भारत के लिए क्योँ जरूरी है NSG की सदस्य्ता

398

(NSG) यानी न्यूक्लियर सप्लायर्स ग्रुप और इसकी सदस्यता भारत के लिए आज के दौर में अतिविशेष बन गयी है। आपको बता दें की इसी सन्दर्भ में नरेन्द्र मोदी की सरकार का असली परिक्षण होने वाला है क्योँकि यह बैठक 9-10 जून को आस्ट्रिया में होगी।

तो चलिए आपको बताते है की इस सदस्य्ता की भारत के लिए क्या एहमियत है।

1. NSG में शरीक किये जाने के बाद भारत भी कानूनी रूप से परमाणु हथियार संपन्न देश कहलाया जाएगा जिसका अंतर्राष्ट्रीय रूप से अपना ही महत्व है।

2. अगर भारत को यह सदस्य्ता मिल जाती है तो भविष्य में किसी भी परमाणु परीक्षण के लिए भारत पर आर्थिक प्रतिबंध नहीं लगाया जा सकेगा जैसा पहला कई बार हो चुका है।

3. भारत को आसानी से उन्नत परमाणु हथियार उपलब्ध हो जायेंगे जो सुरक्षा के लिहाज़ से बहुत अच्छा कदम होगा।

4. भारत में ऊर्जा का संकट हमेशा के लिए खत्म हो जायेगा।

5. अगर एस हो जाता है तो भारत का कद एशिया में बढ़ जायेगा जो की आर्थिक रूप से बहुत अच्छा होगा।

6. अगर कोई भी नया सदस्य रख जाएगा तो पहले भारत से जरूर पुछा जायेगा।

7. बिना किसी शर्त के Uranium का संवर्धन किया जा सकेगा।

हम आशा करते है की आपको यह जानकारी ज्ञानवर्धक लगी होगी अपनी प्रतिक्रिया अवश्य दें।

शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment