अगर आप एक लैपटॉप इस्तेमाल करने वाले यूजर हैं तो आपने यह चीज जरुर देखी होगी कि लैपटॉप चार्जर में एक काला गोल हिस्सा होता है। लेकिन आप में से शायद ही कोई हो जो यह जानता हो की यह क्या होता है और इसका क्या काम होता है। आप में से कई लोग ऐसे भी होंगे जो इसे बेकार समझते होंगे लेकिन आपको बता दें कि यह बहुत ही आवश्यक चीज है तो चलिए इसके बारे में विस्तारपूर्वक जानते हैं।

Today's Deals on Amazon

इस काले गोल हिस्से के कई नाम है इसे फेराइट बीड या फेराइट चोक या फेराइट सिलेंडर भी कहा जाता है। इसके अलावा इसे ब्लॉक्स, कोर्स, रिंग्स, ईएमआई फिल्टर्स या चोक्स भी कहा जाता है।

आपको बता दें कि यह एक प्रकार का इलेक्ट्रॉनिक सर्किट होता है। जो आने वाली हाई फ्रीक्वेंसी को कम करता है यानि यह फेराइट बीड हाई फ्रिक्वेंसी नाइस को दबाने का काम करता है। अगर आसान शब्दों में बताएं तो यह दोनों दिशाओं यानी एक डिवाइस की तरफ जानेवाली और आने वाली फ्रीक्वेंसी के व्यवधान को रोकता है अगर यह नहीं होगा तो आपका डिवाइस खराब भी हो सकता है।

यानी कि जब कंप्यूटर के अंदर डाटा केबल या मेडिकल उपकरणों की पावर केबल या चार्जिंग केबल लगी होती है तो यह उपकरण उन सभी की रेडियो फ्रीक्वेंसी से डिवाइस को बचाता है।

इस वजह से ही आप की कार्यप्रणाली पर कोई फर्क नहीं पड़ता। नहीं तो आसपास की रेडियो फ्रीक्वेंसी से आपकी स्क्रीन हिल सकती है झिलमिलाहट आ सकती है या आपको नॉइस दिख सकती हैं। इसीलिए यह नॉइस को कम करने में एक बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसके अलावा जब करंट पास होता है तो यह रेडियो एनर्जी बनाता है। इसके अंदर इतनी क्षमता होती है कि यह इन तारों से निकलने वाली रेडियो तरंगों के उत्पादन को रोक देता है और इस इलेक्ट्रिकल एनर्जी को बिना किसी नुकसान के चार्जिंग पर जाने देता है।

“जानिए क्यों होता है डैंड्रफ और इससे छुटकारा पाने के घरेलू उपाय”