सुरक्षा प्रदान करती आई है।

“समुद्र का पानी खारा क्यों होता है?”
“होठों का रंग शरीर के बाकी अंगों की स्किन से क्यों होता है अलग”
“पुलिस की वर्दी का रंग खाकी क्यों होता है?”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

अगर आप किसी विषय के विशेषज्ञ हैं और उस विषय पर अच्छे से लिख सकते हैं तो जागरूक पर जरुर शेयर करें। आप अपने लिखे हुए लेख को info@jagruk.in पर भेज सकते हैं। आपके लेख को आपके नाम, विवरण और फोटो के साथ जागरूक पर प्रकाशित किया जाएगा।
शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment