हाथ न होते हुए भी जीता हैंडराइटिंग कॉम्पिटिशन

अनाया एल्लिक नामक इस नन्ही सी बच्ची ने हम सब के सामने एक बहुत ही बेहतरीन मिसाल पेश की है । मात्र 7 साल की अनाया के बचपन से ही दोनों हाथ नहीं है,इसके बावजूद भी वह कृत्रिम हाथों का उपयोग नहीं करती है। आप यह सुन के चौंक जायेंगे की अनाया ने अभी कुछ ही दिन पहले हुई एक राष्ट्रीय लिखावट प्रतियोगिता में जीत हासिल की है।

अनाया वर्जिनिया में रहती है , और वो पहली कक्षा में है। अनाया ने, देश भर से अये करीब 50 अन्य प्रतियोगियों को शिकस्त देते हुए, सर्वश्रेष्ठ निकोलस मैक्सिम विशेष पुरस्कार जीत लिया।

आपको बताते चलें की इस राष्ट्रीय लिखावट प्रतियोगिता का आयोजन एक शैक्षिक कंपनी, जनेर ब्लॉसर द्वारा कराया गया था। यह कंपनी करीब 25 सालों से इस प्रकार के आयोजन कराती आई है। इस प्रतियोगिता में पुरस्कार के तौर पर अनाया को 1,000 डॉलर, एक ट्रॉफी और एक सर्टिफिकेट मिला।

हम इस खबर के सन्दर्भ में बस यही कहना चाहेंगे की ज़िंदगी भी उनकी मदद करती है जो अपनी मदद खुद करना जानते है।

शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment