एलोवेरा क्यों है एक संजीवनी

आइये जानते हैं एलोवेरा क्यों है एक संजीवनी। एलोवेरा को सदा से ही एक संजीवनी औषधि माना गया है। आज हम आपको एलोवेरा के फायदे बताने जा रहे है जिन्हे जान के आप कुछ बिमारियों का आसानी से इलाज कर सकते है।

एलोवेरा क्यों है एक संजीवनी 1

एलोवेरा क्यों है एक संजीवनी

बिमारियों से लड़ने की ताकत – इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स बढ़ती उम्र का असर रोकते हैं। ये हानिकारक फ्री रेडिकल्स से लड़कर बिमारियों से बचाते हैं।

सर्दी जुकाम – एलोवेरा के पत्ते को भूनकर उसका जूस निकाल लें और इस जूस को आधे चम्मच एक कप गर्म पानी से मिलाकर पियें, सर्दी खांसी और जुकाम में फायदा होगा।

स्किन केयर – एलोवेरा का जूस फेसपैक की तरह लगाने से ड्राय स्किन, झुर्रियां, मुहांसे, दाग धब्बे जैसी स्किन प्रॉब्लम में फायदा होता है।

जोड़ों में दर्द – एलोवेरा जैल में हल्दी मिलाकर हल्का गर्म कर लें, इसे दर्द वाली जगह पर लगाएं। जोड़ों का दर्द, गठिया, मोच और सूजन में फायदा होगा।

इन्फेक्शन – एलोवेरा में मौजूद विटामिन्स और मिनरल्स हानिकारक बैक्टेरिया के अलावा फंगल और वायरल इन्फेक्शन से बचाते हैं।

कब्ज – रोज रात को एक कप एलोवेरा का जूस पीने से कब्ज में फायदा होता है, पेट की सफाई होती है और शरीर से गंदगी निकल जाती है।

फोड़े फुंसी और घाव – एलोवेरा के एक चम्मच जैल में एक चम्मच पिसी हल्दी मिलाकर घाव पर लगाएं। इसे फोड़े पर रखकर पट्टी बाँधने से फोड़ा पककर फूट जाता है।

उम्मीद है जागरूक पर एलोवेरा क्यों है एक संजीवनी कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

नकारात्मक सोच से छुटकारा कैसे पाएं?

जागरूक यूट्यूब चैनल